Hindi News »Punjab »Amritsar» Board Examination Of Affiliated Schools

सीसीटीवी की निगरानी में होंगे एफिलिएटेड स्कूलों के बोर्ड एग्जाम, ये रहेगी तैयारी

शिक्षा विभाग ने ट्रांसपरेंसी के लिए एग्जाम सेंटर व इवेल्यूएशन सेंटर में माकूल बंदोबस्त की विशेष हिदायतें जारी की हैं।

bhaskar news | Last Modified - Dec 14, 2017, 05:50 AM IST

  • सीसीटीवी की निगरानी में होंगे एफिलिएटेड स्कूलों के बोर्ड एग्जाम, ये रहेगी तैयारी
    फाइल फोटो

    बठिंडा.पंजाब स्कूल शिक्षा बोर्ड से एफिलिएटेड स्कूलों में बोर्ड एग्जाम सीसीटीवी कैमरे की कड़ी निगरानी में होंगे। शिक्षा विभाग एफिलिएटेड प्राइवेट स्कूलों में दसवीं-बारहवीं की परीक्षाएं नकल रहित करवाने को लेकर गंभीर है, एफिलिएटेड स्कूलों में अक्सर नकल करवाने की शिकायतों के मद्देनजर शिक्षा विभाग ने ट्रांसपरेंसी के लिए एग्जाम सेंटर व इवेल्यूएशन सेंटर में माकूल बंदोबस्त की विशेष हिदायतें जारी की हैं।

    एफिलिएटेड स्कूलों के एग्जामिनेशन सेंटर ग्राउंड फ्लोर पर बनाने होंगे, जहां हरेक कमरे में सीसीटीवी कैमरे स्थापित हर एक्टिविटी की मानिटरिंग की जाएगी। वहीं एग्जाम सेंटर एंट्रेस की वीडियोग्राफी के अलावा कनवेंशन पेपर का बंडल खोलने से लेकर आंसर शीट को सील करने तक की वीडियोग्राफी का प्रावधान होगा। बोर्ड ने इस बार एग्जामिनेशन सेंटर का रोड मैप भी मंगवाया है ताकि सेंटर चेक करने जाने वाले निरीक्षक टीम को सेंटर ढूंढने के लिए जद्दोजहद का सामना न करना पड़े।

    ऑन रोड होंगे इवेल्यूएशन सेंटर वाले स्कूल

    हर जिले में मुख्य क्लस्टर स्कूलों में दसवीं के लिए 12 और बारहवीं के लिए 6 इवेल्युएशन सेंटर स्थापित किए जाएंगे। बोर्ड ने जिला वाइज बनने वाले इवेल्यूएशन सेंटर के लिए भी खास हिदायतें जारी करते हुए इवेल्यूएशन के लिए इस्तेमाल होने वाले स्कूलों की लिस्ट के साथ-साथ कमरों और हॉल की लंबाई-चौड़ाई का ब्यौरा मांगा है। आंसर शीट्स वाले कमरों में बिजली का कोई उपकरण रखने पर रोक है। इसी के साथ ही स्कूल ऑन रोड ही हो इससे कि आंसर शीट्स लेने के लिए आने वाला ट्रक आसानी से स्कूल में पहुंच सके। पेपर चैकिंग के लिए स्कूल के ही अध्यापकों को लगाने के साथ जरूरत पड़ने पर समीपवर्ती स्कूलों से भी अध्यापकों को ड्यूटी देनी होगी। आंसर शीट्स के डिस्पैच के समय रात को जिम्मेदार अध्यापक और कर्मचारी मौजूद रहेंगे।

    फरवरी के दूसरे सप्ताह होंगे बोर्ड एग्जाम

    शिक्षा विभाग इस बार फरवरी 2018 के दूसरे सप्ताह बोर्ड एग्जाम करवाने की तैयारियों में है और जनवरी में दसवीं-बारहवीं एग्जाम की डेटशीट भी जारी कर दी जाएगी। बोर्ड परीक्षा जल्द करवाने का मकसद समय पर परिणाम निकाला जा सके ताकि विद्यार्थियों को आगे कांपीटेटिव एग्जाम के लिए समुचित समय मिल सके, वहीं हायर क्लासेज में भी एडमिशन लेना सुगम हो। अक्सर मार्च के तीसरे सप्ताह में शुरू हुई बोर्ड परीक्षाएं मई तक चलती हैं जिसकी वजह से रिजल्ट मई-जून तक घोषित होता है, इस दौरान बच्चे मेडिकल-नान मेडिकल एंट्रेंस एग्जाम की तैयारी के सिलसिले में बाहरी शहरों में जा चुके हैं लेकिन परिणाम के कमजोर रहने पर उन्हें घोर निराशा होती है। इसी कड़ी में सीबीएसई के भी जनवरी के आखिरी अथवा फरवरी के पहले सप्ताह से बोर्ड एग्जाम शुरू हो जाएंगे।

    सेंटर पर कैमरे लगाने की हिदायत

    शिक्षा सचिव की हिदायत पर एफिलिएटेड स्कूलों में सीसीटीवी कैमरे लगाने के निर्देश दिए गए हैं। वहीं एग्जाम सेंटर एवं इवेल्युएशन सेंटरों की प्रस्तावित लिस्ट विभाग को मंजूरी के लिए भिजवाई गई है, विभागीय निर्देशानुसार एग्जामिनेशन सेंटरों में प्रबंध किए जाएंगे। भूपिंदर कौर, डिप्टी डीईओ सेकंडरी बठिंडा

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Amritsar

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×