--Advertisement--

एक्सीडेंट के बाद बस से बाहर आकर बैठे बच्चे, कहा- हमें रौंद देते ट्रक नहीं बचते जिंदा

47 बच्चे 3 टीचर बस में थे सवार, 7 स्टूडेंट हादसे में हो गए जख्मी।

Dainik Bhaskar

Jan 17, 2018, 02:23 AM IST
एक्सीडेंट में मौके पर फैला खून। एक्सीडेंट में मौके पर फैला खून।

गोराया/संगरूर. मंगलवार सुबह 6:30 बजे साइंस सिटी देखने निकले 47 छात्रों और 3 अध्यापकों से भरी पीआरटीसी की बस करीब 8.30 बजे लुधियाना-जालंधर नेशनल हाईवे पर गोराया के पास खड़े ट्रक से टकरा गई। धुंध के कारण चावल लदे ट्रक को ड्राइवर ने रास्ता पूछने के लिए रोका था। बस में तुंगा गांव स्थित सरकारी सीनियर सेकेंडरी स्कूल के 9वीं व 10वीं के बच्चे थे। हादसे में ड्राइंग टीचर गुरचरण सिंह (55) की मौत हो गई। 47 स्टूडेंट में 7 बच्चे जख्मी हो गए। टक्कर इतनी जबरदस्त थी कि बस का बायां हिस्सा 10 फीट अंदर तक घुस गया। लोगों ने बच्चों को बस से उतारा।

सुखजिंदर और हुस्नदीप को फगवाड़ा के सिविल अस्पताल में भर्ती कराया गया। पवन, नवदीप, हरप्रीत, शीतल, नीलम रानी, दिलप्रीत, हरप्रीत व विक्की को बड़ा पिंड के अस्पताल में भर्ती हैं। इन्हें मामूली चोटें लगी हैं।

...तो सड़क पर बैठे हमें रौंद देते ट्रक
हादसे के बाद स्टूडेंट्स कुछ छात्र बाहर निकल आए कुछ को लोगों ने निकाला। इसके बाद सभी बाहर सड़क पर बैठ गए। कुछ मिनटों में पीछे से दो ट्रक आकर आपस में भिड़ गए। ट्रक चालक ब्रेक न लगाते तो सड़क पर बैठे बच्चे रौंद जाते। हादसे के बाद कुछ लोग मदद के बजाय मोबाइल से मूवी बनाने लगे जबकि गुरचरण सर बस में बुरी तरह फंसे हुए थे। बाद में दम तोड़ दिया। - जैसा कि 10वीं की छात्रा रेणु ने रोते हुए बताया।

दो ट्रक साथ-साथ चल रहे थे। एक ट्रक रुक गया। बस की स्पीड 60-65 की थी। बचाते-बचाते भी टक्कर हो गई। -दलजीत सिंह, बस ड्राइवर।

एक किलोमीटर से एक घंटे में आई पुलिस
गोराया के एडवोकेट इंद्रजीत वर्मा ने बताया कि खबर मिलते ही वे पहुंचे तो बच्चे डरे हुए थे। मदद को चिल्ला रहे थे। बच्चों को बाहर निकाला। गोराया थाने फोन किया लेकिन सिर्फ एक किलोमीटर होने के बाद भी पुलिस एक घंटे बाद पहुंची।

मदद छोड़ वीडियो बना रहे थे लोग
स्टूडेंट्स ने बताया कि हम लोग डर के मारे रो रहे थे लेकिन मदद के बजाय लोग वीडियो बना रहे थे।

मुख्यमंत्री ने जताया दुख
मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह और शिक्षा मंत्री अरुणा चौधरी ने हादसे पर दुख व्यक्त किया है। जख्मी बच्चों के जल्दी सेहतमंद होने की कामना करते हुए चौधरी ने भरोसा दिया कि जख्मी बच्चों और मृतक अध्यापक के परिवार को हर संभव सहायता दी जाएगी।

बस और ट्रक की भिडंत। बस और ट्रक की भिडंत।
एक्सीडेंट के बाद स्टूडेंट्स। एक्सीडेंट के बाद स्टूडेंट्स।
बस में फंसे टीचर गुरचरण सिंह। बस में फंसे टीचर गुरचरण सिंह।
बस में फंसे टीचर गुरचरण सिंह। बस में फंसे टीचर गुरचरण सिंह।
एक्सीडेंट के बाद ऐसा हाल था बस का। एक्सीडेंट के बाद ऐसा हाल था बस का।
एक्सीडेंट के बाद घायल । एक्सीडेंट के बाद घायल ।
एक्सीडेंट के बाद लोग बच्चों की सलामती की दुआएं मांगते रहे। एक्सीडेंट के बाद लोग बच्चों की सलामती की दुआएं मांगते रहे।
X
एक्सीडेंट में मौके पर फैला खून।एक्सीडेंट में मौके पर फैला खून।
बस और ट्रक की भिडंत।बस और ट्रक की भिडंत।
एक्सीडेंट के बाद स्टूडेंट्स।एक्सीडेंट के बाद स्टूडेंट्स।
बस में फंसे टीचर गुरचरण सिंह।बस में फंसे टीचर गुरचरण सिंह।
बस में फंसे टीचर गुरचरण सिंह।बस में फंसे टीचर गुरचरण सिंह।
एक्सीडेंट के बाद ऐसा हाल था बस का।एक्सीडेंट के बाद ऐसा हाल था बस का।
एक्सीडेंट के बाद घायल ।एक्सीडेंट के बाद घायल ।
एक्सीडेंट के बाद लोग बच्चों की सलामती की दुआएं मांगते रहे।एक्सीडेंट के बाद लोग बच्चों की सलामती की दुआएं मांगते रहे।
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..