--Advertisement--

पति-ससुर ने बच्चे उठाने की दी धमकी तो मायके में रहती विवाहिता ने जहर निगला

उसके पति और ससुर ने धमकी दी कि वे उसके बच्चों को उठा ले जाएंगे।

Danik Bhaskar | Dec 10, 2017, 06:46 AM IST
डेमोफोटो डेमोफोटो

संगरूर. ससुरालियों द्वारा दहेज मांगने पर करीब ढाई साल पहले अपने दो बच्चों के साथ मायके रह रही महिला ने जहर निगलकर खुदकुशी कर ली। बताते हैं कि महिला ने उक्त कदम उस समय उठाया जब उसके पति और ससुर ने धमकी दी कि वे उसके बच्चों को उठा ले जाएंगे।

अहमदगढ़ सिटी पुलिस स्टेशन में मृतका के पति और ससुर पर केस दर्ज किया गया है। अहमदगढ़ के वार्ड नंबर 12 निवासी देसराज ने पुलिस को बताया कि उसकी बेटी मोनिका शर्मा की शादी करीब 9 साल पहले मिन्नी छपार निवासी प्रिंस कुमार के साथ हुई थी। शादी के कुछ समय बाद मोनिका ने एक बेटे को जन्म दिया। इसके बाद एक लड़की पैदा हुई। देसराज ने बताया कि बेटी के ससुराल वाले हमेशा मोनिका से दहेज की मांग कर उसे तंग करने लगे। उन्होंने 12 जुलाई 2015 को बेटी मोनिका की शिकायत पर अहमदगढ़ पुलिस थाने में उसके पति और ससुर के विरुद्ध दहेज को लेकर मामला भी दर्ज किया था। इसके बाद घर में क्लेश ओर बढ़ गया। ऐसे में मोनिका पिछले ढाई वर्ष से मायके में रह रही थी।

7 दिसंबर को मालेरकोटला अदालत में पेशी थी। वह बेटी को लेकर पेशी पर जाने के लिए मोटरसाइकिल से अहमदगढ़ के शहीद भगत सिंह चौक में पहुंचा तो अचानक पीछे से प्रिंस अपने पिता के साथ रहा था। प्रिंस ने उन्हें रोक लिया और धमकी दी गई कि वह उसके बच्चों को हर हाल में उठा कर लेकर जाएगा। उसकी बेटी धमकी से बुरी तरह डर गई। बेटी ने कहा था कि वह पेशी पर नहीं जाएगी। उसे घर उसके बच्चों के पास ले जाओ। जिसके बाद वह बेटी को घर ले आया। वह बाथरूम में चला गया। बाहर आया तो देखा कि बेटी बैड पर बेहोश पड़ी थी। उसे देखकर वह भी बेहोश हो गया। होश आया तो दोनों अहमदगढ़ के अस्पताल में थे। उपचार के दौरान बेटी मोनिका की मौत हो गई। उसकी लड़की की मौत उसके पति और ससुर की ओर से बच्चों को उठाने की धमकी के कारण ही हुई है।

पति और ससुर पर मामला दर्ज
पुलिस ने पीड़ित पिता की शिकायत पर आरोपी पति प्रिंस कुमार और ससुर प्रेम कुमार के विरुद्ध अहमदगढ़ सिटी पुलिस स्टेशन में मामला दर्ज कर लिया है। आरोपियों की अभी गिरफ्तारी नहीं हुई है।