--Advertisement--

शराब समझ कर रात को थिनर पीकर मरा युवक, फैमिली ने समझा है नशे का असर

रोजाना की तरह वह नशे में घर पहुंचा। उसके साथ उसका एक दोस्त भी था।

Dainik Bhaskar

Jan 07, 2018, 05:07 AM IST
डेमोफोटो डेमोफोटो

बठिंडा. माॅडल टाउन फेस-1 में स्थित दंगा पीड़ित कॉॅलोनी में रात को एक युवक शराब के नशे में घर में पड़ी थिनर से भरी बोतल पी गया। हालत खराब होने पर उसे परिजन सरकारी अस्पताल ले गए, जहां उसकी मौत हो गई। पुलिस ने 174 की कार्रवाई के बाद शव को परिजनों को सौंप दिया है। दंगा पीड़ित कॉॅलोनी के रहने वाले निक्कू ने बताया कि उसका भाई चांदी राम शराब पीने का आदि था। शुक्रवार को भी रोजाना की तरह वह नशे में घर पहुंचा। उसके साथ उसका एक दोस्त भी था।

दोनों ने घर में पड़ी थिनर शराब समझकर पी गए। थिनर पीने से चांदी राम सारी रात चिल्लाता रहा, उन्हें लगा कि वह अक्सर शराब पीकर रात को ऐसा करता है तो थोड़ी देकर चिल्लाकर सो जाएगा। रात 12.30 बजे के करीब चांदी राम को अचानक उल्टियां शुरू हो गईं। जब परिवार के लोग उसे देखने गए तो पता चला कि दोनों ने थिनर पी ली है। वे चांदी को तुरंत सरकारी अस्पताल ले गए, लेकिन कुछ समय बाद ही उसकी मौत हो गई।

सीधे तौर पर दिमाग में करता है अटैक
चिकित्सक डॉ. हरीश बांसल का कहना है कि थिनर का ज्यादा सेवन सीधे दिमाग पर अटैक करता है। इससे दिमाग की नसें सूखने लगती हैं और सोचने की क्षमता कम होती जाती है। याददाश्त का कमजोर होना, लीवर में गड़बड़ी और पेट व सीने में दर्द जैसी समस्या पैदा हो जाती है। यही नहीं अत्यधिक सेवन मौत का कारण बन जाता है।

X
डेमोफोटोडेमोफोटो
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..