अमृतसर

--Advertisement--

2 दिन बाद थी मैरिज एनिवर्सिरी, ताऊ के बेटे ने कनाडा में ऐसे किया भाई का कत्ल

गांव बजवाड़ा के रहने वाले एक व्यक्ति ने अपने ही चचेरे भाई को गाड़ी से टक्कर मार-मारकर उसका कत्ल कर दिया।

Dainik Bhaskar

Jan 02, 2018, 04:32 AM IST
2 जनवरी को गुरप्रीत की मैरिज एनिवर्सरी है। 2 जनवरी को गुरप्रीत की मैरिज एनिवर्सरी है।

होशियारपुर. कनाडा के बरम्पटन सिटी में निकटवर्ती गांव बजवाड़ा के रहने वाले एक व्यक्ति ने अपने ही चचेरे भाई को गाड़ी से टक्कर मार-मारकर उसका कत्ल कर दिया। कनाडा की मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक पुलिस ने उस शख्स को गिरफ्तार कर लिया है और बरम्पटन पुलिस ने जांच शुरू कर दी है। यह घटना भारतीय समय के अनुसार 31 दिसंबर दोपहर 12 बजे जबकि कनाडा के समय के अनुसार 30 दिसंबर की रात 1.45 की है। मरने वाला गुरप्रीत बरम्पटन में ट्रकिंग का काम करता था। बताया जा रहा है कि 2 जनवरी को गुरप्रीत की मैरिज एनिवर्सरी है।

- बजवाड़ा के रहने वाले रविंदर सिंह धामी और सुरिंदर सिंह धामी सगे भाई हैं। रविंदर के दो बेटे अवतार सिंह तारी और जगतार सिंह जग्गी के साथ-साथ सुरिंदर सिंह धामी का बेटा गुरप्रीत सिंह भी बरम्पटन सिटी में रहता था।

- गुरप्रीत जब कनाडा गया तो वह काफी समय अपने ताया के लड़के जगतार सिंह जग्गी के पास रहा। इसी बीच लगभग 6 महीने पहले गुरप्रीत की अपने ताया के बड़े लड़के तारी से किसी बात पर अनबन हो गई थी। 30 दिसंबर को इनकी फिर कहा-सुनी हुई।

- कनाडा की मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक तारी ने गुरप्रीत को उस रात फोन पर करोल बाग प्लाजा बरम्पटन बुलाया जो शहर के टार्बरम रोड और पीटर राबर्टसन बुलवार के नार्थईस्ट कार्नर पर स्थित है।

डॉज पिकअप पर गुरप्रीत का पहले से ही इंतजार कर रहा था तारी
- 34 साल का गुरप्रीत, जिसे सोनू भी कहा जाता था, तारी के दूसरे भाई जग्गी के साथ अपनी गाड़ी पर तारी के बुलाए करोल बाग प्लाजा बरम्पटन गया।

- जग्गी गाड़ी चला रहा था। वे दोनों वहां पहुंचे तो गुरप्रीत पहले गाड़ी से बाहर निकला। तारी वहां डॉज कंपनी के पिकअप पर गुरप्रीत का इंतजार कर रहा था।

- गुरप्रीत के गाड़ी से उतरते ही तारी ने उस पर गाड़ी चढ़ा दी। खून के प्यासे तारी ने गुरप्रीत को लगातार तीन बार हिट किया जिससे वह गंभीर रूप से घायल हो गया और अस्पताल पहुंचने से पहले ही उसकी मौत हो गई।

- जग्गी ने कनाडा पुलिस को बयान में बताया कि उसने दौड़कर पेड़ के पीछे छिपकर जान बचाई।

तारी को फर्स्ट डिग्री मर्डर केस का चार्ज लगाकर किया गिरफ्तार
कनाडा में छपने वाले बरम्पटन गार्जियन अखबार के मुताबिक 38 वर्षीय अवतार सिंह तारी को फर्स्ट डिग्री मर्डर केस का चार्ज लगाकर गिरफ्तार कर लिया गया है।

कनाडा पुलिस के अधिकारी बैली सैनी ने घटना को संदेहास्पद बताते हुए कहा कि जांच की जा रही है। जिस स्थान पर घटना हुई है, उस पार्किंग एरिया को सीज कर दिया गया है और जांच दल ने घटनास्थल से दोनों वाहनों के सैंपल उठाए हैं।

पिता का जन्मदिन, गुरप्रीत की थी मैरिज एनिवर्सरी
- गुरप्रीत सिंह दो बहनों का अकेला भाई था। उसकी बड़ी बहन सुखप्रीत कौर इंग्लैंड में रहती है और छोटी बहन मंदीप कौर की होशियारपुर में ही शादी हुई है।

- दुखद यह है कि 2 जनवरी को गुरप्रीत की मैरिज एनिवर्सरी है। गुरप्रीत के पिता सुरिंदर सिंह धामी 5-6 साल से अधरंग से पीड़ित हैं और एक जनवरी को उनका जन्मदिन था।

गांव बजवाड़ा के लोग सकते में, परिवार सदमे में
- बजवाड़ा गांव के लोगों को सिर्फ इतना ही जानकारी मिली है कि गुरप्रीत की कनाडा में मौत हो गई है।मर्डर की कहानी से लोग वाकिफ नहीं हैं।

- भास्कर टीम की ओर से उनके परिवार वालों से बात करने की कोशिश की गई तो उन्होंने इस मामले में ज्यादा कुछ नहीं बताया।

- गुरप्रीत अपने पीछे बीमार पिता, मां अमरपाल कौर और पत्नी (जो बजवाड़ा में ही रहती है), छोड़ गया है। उसके नाना-नानी भी बजवाड़ा में ही उनके घर रहते हैं।

गुरप्रीत का घर। गुरप्रीत का घर।
घटनास्थल पर खड़ी पुलिस की गाड़ियां और जांच करते कांस्टेबल बैली सैनी। घटनास्थल पर खड़ी पुलिस की गाड़ियां और जांच करते कांस्टेबल बैली सैनी।
जिस गाड़ी से गुरप्रीत को रौंद कर हत्या की गई। जिस गाड़ी से गुरप्रीत को रौंद कर हत्या की गई।
विदेशी पुलिस ऑफिसर। विदेशी पुलिस ऑफिसर।
X
2 जनवरी को गुरप्रीत की मैरिज एनिवर्सरी है।2 जनवरी को गुरप्रीत की मैरिज एनिवर्सरी है।
गुरप्रीत का घर।गुरप्रीत का घर।
घटनास्थल पर खड़ी पुलिस की गाड़ियां और जांच करते कांस्टेबल बैली सैनी।घटनास्थल पर खड़ी पुलिस की गाड़ियां और जांच करते कांस्टेबल बैली सैनी।
जिस गाड़ी से गुरप्रीत को रौंद कर हत्या की गई।जिस गाड़ी से गुरप्रीत को रौंद कर हत्या की गई।
विदेशी पुलिस ऑफिसर।विदेशी पुलिस ऑफिसर।
Click to listen..