--Advertisement--

सैनी मोटर केस- पूर्व डीजीपी सुमेध सैनी के खिलाफ अहम गवाह अमर कौर का निधन

23 साल से केस लड़ रही थी 100 साल की अमर कौर, 10 साल से अधरंग होने पर भी हर तारीख पर होती थीं पेश।

Dainik Bhaskar

Dec 13, 2017, 05:17 AM IST
Saini motor case

होशियारपुर. लगभग 23 साल से इंसाफ का इंतजार कर रही दो बूढ़ी आंखें आखिर हमेशा के लिए बंद हो गईं। पंजाब पुलिस के पूर्व डीजीपी सुमेध सिंह सैनी पर चल रहे सैनी मोटर केस की अहम गवाह माता अमर कौर जिनकी उम्र 100 साल से ज्यादा बताई जाती है का मंगलवार को दिल्ली के साउथ एक्सटेंशन पार्ट 2 में निधन हो गया।

उनके एक बेटे और बेटे के साले समेत ड्राइवर को अपहरण कर कत्ल करने का आरोप सुमेध सिंह सैनी पर लगा था और इसका केस दिल्ली की तीस हजारी अदालत में चल रहा है। अमर कौर के बेटे आशीष कुमार ने बताया कि उनका बुधवार को संस्कार किया जाएगा।


15 मार्च 1994 को उनके विनोद कुमार, विनोद के साले अशोक कुमार और ड्राइवर मुख्तियार सिंह को पंजाब एंड हरियाणा हाईकोर्ट से अगवा किया गया था। उनका आज तक कोई पता नहीं चला और इस केस की जांच सीबीआई ने की थी। सीबीआई ने जांच कर सुमेध सिंह सैनी और तीन पुलिस अफसरों को आरोपी बनाते हुए चार्जशीट फाइल की थी। 2008 में अमर कौर ने इस केस में अहम गवाई दी थी और वह पिछले 10 सालों से अधरंग से पीड़ित होने के बावजूद लगातार स्ट्रैचर पर अदालत जाती रहीं।

बता दें कि उनके एक बेटे प्रमोद कुमार ने खुदकुशी कर ली थी। यही नहीं सुमेध सिंह सैनी के साथ विवाद के दौरान 4 मार्च 1994 को माता अमर कौर के पति रतन सिंह आहलुवालिया का निधन हो गया था। इस केस उल्लेखनीय थी कि कल 13 दिसम्बर को इस केस की सुनवाई तीस हजारी में अंशु बजाज चांदना अतिरिक्त सेशन जज की कोर्ट में होनी है और इस केस में जस्टिस राजीव भल्ला की गवाही चल रही है।

X
Saini motor case
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..