Hindi News »Punjab »Amritsar» Questions On Encounter On Social Media

सोशल मीडिया पर एनकाउंटर पर भी उठाए सवाल, गौंडर के पास थे 1.15 करोड़, कहां गए

एनकाउंटर को जहां फर्जी बताया

Bhaskar News | Last Modified - Feb 02, 2018, 05:56 AM IST

  • सोशल मीडिया पर एनकाउंटर पर भी उठाए सवाल, गौंडर के पास थे 1.15 करोड़, कहां गए

    अबोहर.एनकाउंटर के बाद गैंगस्टर गौंडर के समर्थकों ने सोशल मीडिया पर एक पत्र जारी कर पुलिस पर सवाल उठाए। एनकाउंटर को जहां फर्जी बताया वहीं सवाल उठाया कि एनकाउंटर के समय गौंडर के पास 1.15 करोड़ नकद, एक ब्रांडेड जीप और तीन किलो अफीम भी थी। लेकिन पुलिस ने सबकुछ खुर्दबुर्द कर दिया। पुलिस जवाब देने को भी तैयार नहीं है। वीरवार को वायरल पत्र गौंडर के नाम से है। उधर, एनकाउंटर करने वाले ओकु विंग के एएआईजी संदीप गोयल ने कहा, पत्र की प्रति उनके पास आई है पर झूठी है। उनको न पैसा और अन्य सामान नहीं मिला।


    पत्र में लिखा है कि ‘पुलिस ने मेरी हत्या को एनकाउंटर बताया है, वह फेक था। मैं खुद पेश होना चाहता था। इंस्पेक्टर बिक्रमजीत बराड़ बच्चों की कसम उठाएं कि मैंने (विक्की) पुलिस पर गोली चलाई। धोखे से मुझे पकड़ कर मार दिया। मेरे पास 1.15 करोड़ की भारतीय करंसी, तीन किलो अफीम, एक जीप भी थी। पुलिस ने इसका जिक्र क्यों नहीं किया। मैं सीएम से पूछना चाहता हूं कि मेरा फेक एनकाउंटर किया और आप वेल्डन ब्वायज का ट्वीट कर रहे हो। मुझे और प्रेम लाहौरिए को तो चलो आपने गैंगस्टर कहकर मरवा दिया, पर जो वीर तेजा हमारे साथ था वह कौन सा गैंगस्टर था। अब यह समझ आया कि वह बच जाता तो फेक एनकाउंटर का प्रमुख गवाह वो ही होता, इसलिए पुलिस ने उसे भी मार दिया।

    गौंडर परिवार को बयान दर्ज कराए बिना ही लौटना पड़ा

    एनकाउंटर की मजिस्ट्रेट जांच को श्रीगंगानगर के अफसरों से मिलने गौंडर के पिता व उनके मामा गए थे। विक्की गौंडर के मामा गुरभेज सिंह ने कहा कि जिला मजिस्ट्रेट राय सिंह गंगानगर गए होने से उनके बयान नहीं हो पाए।

    दो अारोपी पुलिस रिमांड पर

    पुलिस ने अारोपी मनप्रीत सिंह निवासी रानियां सिरसा और रमनदीप सिंह उर्फ रोमी निवासी गांव मदाना जिला बठिंडा को कोर्ट में पेश किया। पुलिस ने 8 दिन का रिमांड मांगा था। कोर्ट से कहा कि गैंगस्टर गौंडर, नीटा दयोल, गुरप्रीत सेखों सहित दूसरे आतंकियों से संबंध के बारे में जानकारी जुटानी है। जज ने 6 फरवरी तक पुलिस रिमांड दे दिया।

    बंद कमरे में किए घायल पुलिसवालों के बयान दर्ज

    राजस्थान पुलिस अफसरों ने फरीदकोट के मेडिकल काॅलेज में दाखिल मुठभेड़ में घायल हुए एसआई बलविंदर सिंह और एएसआई कृपाल सिंह के बयान दर्ज किए।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Amritsar

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×