--Advertisement--

NRI दूल्हे का मां 20 लाख रु के गहनों से भरा बैग हुआ चोरी, अपनाई ये ट्रिक

दूल्हे की मां ॉने अपना बैग एक टेबल पर रखा था और रिश्तेदारों के साथ मुलाकात कर रही थी।

Danik Bhaskar | Dec 27, 2017, 05:28 AM IST
डेमोफोटो डेमोफोटो

अमृतसर. मजीठा-वेरका बाइपास पर चैलेट रिजोर्ट में चल रहे शादी फंक्शन में अज्ञात युवती दूल्हे की मां का बैग उठाकर फरार हो गई। उसके साथ एक युवक भी था। बैग में 20 लाख रुपए से ज्यादा के गहने और 2 से 3 तीन लाख रुपए की नकदी थी। ये वारदात मंगलवार दोपहर करीब 2 बजे की है।

ऐसे हुई थी चोरी

दूल्हे की मां राजप्रीत कौर ने अपना बैग एक टेबल पर रखा था और रिश्तेदारों के साथ मुलाकात कर रही थी। इसी दौरान शादी में घूम रही एक 20-22 साल की लड़की चुपके से बैग लेकर भाग गई। मामले की सूचना तुरंत चौकी मजीठा रोड बाइपास पुलिस को दी। पुलिस ने मौके का जायजा लेकर केस दर्ज कर लिया है।

बताया जाता है कि बैग में डायमंड के सेट, चेन, अंगूठियां आदि थीं। इनकी कीमत 20 से 25 लाख रुपए के करीब है। इसके अलावा ढाई से तीन लाख रुपए की नकदी है, मगर इस मामले में परिवार के किसी भी सदस्य ने जानकारी देने से मना कर दिया। चौकी इंचार्ज महिंदर सिंह ने कहा कि शिकायत मिलने पर केस दर्ज कर लिया है और लुटेरे लड़का-लड़के का पता लगाने के लिए कार्रवाई शुरू कर दी है। रिजोर्ट वालों से सीसीटीवी भी देने को कहा गया है। जल्द ही आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया जाएगा।

सीसीटीवी में बैग उठाकर भागती हुई दिखी लड़की, दूल्हे की मां को लगातार फॉलो कर रही थी

जानकारी के मुताबिक कत्थूनंगल के करीब गांव वैरोनंगल में रहते युवक अमृतपाल सिंह की मंगलवार को शादी थी। अमृतपाल सिंह और उसका पूरा परिवार एनआरआई है। सभी कैनेडा में रहते हैं। दूसरी तरफ दुल्हन का पूरा परिवार भी एनआरआई है और कैनेडा में ही सेटल है। दोनों परिवार कुछ दिन पहले ही भारत शादी करने के लिए आए थे। मंगलवार को रिजोर्ट में शादी समारोह था। दोनों परिवार शादी की खुशियां मना रहे थे। रिश्तेदारों का स्वागत किया जा रहा था। दूल्हा अमृतपाल की मां के हाथों में एक बैग था। वह भी शादी समारोह में परिवार और अन्य रिश्तेदारों के साथ अपनी खुशी साझा कर रही थी। इसी दौरान अज्ञात युवक-युवती लगातार राजप्रीत कौर को फॉलो कर रहे थे। वे इसी ताक में थे कि कब उनका ध्यान हटे और वह अपना हाथ साफ कर सकें।

रिजॉर्ट के आसपास घूम रही थी युवती

लुटेरी युवती लगातार राजप्रीत के आस-पास ही घूम रही थी। दोपहर के समय राजप्रीत कौर ने अपने कंधे से बैग उतारा और टेबल पर रख दिया और रिश्तेदारों के साथ व्यस्त हो गई। थोड़ी देर के बाद जब उन्होंने टेबल पर देखा तो वहां पर बैग नहीं था। तुरंत आस-पास चेक किया, मगर कहीं पर भी बैग नहीं मिला। इसके बाद रिजोर्ट में लगे सीसीटीवी को चेक किया तो उसमें एक लड़की बैग लेकर भागती हुई दिखाई दी।