--Advertisement--

इस मेयर ने पंडित से निकलवाया कुर्सी पर बैठने का मुहूर्त, सभी करते रहे इंतजार

कौंसलरों के साथ परिजनों को ऑडिटोरियम में अंदर जाने की इजाजत नहीं थी, इसलिए सब निगम कैंपस में इक्ट्ठे हो गए।

Danik Bhaskar | Jan 24, 2018, 03:34 AM IST
ऑफिस में पूजा के दौरान। ऑफिस में पूजा के दौरान।

पटियाला. मेयर के नाम पर लगभग 15 दिन से चल रही कश्मकश आखिर मंगलवार को खत्म हो गई। संजीव शर्मा बिट्‌टू को पटियाला का 6वां मेयर चुन लिया गया। शपथ ग्रहण के साथ ही नए मेयर पूर्व राज्य मंत्री परनीत कौर के साथ सीधे अपने दफ्तर पहुंचे। यहां पहले से ही उन्होंने पंडित को बुलाकर सीट पर विराजमान होने का मुहूर्त निकलवा रखा था। 11.15 से 12.15 के बीच अभिजीत मुहूर्त में उन्होंने पद ग्रहण करना था लेकिन शपथ समारोह में देरी होने से वह 11.45 पर पहुंचे। ऐसे हुई पूजा...

- परनीत कौर ने उन्हें पूजा शुरू कराने के लिए कहा तो बीच से किसी ने कह दिया पौण (निश्चित समय) में शुभ काम नहीं करते। इसके चलते परनीत कौर समेत सभी 59 कौंसलर पौण कटने के इंतजार में बैठ गए।
- 12.05 पर जाकर पंडित विजय भट्‌ट ने उनका तिलक किया। उनके सहयोगी के रूप में सीनियर डिप्टी मेयर योगिंदर योगी और डिप्टी मेयर विनती संगर ने भी कमान संभाली।
- पटियाला सिटी में 32 वार्ड आते हैं, जबकि पटियाला टू में 26 और 2 वार्ड सनौर में हैं।
- अकाली-भाजपा सरकार में मेयर पटियाला सिटी से तो डिप्टी मेयर पटियाला टू से बनता आया है। अब भी माना जा रहा था कि न्यू मोती बाग पैलेस मेयर अपने कोटे से तो सीनियर डिप्टी मेयर और डिप्टी मेयर ब्रह्म मोहिंदरा के कोटे से बनाएगा।
- पटियाला टू से कई नेता खुद को इन ओहदों के लिए प्रोजेक्ट भी कर रहे थे। इस सिलेक्शन के बाद वो मायूस है। उधर, ब्रह्म मोहिंदरा ने एक दिन पहले ही साफ कर दिया कि मेयर का चुनाव 2019 लोकसभा चुनाव को देखते हुए किया जाना है और चुनाव परनीत कौर ने लड़ना है।

निगम कैंपस में इकट्ठे हुए

बेशक मेयर समेत दोनों ओहदों के नामों का ऐलान आज किया गया, लेकिन यह सिर्फ औपचारिकता रही। कारण, सोशल मीडिया वाॅट्सअप, फेसबुक पर सोमवार रात को ही इन तीनों के नामों की बधाइयां शुरू हो गई थी। बिट्टू, योगी और संगर समर्थक पहले से ही हार और मिठाइयां लेकर पहुंचे थे। ऑडिटोरियम में शपथ ग्रहण समारोह के बाद कौंसलरों को रिफ्रेशमेंट के नाम पर एक-एक लड्डू खिलाया गया। बारिश के चलते आउटर एरिया में लगाए टैंट में पानी भर गया। चूंकि कौंसलरों के साथ परिजनों को ऑडिटोरियम में अंदर जाने की इजाजत नहीं थी, इसलिए सब निगम कैंपस में इकट्ठे हो गए।

एक तीर से तीन निशाने
कांग्रेस ने एक तीर से 3 निशाने साधे है। मेयर के रूप में संजीव शर्मा को देकर हिंदुओं को, योगी को आगे लाकर शहर की सबसे बड़ी भापा बिरादरी को और विनती संगर को डिप्टी मेयर का पद दे महिला और शैड्यूल कास्ट वर्ग को साथ जोड़ा है।

पहली प्रैस कान्फ्रेंस : कैनाल बेस्ड वाटर सिस्टम पूरा करुंगा: बिट्‌टू
मेयर बनने के बाद पहली प्रेस कान्फ्रेंस में नए मेयर संजीव बिट्टू ने प्राथमिकताएं गिनाईं। उन्होंने कहा कि कैप्टन ने शहर के लिए जो 1 हजार करोड़ के पैकेज का ऐलान किया है, उसमें जरूरतों के मुताबिक खर्च करवाना, शहर की ब्यूटीफिकेशन के लिए राजिंदरा लेक से लेकर सड़कों को ब्यूटीफाई करना आैर अकाली-भाजपा सरकार की टर्म से बंद पड़े प्रोजेक्ट डेयरी शिफ्टिंग, सॉलिड वेस्ट मैनेजमेंट, कैनाल बेस्ड वाटर सिस्टम को पूरा करवाना उनकी प्राथमिकता रहेगी।

परनीत की लोकसभा तैयारी
परनीत कौर 2019 लोकसभा चुनाव की तैयारी कर रही हैं। तीनों ओहदे पटियाला सिटी को देकर वो अपनी वोट बैंक पक्की करना चाहती हैं। इसके चलते ही बड़े आेहदे अपनी सीट के रखे हैं।

मोहिंदरा ने पटियाला-टू कौंसलरों के मुंह पर तमाचा मारा : चट्‌ठा
पूर्व अकाली कौंसलर जसपाल सिंह बिट्टू चट्ठा ने कहा कि अकाली-भाजपा सरकार ने पटियाला टू को डिप्टी मेयर से लेकर एफएंडसीसी जैसी अहम कमेटी के मैंबर पद देकर नवाजा था, लेकिन कांग्रेस ने पटियाला टू के 26 कौंसलरों को उनकी औकात दिखाई है। असल में ये सभी 26 कौंसलर गुंडागर्दी करके जीते। इनमें एक कौंसलर भी सी. डिप्टी मेयर या डिप्टी मेयर बनने की औकात नहीं है। इसलिए इन्हें कोई ओहदा न देकर इनके मुंह पर तमाचा जड़ा गया है।

सुबह 10.16- मेयर संजीव बिट्‌टू के शपथ ग्रहण के बाद भाभी संगीता का मुंह मीठा करातीं बहन अनुराधा। सुबह 10.16- मेयर संजीव बिट्‌टू के शपथ ग्रहण के बाद भाभी संगीता का मुंह मीठा करातीं बहन अनुराधा।
माला पहलते हुए नए मेयर। माला पहलते हुए नए मेयर।
पटियाला के नय मेयर संजीव शर्मा विट्टू अपने साथियों का धन्यवाद करते हुए पटियाला के नय मेयर संजीव शर्मा विट्टू अपने साथियों का धन्यवाद करते हुए
सुबह 10.13- मेयर की घोषणा होने के बाद खुशी का इजहार करते हुए संजीव बिट्‌टू का माथा चूमते हुए उनकी माता कौशल्या। सुबह 10.13- मेयर की घोषणा होने के बाद खुशी का इजहार करते हुए संजीव बिट्‌टू का माथा चूमते हुए उनकी माता कौशल्या।
मेयर की घोषणा होने से पहले सेहत मंत्री ब्रह्रा महिन्द्रा बंद लिफाफा ले जाते हुए। मेयर की घोषणा होने से पहले सेहत मंत्री ब्रह्रा महिन्द्रा बंद लिफाफा ले जाते हुए।
मेयर की घोषणा होने से पहले साहिर लुधियानवी हॉल के दरवाजे से कुछ इस तरह था चेहरा। मेयर की घोषणा होने से पहले साहिर लुधियानवी हॉल के दरवाजे से कुछ इस तरह था चेहरा।
पौने के फेर में फंसी पूजामेयर का ऐलान होने के बाद मेयर के ऑफिस में पूर्व विदेश राज्य मंत्री परनीत कौर, सेहत मंत्री ब्रह्र महिन्द्रा, जंगलात मंत्री साधू सिंह धर्मसोत ने करीब 15 मिनट देर से पूजा करवाई। पौने के फेर में फंसी पूजामेयर का ऐलान होने के बाद मेयर के ऑफिस में पूर्व विदेश राज्य मंत्री परनीत कौर, सेहत मंत्री ब्रह्र महिन्द्रा, जंगलात मंत्री साधू सिंह धर्मसोत ने करीब 15 मिनट देर से पूजा करवाई।
मेयर की घोषणा के पहले मिठाई लेकर आते हुए कार्यकर्ता मेयर की घोषणा के पहले मिठाई लेकर आते हुए कार्यकर्ता
मेयर बनने से पहले मेयर के ऑफिस में पंडित विजय भट्ट पूजा करवाते हुए। मेयर बनने से पहले मेयर के ऑफिस में पंडित विजय भट्ट पूजा करवाते हुए।
कॉर्पोरेशन की बालकनी में मेयर का ऐलान का इंतजार करते हुए मुलाजिम फोटो अजय शर्मा कॉर्पोरेशन की बालकनी में मेयर का ऐलान का इंतजार करते हुए मुलाजिम फोटो अजय शर्मा
मेयर बनने से पहले मेयर के ऑफिस में पंडित विजय भट्ट पूजा करवाते हुए। मेयर बनने से पहले मेयर के ऑफिस में पंडित विजय भट्ट पूजा करवाते हुए।