अमृतसर

--Advertisement--

पुलिस को ऐसे पता चला था इंडिया में है गौंडर, गैंगस्टर ने वायरल कराई थी बात

नवंबर 2016 में पंजाब के नाभा जेलब्रेक के बाद से विक्की चर्चा में था।

Danik Bhaskar

Jan 28, 2018, 01:48 AM IST

बठिंडा. नाभा जेल से फरार होने के बाद चर्चा में आने वाले कुख्यात गैंगस्टर विक्की गौंडर का राजपुरा पुलिस ने राजस्थान के हिंदूमल कोट के गांव पक्का टिब्बी की टहनी में एनकाउंटर कर दिया। इसमें उसका साथी प्रेमा लाहौरिया और सुखप्रीत बुड्ढा भी मारे गए। गौंडर और लाहौरिया की मौके पर ही मौत हो गई, जबिक बुड्‌ढा ने हॉस्पिटल ले जाते समय दम तोड़ दिया। वायरल कराया था ये मैसेज...

- पुलिस जानती थी कि गौंडर विदेश नहीं भागा है और उसने अपने विदेश भागने की झूठी खबर वायरल करवाई है।
- असल में पुलिस को एक ऐसा वाॅयस सैंपल मिला था, जिसमें दो लोगों की बातचीत के दौरान एक तीसरे व्यक्ति की भी बातचीत थी।
- उस तीसरे व्यक्ति की वाॅयस की चेकिंग कराई गई तो वह गौंडर की निकली थी। इन तीनों लोगों की बातचीत इंडिया में ही हो रही थी। इस पर पुलिस को यकीन था कि गौंडर इंडिया में ही है।
- पुलिस ने गौंडर के बारे में जानकारियों लेना जारी रखा। उसके साथी और वह कहां-कहां जा रहा है इस पर लगातार नजर रखी और आखिकर उसे धर लिया गया।
- डीजीपी ने बताया कि गौंडर के साथ एनकाउंटर करने वाले अधिकारियों व कर्मचारियों ने साहस के साथ एनकाउंटर किया है।
- उनका प्रमोशन के साथ साथ सम्मान किया जाएगा। उन्होंने बताया कि ऐसे कर्मचारियों को पुलिस विभाग विशेष तौर पर ध्यान रखेगा।

पुलिस की इतनी कंपनियां तैनात की गई थीं

- एक महीने पहले पुलिस को लगने लगा था कि अब वह गौंडर के काफी नजदीक पहुंच चुकी है और वह कभी भी पुलिस के हत्थे चढ़ सकता है। इसे लेकर DGP सुरेश अरोड़ा, इंटेलिजेंस चीफ दिनकर गुप्ता और डीजीपी लाॅ एंड आॅर्डर ने पुख्ता प्लानिंग कर इसके लिए पुलिस की सात कंपनियां तैनात की थीं।
- इनमें से तीन मालवा के लिए, दो दोआबा के लिए और दो माझा के लिए थीं। इसके अलावा पुलिस की 10 कंपनियां रिजर्व रखी गई थीं, जिन्हें जरूरत पड़ने पर कहीं भी भेजा जा सकता था।
- इन सवा महीनों के दौरान पुलिस को जहां-जहां भी गौंडर और उसके साथियों के होने की सूचना मिली, वहां पुलिस पहुंची, लेकिन वह बचता रहा।
- गौंडर को लेकर राज्य पुलिस ने फाजिल्का, फिरोजपुर, मुक्तसर, बठिंडा और तरनतारन में जाल बिछा रखा था। इस दौरान 6 बार गौंडर और उसके साथियों से पुलिस की सीधी मुठभेड़ होते-होते बची और गौंडर भाग निकला, लेकिन शुक्रवार को पुलिस ने उसे और उसके साथियों को गांव पक्का टिब्बी की ढाणी में घेर लिया था।

आगे की स्लाइड्स में देखें फोटोज...

विक्की गोंडर को पंजाब पुलिस ने शुक्रवार शाम एनकाउंटर में मार गिराया। विक्की गोंडर को पंजाब पुलिस ने शुक्रवार शाम एनकाउंटर में मार गिराया।
पुलिस हिरासत में विक्की। (फाइल फोटो) पुलिस हिरासत में विक्की। (फाइल फोटो)
एनकाउंटर राजस्थान के श्रीगंगानगर जिले के एक गांव के पास हुआ। एनकाउंटर राजस्थान के श्रीगंगानगर जिले के एक गांव के पास हुआ।
नवंबर 2016 में पंजाब के नाभा जेलब्रेक के बाद से विक्की चर्चा में था। नवंबर 2016 में पंजाब के नाभा जेलब्रेक के बाद से विक्की चर्चा में था।
विक्की के साथ एक अन्य गैंगस्टर प्रेमा लाहौरिया भी मारा गया है। विक्की के साथ एक अन्य गैंगस्टर प्रेमा लाहौरिया भी मारा गया है।
Click to listen..