--Advertisement--

इस बात के कारण भूख-हड़ताल पर बैठे थे लोग, फिर पुलिस ने ऐसे जबरदस्ती उठाया

लंगर पर टैक्स लगाना बिलकुल गलत है।

Danik Bhaskar | Mar 08, 2018, 03:30 AM IST

अमृतसर. गुरुद्वारों के लंगर में प्रयोग होने वाले सामान पर जीएसटी लगाए जाने के विरोध में भूखहड़ताल पर बैठे टीएमसी और समाज सेवी संस्थाओं के लोगों को एमपी गुरजीत सिंह औजला द्वारा समर्थन दिए जाने के 2 घंटे बाद ही पुलिस ने जबरदस्ती उठा दिया। 12.25 पर एसीपी नरिंदर सिंह और एसएचओ ने बल का प्रयोग करते हुए उन्हें जबरदस्ती उठाते हुए हिरासत में ले लिया। इससे पहले ज सांसद औजला ने प्रदर्शनकारियों से कहा कि वह लंगर से जीएसटी हटाने लिए संसद में आवाज उठाएंगे। लंगर पर टैक्स लगाना बिलकुल गलत है। ये था घटनाक्रम...

- अहम बात यह रही कि सुबह 10.35 पर सांसद गुरजीत औजला वहां उनकी हिमायत के लिए पहुंचे और 11 बजे तक डीसी ने वर्करों को वहां से हटने का फरमान दे दिया।
- भूख हड़ताल कर रहे लोगों को वहां से उठाने लिए पुलिस को भी निर्देश दिए।
- वहां मौजूद थाना ई डिवीजन की एसएचओ राजविंदर कौर को कार्रवाई करने का कह डीसी चले गए।
- जानकारी के मुताबिक कोई भी वहां पर पंजाब सरकार के हिस्से का जीएसटी खत्म करने का स्पष्ट जवाब नहीं दे सके।
- जब औजला से पूछा गया कि क्या पंजाब सरकार अपने हिस्से का जीएसटी एसजीपीसी को वापस दे रही है तो इसका कोई स्पष्ट जवाब देने की जगह उन्होंने सारा ठीकरा केंद्र के सिर ही फोड़ा।

लड़की को नीचे उतारती महिला पुलिस। लड़की को नीचे उतारती महिला पुलिस।