--Advertisement--

अवैध संबंध के चलते पति और बच्चों ने महिला को नहर में फेंका, ऐसे जिंदा बची

किसी ओर से साथ घर वसाने वाली महिला को उसके हाथ पांव बांधकर उसे भाखड़ा नहर में फेक दिया।

Danik Bhaskar | Dec 22, 2017, 06:06 AM IST
डेमोफोटो डेमोफोटो

सरदूलगढ़. अपने पति तीन बच्चों को छोड़कर किसी ओर से साथ घर वसाने वाली महिला को उसके हाथ पांव बांधकर उसे भाखड़ा नहर में फेक दिया। पानी का बहाव तेज होने के चलते महिला तैरती हुई सरदूलगढ़ के गांव फतेहपुर तक पहुंच गई जहां महिला द्वारा चिल्लाने की अवाज सुनते ही गांव के एक परिवार ने उसे जीवित बाहर निकाल लिया और मामले की जानकारी झुनीर पुलिस को दी गई। पुलिस के मुताबिक महिला ने बयान दिया उसके पति और बच्चों ने उसका हाथ पैर बांधकर नहर में फेंक दिया। वहीं झुनीर पुलिस मामले की जांच शुरू कर दी है।

जिस प्रेमी ने लिए घर छोड़ा उसने भी पंचायत में ठुकराया: गांवटोडरपुर के सरपंच गुरदीप सिंह ने बताया कि उक्त महिला उनके गांव की है और उसका परिवर कुछ समय पहले गांव छोड़कर हरियाणा के रतिया में रहने लगा है। उन्होंने बताया गांव वासी बीरवल सिंह की पत्नी जसवीर कौर के तीन बेटे हैं। उन्होंने बताया कि महिला जसवीर कौर के रतिया में किसी व्यक्ति के साथ अवैध संबंध थे। जिसको लेकर चार दिन पहले रतिया थाने में पंचायत भी बुलाई गई थी। उनके मुताबिक महिला अपने पति को छोडक़र जिस व्यक्ति के साथ जाना चाहती थी उसने ही उसे पंचायत के सामने ठुकरा दिया। जिसके बाद परिवार ने भी उसे ठुकरा दिया गया। जिसके बाद में से उक्त महिला कहा चली गई। इसको लेकर किसी को कोई जानकारी नही है। सरपंच अनुसार महिला को गांव फतेहपुर में भाखड़ा नहर के हैड़ पर निकाले जाने की सूचना मिलने के बाद महिला जसवीर कौर के तीनों बेटे गांव पहुंचे थे। जिन्होंने पूरी घटना सरपंच के पास रखी। बता दें के महिला के बड़े बेटे की आयु १७ साल है।

गांव फतेहपुर के किसान पूर्व चेयरमैन काका भगत काका सिंह प्रधान ने बताया कि उनका घर खेत में भाखड़ा नहर के पास है और बुधवार की रात उन्हे भाखड़ा नहर में से किसी महिला द्वारा उसे बचाने की आवाजे सुनाई दी और जैसे ही वह नहर पर पहुंचे तो देखाकि हाथ पांव से बंधी एक महिला पानी में तैर रही थी वही भाखड़ा में पानी का तेज बहाव होने के चलते उसे कड़ी मशक्कत के बाद देर रात को भाखड़ा नहर से बाहर निकाल लिया गया जिसके हाथ पैर बांधे हुए थे। महिला को नहर से बाहर निकालने के बाद उसे थाना झुनीर पुलिस के हवाले कर दिया गया है।

कैसे हुआ 17 किमी. का नहर में सफर, जांच होगी
थानाझुनीर इंचार्ज हरपाल सिंह टिवाना ने ने बताया कि उक्त महिला की पहचान बोहा के गांव टोडऱपुर वासी जसवीर कौर के रुप में हुई है। उन्होंने बताया कि उक्त महिला द्वारा दिए गए ब्यान अनुसार उसके परिवार वालों ने उसे गांव रोजावाली के पास उसके हाथ पांव बांधकर उसे भाखड़ा नहर में फेंक दिया गया था। उन्होंने बताया कि रोजावाली फतेहपुर से 17 किलोमीटर दूरी पर है। उन्होंने बताया कि उक्त महिला इतनी दूर पांव बांधे कैसे पहुंची इसकी जांच की जा रही है।