Hindi News »Punjab »Amritsar» High Alert On The Airport In The Wake Of Danger

खतरे के मद्देनजर एयरपोर्ट पर हाई अलर्ट, CISF स्निपर और क्यूआरटी ने संभाला मोर्चा

लाहौर से सटे होने कारण के अमृतसर एयरपोर्ट अतिसंवेदनशील हवाई अड्डों की श्रेणी में

bhaskar news | Last Modified - Dec 19, 2017, 06:19 AM IST

  • खतरे के मद्देनजर एयरपोर्ट पर हाई अलर्ट, CISF स्निपर और क्यूआरटी ने संभाला मोर्चा
    +1और स्लाइड देखें

    अमृतसर.नए साल की आमद पर किसी भी तरह के आतंकी हमले के खतरे के मद्देनजर श्री गुरु रामदास जी अंतरराष्ट्रीय एयरपोर्ट पर हाई अलर्ट जारी कर दिया गया है। इस संबंध में गृह मंत्रालय से जारी एडवाइजरी के बाद एयरपोर्ट की सुरक्षा में लगी सेंट्रल इंडस्ट्रियल सिक्योरिटी फोर्स (सीआईएसएफ) ने एयरपोर्ट और उसके आसपास के क्षेत्र में सुरक्षा पहले से कड़ी कर दी है।

    हालांकि यह एडवाईजरी देश के सभी संवेदनशील एयरपोर्ट को जारी की गई है, लेकिन पाकिस्तान के लाहौर से कुछ किलोमीटर की दूरी पर स्थित होने के कारण अमृतसर एयरपोर्ट को अतिसंवेदनशील हवाई अड्डों की श्रेणी में रखा गया है। सुरक्षा एजेंसियों को खबर मिली है कि पाकिस्तान की बदनाम खुफिया एजेंसी आईएसआई के इशारे पर आतंकी संगठन कोई बड़ी आतंकी साजिश रच सकते हैं। एयरपोर्ट अथारिटी इसे लेकर किसी तरह का जोखिम नहीं लेना चाहती। यही कारण है कि एयरपोर्ट पर तैनात तमाम सुरक्षा एजेंसियों को चौकस कर दिया गया है। एयरपोर्ट डायरेक्टर मनोज चन्नसौरिया और सीआईएसएफ कमांडेंट धर्मवीर यादव पूरे हालात पर नजर रखे हुए है और सिक्योरिटी फोर्सेस 24 घंटे अलर्ट पर हैं। नए साल के बाद 26 जनवरी को लेकर भी सुरक्षा के उपाय कड़े किए गए हंै।

    सोमवार शाम को की गई माॅक ड्रिल

    सोमवार शाम एयरपोर्ट अथारिटी की ओर से की गई माक ड्रिल भी इसी एडवाईजरी का हिस्सा रही। एयरपोर्ट की सुरक्षा में लगी सीआईएसएफ ने ‘काउंटर टेरेरिस्ट केंटीजेंसी, नाम से माक ड्रिल की जिसमें एयरपोर्ट पर तैनात विभिन्न सुरक्षा एजेंसियों ने हिस्सा लिया। सीआईएसएफ के स्निपर और क्विक रिएक्शन टीम के साथ साथ डाग स्क्वैड भी इस माक ड्रिल का मुख्य हिस्सा रही। पंजाब पुलिस ने भी इसमें भाग लिया। शाम 4.30 से 5.30 बजे तक, करीब एक घंटा चली इस माक ड्रिल में एयरपोर्ट की टर्मिनल बिल्डिंग मे घुस रहे तीन आतंकवादियों को सीआईएसएफ के स्निपर्स ने मार गिराया।

    24 घंटे की जा रही है गश्त

    सुरक्षा की दृष्टि से एयरपोर्ट और इसके आसपास के एरिया में सुरक्षा जवान 24 घंटे गश्त कर रहें है और क्विक रिएक्शन टीम ने मोर्चों संभाल लिया है। मुख्य सड़क से मुड़ कर एयरपोर्ट के प्रवेश गेट तक जाने वाले रास्ते पर कड़ी चैकिंग की जा रही है। खुफिया एजेंसियों के अलर्ट के बाद सीआईएसएफ के कमांडो एयरपोर्ट की तरफ आने वाले हर व्यक्ति पर नजर रखे हुए हैं। वाहनो की तलाशी ली जा रही है और एयरपोर्ट के बाहरी गेट से एंट्री होने वाले वाहनों की मैटल डिटेक्टर से चैकिंग की जा रही है।

    श्री गुरु रामदास जी इंटरनेशनल एयरपोर्ट अमृतसर अतिसंवेदनशील होने के कारण यहां आम दिनों में भी पूरी सतर्कता बरती जाती है और सुरक्षा में कोई ढील नहीं रखी जाती। लेकिन गृहमंत्रालय से मिली एडवाईजरी के बाद सुरक्षा को और मजबूत किया गया है।- धर्मवीर यादव, सीआईएसएफ कमांडेंट।

  • खतरे के मद्देनजर एयरपोर्ट पर हाई अलर्ट, CISF स्निपर और क्यूआरटी ने संभाला मोर्चा
    +1और स्लाइड देखें
आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Amritsar

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×