--Advertisement--

31 तक भरें जुलाई से अक्टूबर तक की जीएसटीआर-1 रिटर्न

जीएसटीआर-1 रिटर्न 31 दिसंबर तक भर सकते हैं।

Danik Bhaskar | Dec 03, 2017, 04:41 AM IST

पटियाला. जुलाई से अक्टूबर तक रिटर्न भरने वाले व्यापारियों को सरकार ने राहत दी है। अब वह जीएसटीआर-1 रिटर्न 31 दिसंबर तक भर सकते हैं। वहीं कंपोजीशन स्कीम की क्वार्टरली रिटर्न भरने की लास्ट तारीख 24 दिसंबर है। 1.50 करोड़ से कम टर्नओवर वाले व्यापारी जिन्होंने कंपोजीशन स्कीम नहीं ली है, वह क्वार्टरली रिटर्न 31 दिसंबर तक फाइल कर सकते हैं।

ऐसे कारोबारी जिन्होंने कंपोजीशन स्कीम में रजिस्ट्रेशन करवाया है। उन्हें जीएसटीआर-4 भरना होगा। जो क्वार्टरली भरनी होगी। इसके लिए जुलाई से सितंबर तक की क्वार्टरली रिटर्न 24 दिसंबर और अक्टूबर से दिसंबर तक की क्वार्टरली रिटर्न 18 जनवरी तक भरनी होगी। सेन्ट्रल एक्साइज कमिश्नर डॉ. मंदीप के बातिश ने बताया कि कारोबारियों की परेशानी को देखते हुए यह फैसला लिया गया है। अभी तक जीएसटी पोर्टल स्लो चल रहा था। जिसके चलते व्यापारी और कारोबारी परेशान थे। वहीं जीएसटी काउंसिल ने व्यापारियों की परेशानी को देखते हुए रिटर्न फाइल करने की तारीख बढ़ाई है। तारीख बढ़ने से व्यापारियों ने राहत की सांस ली है। इसके पहले व्यापारी कई बार साइट स्लो होने के कारण रिटर्न भर पाने की शिकायत अिधकारियों से कर चुके थे।

रिटर्न लेट भरने पर 100 रुपए देनी होगी पेनल्टी
रिटर्नभरने में देरी पर लगने वाले 200 रुपए प्रतिदिन की पेनालटी को घटाकर आधा कर दिया है। जबकि जीरो रिटर्न वालों को लेट फीस 20-20 रुपए केंद्र और राज्य का हिस्सा होगा। जुलाई, अगस्त और सितंबर 2017 माह की रिटर्न पर लगने वाली पेनल्टी को वापस ले लिया गया और जो ट्रेडर्स पेनल्टी भर चुके हैं, उसे उनकी इलेक्ट्रानिक कैश लेजर में जमा कर दिया जाएगा। अक्टूबर से रिटर्न में देरी पर 200 की बजाए 40 रुपए प्रति दिन के हिसाब से पेनल्टी वसूल की जाएगी।