--Advertisement--

कमरे में मिला था मां-बेटी का कंकाल, दोनों का किया था रेप फिर दी ऐसी दर्दनाक मौत

मरने के बाद भी मालकिन की बॉडी के पास बैठा था डॉग, बेटी के शरीर पर नहीं था एक भी कपड़ा।

Dainik Bhaskar

Feb 08, 2018, 04:47 AM IST
लड़की की मां को इस कमरे में जलाया था। लड़की की मां को इस कमरे में जलाया था।

अमृतसर. दर्शन एवेन्यू में सोमवार रात मारी गई गगनदीप वर्मा और उनकी बेटी शिवनैनी का बुधवार को गुरुनानक देव मेडिकल कॉलेज के फोरेंसिक डिपार्टमेंट के विशेषज्ञों ने पोस्टमार्टम किया। 22 वर्षीय शिवनैनी की हत्या पेट में टूटी बोतल घोंपे जाने से हुई। उससे रेप हुआ या नहीं, इसकी पुष्टि के लिए स्वैब खरड़ की फारेंसिंक साइंस लैब भेजे गए हैं।

- शिवनैनी के पैर जले हुए थे लेकिन कमर से ऊपर का हिस्सा सही था।

- गगनदीप का शरीर बुरी तरह जला होेने के कारण मौत के कारणों का पता नहीं चल पाया।

- जलने के कारण उसकी एक बाजू अलग हो चुकी थी। उधर, पुलिस की जांच गगनदीप की कॉल डिटेल से मिले सुरागों के इर्द-गिर्द घूमती रही।

- एक मौजूदा कांग्रेसी पार्षद को भी पूछताछ के लिए बुलाया गया लेकिन वह पूरे दिन बहाने बनाकर बचने का प्रयास करता रहा।

- सूत्रों के अनुसार, पिछले समय में इस पार्षद की गगनदीप से लंबी बातें होती रही हैं।

पुलिस छानती रही खाली प्लाट

- ADCP क्राइम एचएस धालीवाल और एसीपी साउथ मनजीत सिंह बुधवार सुबह 10 बजे दर्शन एवेन्यू में गगनदीप की कोठी पर पहुंचे।

- पुलिसकर्मियों ने सुराग की तलाश में आसपास के खाली प्लाट खंगाले। सीन क्रिएट कर देखा गया कि कातिल कहां-कहां से भाग सकते थे।

- पुलिस को घर से शराब की खाली बोतल भी मिली। दर्शन एवेन्यू के अलावा पुलिस अजीतनगर भी पहुंची, जहां गगनदीप दो साल पहले बेटे-बेटी के साथ रहती थी।

- यहां लोगों से उसके व्यवहार वगैरह को लेकर जानकारी जुटाई गई। पुलिस ने क्रिमिनल रिकाॅर्ड वाले तकरीबन 10 लोगों को भी राउंडअप किया। ये सभी सुल्तानविंड इलाके के रहने वाले हैं।

कनाडा से नहीं आया बेटा

- पोस्टमार्टम के बाद दोपहर 3.30 बजे गगनदीप के भाई संजीव ने दोनों का शिवपुरी में संस्कार कर दिया।

- संस्कार में कनाडा से बेटा रिद्धिम नहीं आया। रिश्तेदारों और कनाडा में रहते एक दोस्त ने उसे रोक दिया।

- रिद्धिम को सहारा देने के लिए अमेरिका से कुछ रिश्तेदार भी कनाडा पहुंच रहे हैं।

- पुलिस ने गगनदीप के दोनों पूर्व पतियों को भी बुलाया है। वे गुरूवार को बयान दर्ज करवा सकते हैं।

- पुलिस इनसे गगनदीप के व्यवहार को समझना चाहती है। वह जानना चाहती है कि गगनदीप के करीबी कौन थे और उसकी किसी से दुश्मनी तो नहीं थी?

ये था मामला

- गगनदीप वर्मा जंडियाला के सरकारी कन्या स्कूल में क्लर्क थीं। बेटी शिवनैनी ने हाल ही में बीकाॅम की पढ़ाई पूरी की थी।

- रात को करीब दो बजे पड़ोस में रहने वाले किसी व्यक्ति ने उनके घर आग की लपटेंदेखीं। शोर मचाकर आस-पड़ोस वालों को इकट्ठा किया।

- गगनदीप की दो शादियां हुई थीं, दोनों टूट चुकी थीं। पुलिस ने बताया कि दो साल पहले ही गगनदीप वर्मा ने यहां कोठी नंबर 175 खरीदी थी। कई साल पहले गगनदीप का तलाक हो चुका था।

- वह अपने दो बच्चों के साथ यहां रह रही थीं। बेटा रिधिम 20 दिसंबर को ही पढ़ाई करने कनाडा गया था। घर पर मां-बेटी ही रहती थीं।

- वारदात जिस तरह की गई उससे लगता है 3 से 4 लोग शामिल थे। पुलिस के मुताबिक यह हत्याकांड लव-अफेयर की रंजिश के तहत हुआ लगता है। हालांकि मां-बेटी दोनों के साथ रेप हुआ, इसकी पुष्टि पोस्टमार्टम के बाद ही होगी।

शिवनैनी के कमरे में जांच करते पुलिसकर्मी। शिवनैनी के कमरे में जांच करते पुलिसकर्मी।
शिवनैनी शिवनैनी
गगनदीप वर्मा गगनदीप वर्मा
शिवनैनी की लाश ले जाते रिलेटिव। शिवनैनी की लाश ले जाते रिलेटिव।
गगनदीप वर्मा और उसकी बेटी शिवनैनी वर्मा के परिजन विलाप करते हुए। गगनदीप वर्मा और उसकी बेटी शिवनैनी वर्मा के परिजन विलाप करते हुए।
कोठी के सामने खाली प्लाट हंै। अंदेशा है हत्यारे इसी रास्ते से आए हों। कोठी के सामने खाली प्लाट हंै। अंदेशा है हत्यारे इसी रास्ते से आए हों।
गगनदीप वर्मा के भाई से घटना के बारे में जानकारी लेती सीआईए की टीम। गगनदीप वर्मा के भाई से घटना के बारे में जानकारी लेती सीआईए की टीम।
घटनास्थल की जांच कर लौटती सीआईए की टीम। घटनास्थल की जांच कर लौटती सीआईए की टीम।
X
लड़की की मां को इस कमरे में जलाया था।लड़की की मां को इस कमरे में जलाया था।
शिवनैनी के कमरे में जांच करते पुलिसकर्मी।शिवनैनी के कमरे में जांच करते पुलिसकर्मी।
शिवनैनीशिवनैनी
गगनदीप वर्मागगनदीप वर्मा
शिवनैनी की लाश ले जाते रिलेटिव।शिवनैनी की लाश ले जाते रिलेटिव।
गगनदीप वर्मा और उसकी बेटी शिवनैनी वर्मा के परिजन विलाप करते हुए।गगनदीप वर्मा और उसकी बेटी शिवनैनी वर्मा के परिजन विलाप करते हुए।
कोठी के सामने खाली प्लाट हंै। अंदेशा है हत्यारे इसी रास्ते से आए हों।कोठी के सामने खाली प्लाट हंै। अंदेशा है हत्यारे इसी रास्ते से आए हों।
गगनदीप वर्मा के भाई से घटना के बारे में जानकारी लेती सीआईए की टीम।गगनदीप वर्मा के भाई से घटना के बारे में जानकारी लेती सीआईए की टीम।
घटनास्थल की जांच कर लौटती सीआईए की टीम।घटनास्थल की जांच कर लौटती सीआईए की टीम।
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..