अमृतसर

--Advertisement--

गुरुद्वारे पर कब्जे को लेकर 2 घंटे तक 100 राउंड फायर, कई गाड़ियों में लगाई आग

सूचना मिलने पर भारी संख्या में पुलिस फोर्स मौके पर पहुंची। बावजूद इसके गुरुद्वारा में घुसे आरोपी गोलियां चलाते रहे।

Dainik Bhaskar

Mar 14, 2018, 06:58 AM IST
firing for passation on gurudwara

तरनतारन. गांव मानोचाहल में गुरुद्वारा बाबा जोगी पीर पर कब्जे के लेकर मंगलवार को सुबह जमकर ईंट-पत्थर चले। 100 से ज्यादा फायर किए गए। कई गाड़ियां फूंक दी गईं। छह जख्मी हुए हैं। आरोप है कि निहंग जोधा सिंह ने सुबह 4 बजे अपने साथियों के साथ धावा बोला। जवाब में गांववालों ने भी ईंट-पत्थर चलाए। जोधा सिंह समेत 40 लोगों को गिरफ्तार किया गया है। गुरुद्वारे की देखरेख का जिम्मा कुछ साल पहले तक जोधा सिंह के पिता के पास था। उनकी मौत के बाद दूसरे को जिम्मेदारी दी गई, जो जोधा को मंजूर नहीं था।

जोधा हथियारबंद साथियों के साथ 2 घंटे करता रहा फायरिंग

गांव मानोचाहल में गुरुद्वारा बाबा योगी पीर पर कब्जा करने की कोशिश में पुलिस द्वारा गिरफ्तार जोधा सिंह पर कई आपराधिक मामले दर्ज हैं। वह कुछ दिन पहले ही जमानत पर रिहा होकर आया था। बताते हैं कि कुछ साल पहले गुरुद्वारा साहिब की देखरेख उसके पिता बलविंदर सिंह के पास थी। उनके निधन के बाद गुरुद्वारा साहिब की देखरेख के लिए गांव के लोगों ने जोधा सिंह की हरकतों को देखते हुए आत्मा सिंह की अगुवाई में 11 सदस्य कमेटी बना दी गई। मगर यह बात जोधा सिंह को मंजूर नहीं थी। वह हर हाल में गुरुद्वारा साहिब पर कब्जा करना चाहता था। इसी के तहत मंगलवार सुबह करीब 4 बजे जोधा सिंह अपने हथियारबंद साथियों के साथ गुरुद्वारा साहिब पहुंच गया। उन्होंने आते ही पहले ग्रंथी को वहां से बाहर निकाल दिया। इसके बाद कब्जा कर लंगर हाल वाले शैड में जाकर बैठ गए।

गुस्साए लोगों ने फूंक दिए आरोपियों के वाहन
घटना के बारे में जब गांव वालों को पता चला तो सभी लोग आरोपियों का विरोध करने के लिए पहुंच गए। जैसे गांव के लोग गुरुद्व‌ारा साहिब की तरफ बड़े तो आरोपियों ने उन पर गोलियांं चलानी शुरू कर दीं। इस पर गुस्साए लोगों ने भी आरोपियों पर पथराव शुरू कर दिया। लोगों ने उनके बाहर खड़े वाहनों को आग लगा दी और कुछ तोड़ दिए। जोधा सिंह और उसके साथी दो घंटे तक 100 से ज्यादा राउंड फायर किए।

500 पुलिस मुलाजिमों ने 8 घंटे बाद मुक्त कराया गुरुद्वारा

हालात नाजुक होती देख तरनतारन के एसएसपी दर्शन सिंह मान खुद करीब 500 पुलिस मुलाजिमों के साथ मौके पर पहुंचे अौर चारों तरफ से इलाके को घेर लिया। गांव के लोगों ने भी पुलिस का पूरा साथ देते हुए और आरोपियों को पकड़वाने में मदद की। आठ घंटे के बाद दोपहर 12 बजे तक पुलिस ने 40 आरोपियों को गिरफ्तार कर गुरुद्वारा साहिब को उनसे मुक्त करवा लिया। वहीं गुरुद्व‌ारा साहिब के आस-पास पुलिस फोर्स को तैनात किया गया है।

छह लोग जख्मी

सूचना मिलने पर भारी संख्या में पुलिस फोर्स मौके पर पहुंची। बावजूद इसके गुरुद्वारा परिसर में घुसे आरोपी लगातार गोलियां चलाते रहे। इससे छह लोग दिलबाग सिंह, दर्शन सिंह, भूपिंदर सिंह, गोरा पहलवान, प्रहलाद सिंह व मंदीप बुरी तरह से जख्मी हो गए। सभी की हालत खतरे से बाहर है।

firing for passation on gurudwara
firing for passation on gurudwara
firing for passation on gurudwara
X
firing for passation on gurudwara
firing for passation on gurudwara
firing for passation on gurudwara
firing for passation on gurudwara
Click to listen..