--Advertisement--

बिजली के टॉवर पर आधे घंटे तक लटका रहा शख्स, आग निकली तो जले कपड़े

जिस लाइन पर शख्स लटका था वो 66 केवी की थी।

Dainik Bhaskar

Dec 27, 2017, 03:36 AM IST
टॉवर पर लटका हुआ शख्स। टॉवर पर लटका हुआ शख्स।

बठिंडा. बिजली के खंभे पर काम करते वक्त करंट लगने से मजदूर गंभीर घायल हो गया, करंट से निकली आग से मजदूर के कपड़े और सेफ्टी बैलट जल गई जबकि जिंदगी और मौत से जूझता मजदूर 45 फुट ऊंचे खंबे पर आधा घंटा तक लटकता रहा। उसे इलाज के लिए सिविल हॉस्पिटल में दाखिल कराया जहां से उसे DMC ले गए। हादसा स्थल पर हड़कंप मच गया, बिजली की तारों में झूलते कर्मचारी को देखकर वाहन चालक सहम गए। एहतियात के तौर पर सड़क की एक तरफ का ट्रैफिक बंद किया गया जिससे सड़क वन वे होने से वाहनों का जमघट लग गया।

कपड़े और सीट बेल्ट तक झुलसे
पावरकाॅम की ओर से रिंग रोड फेज टू में रेलवे क्रॉसिंग के ऊपर कंडक्टर से टावर टू टावर लाइनें बिछाने का काम किया जा रहा है, जिस पर प्राइवेट ठेकेदार के मजदूर जुटे हुए हैं। मंगलवार को भी 66 केवी लाइन पर जंपर बदलने के लिए मजदूर डेनिम और गौतम लगभग 45 फुट ऊंचे खंबे पर चढ़े हुए थे कि अचानक डेनिम को बिजली का जबरदस्त झटका लगा जिससे असंतुलित होकर डेनिम जंपर की तारों में उलझकर लटक गया।

करंट लगने से उसके कपड़े और सीट बैलेट झुलस गई। शाम 4 बजे हुए हादसे के बाद लगभग 30 मिनट तक डेनिम जिंदगी और मौत से जूझते हुए जंपर में लटकता रहा। उसका साथी गौतम तुरंत नीचे उतरा और अन्य मजदूरों एवं आसपास के लोगों की सहायता से रस्सी एवं बेलेट के जरिए डेनिम को नीचे उतारा और तुरंत सिविल अस्पताल भर्ती कराया।

हालत खतरे से बाहर
डॉ. गुरमेल ने बताया कि उसके शरीर में करंट पास हुआ है लेकिन हालत खतरे से बाहर है। देर शाम ठेकेदार के कर्मचारी सिविल अस्पताल से छुट्टी दिलवाकर डेनिम को डीएमसी लुधियाना ले गए। 66 केवी लाइन पर काम करती अन्य लेबर ने बताया कि लाइनों में करंट तो होना ही नहीं चाहिए, बाकायदा शट डाउन ले रखा है। वहीं मौके पर मौजूद जेई अवतार सिंह ने इसके लिए मजदूरों को ही कसूरवार ठहराया और बोले कि इन्हें यहां काम करने के लिए कहा ही नहीं गया।

मामले की जानकारी नहीं
रेलवे क्रॉसिंग के ऊपर कंडक्टर पर टावर टू टावर का काम चल रहा है जोकि दोपहर 2.30 बजे तक मुकम्मल हो जाना चाहिए, लेकिन इसमें कोई मजदूर घायल होने की उन्हें कोई जानकारी नहीं है।- उदयदीप सिंह ढिल्लों, एक्सईएन।

कई बार आ जाती है इंडक्शन
लाइनें बंद हैं लेकिन कई बार पीछे से इंडक्शन आ जाती हैं और शायद इसी से थोड़ा झटका लगा होगा। राजू, सुपरवाइजर।

लाइन बंद करने का है परमिट
लाइन बंद करने का परमिट दिया गया है, सप्लाई नहीं होने की वजह से लाइन बंद है। मजदूर ने कोई तार को छू लिया होगा जिससे उसे करंट लगा। धर्मवीर सिंह, एसडीएम।

घटना की जानकारी देता दूसरा लाइन मैन। घटना की जानकारी देता दूसरा लाइन मैन।
घायल को ले जाते लोग। घायल को ले जाते लोग।
मौके पर मौजूद भीड़। मौके पर मौजूद भीड़।
Man hanging on an electric tower for half an hour
शख्स को नीचे उतारते हुए। शख्स को नीचे उतारते हुए।
X
टॉवर पर लटका हुआ शख्स।टॉवर पर लटका हुआ शख्स।
घटना की जानकारी देता दूसरा लाइन मैन।घटना की जानकारी देता दूसरा लाइन मैन।
घायल को ले जाते लोग।घायल को ले जाते लोग।
मौके पर मौजूद भीड़।मौके पर मौजूद भीड़।
Man hanging on an electric tower for half an hour
शख्स को नीचे उतारते हुए।शख्स को नीचे उतारते हुए।
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..