Hindi News »Punjab »Amritsar» Funeral Of 5 Family Members Together

एक चिता पर दोनों बहनें और दूसरी में विदा हुए पति-पत्नी, भर आईं सबकी आंखें

कार पेड़ से टकराने के कारण हुई थी मौत, ङायल बेटी की भी हुई थी मौत।

bhaskar news | Last Modified - Jan 17, 2018, 08:25 AM IST

  • एक चिता पर दोनों बहनें और दूसरी में विदा हुए पति-पत्नी, भर आईं सबकी आंखें
    +7और स्लाइड देखें
    परिवार के 5 सदस्यों का एक साथ संस्कार।

    होशियारपुर. 14 जनवरी को सड़क हादसे में एक ही परिवार के पांच लोगों की मौत की घटना भुलाए नहीं भूल रही है। इस कारण गांव बस्सी गुलाम हुसैन में पिछले तीन दिनों से गम का माहौल है। मंगलवार को दोपहर 2.50 बजे जब तीन चिताओं में पांचों मृतकों का एक साथ अंतिम संस्कार किया गया, तो वहां उपस्थित लोगों की आंखें भर आईं।

    - अंतिम संस्कार में जिले का कोई बड़ा नेता नहीं पहुंचा। पहली चिता में दोनों बच्चियां, दूसरी चिता में गुरदीप सिंह पत्नी कुलदीप कौर के साथ। तीसरी चिता में अमरीक सिंह का संस्कार किया गया।
    - अमरीक सिंह को मुखाग्नि दुबई से आए उनके भाई कुलविंदर सिंह ने दी। इस मौके पर बड़ी संख्या में गांव के लोग मौजूद थे।

    हादसे में घायल गनिका की इलाज दौरान सोमवार को मौत
    - 14 जनवरी को गांव बस्सी गुलाम हुसैन के एक ही फैमिली के पांच लोगों की गांव बूरे जट्टां के पास ओवर टेक करते हुए कार पेड़ से टकराने के कारण गुरदीप सिंह सैनी(38), पत्नी कुलदीप कौर (35), बेटी इशिका (4) और गुरदीप का चचेरा भाई अमरीक सिंह (55) की मौत हो गई थी।
    - गुरदीप की दूसरी बेटी गनिका (8) घायल हो गई थी। सोमवार को इलाज के दौरान उसकी भी मौत हो गई थी।

    गुरदीप सिंह की फैमिली और रिलेटिव दुख से बेहाल
    - जब संस्कार के लिए चिता को तैयार किया जा रहा था तो मृतकों के परिजनों का रो-रो कर बुरा हाल था।
    - चारों तरफ गम की चीखें गूंज रही थीं। महिलाएं एक दूसरे को लिपट-लिपट कर रो रही थीं।
    - अमरीक के बीमार पिता चन्नण सिंह जो अधरंग से पीड़ित हैं उनका भी गम से बुरा हाल था।
    - अमरीक सिंह की भाभी कमलजीत कौर, मंगलवार को इटली से गांव पहुंची। उनके भाई का चार साल पहले विदेश में देहांत हो गया था, अब घर की देख-रेख करने के लिए उनके घर में कोई नहीं बचा।

    आगे की स्लाइड्स में देखें फोटोज...

  • एक चिता पर दोनों बहनें और दूसरी में विदा हुए पति-पत्नी, भर आईं सबकी आंखें
    +7और स्लाइड देखें
    पति पत्नी और उनकी बेटी जिनकी डेथ हुई।
  • एक चिता पर दोनों बहनें और दूसरी में विदा हुए पति-पत्नी, भर आईं सबकी आंखें
    +7और स्लाइड देखें
    इस कार से हुआ था एक्सीडेंट।
  • एक चिता पर दोनों बहनें और दूसरी में विदा हुए पति-पत्नी, भर आईं सबकी आंखें
    +7और स्लाइड देखें
    अंतिम संस्कार में जिले का कोई बड़ा नेता नहीं पहुंचा।
  • एक चिता पर दोनों बहनें और दूसरी में विदा हुए पति-पत्नी, भर आईं सबकी आंखें
    +7और स्लाइड देखें
    गुरदीप सिंह की फैमिली और रिलेटिव दुख से बेहाल
  • एक चिता पर दोनों बहनें और दूसरी में विदा हुए पति-पत्नी, भर आईं सबकी आंखें
    +7और स्लाइड देखें
    इस मौके पर बड़ी संख्या में गांव के लोग मौजूद थे।
  • एक चिता पर दोनों बहनें और दूसरी में विदा हुए पति-पत्नी, भर आईं सबकी आंखें
    +7और स्लाइड देखें
    अमरीक सिंह के दुबई से आए भाई ने दी मुखाग्नि
  • एक चिता पर दोनों बहनें और दूसरी में विदा हुए पति-पत्नी, भर आईं सबकी आंखें
    +7और स्लाइड देखें
    कार पेड़ से टकरा गई थी।
आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए Amritsar News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: Funeral Of 5 Family Members Together
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

More From Amritsar

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×