--Advertisement--

पिता ने कर्ज लेकर बनाया निशानेबाज, बेटे ने जापान में गोल्ड मेडल जीता

जापान में यूथ एशियन एयरगन चैंपियनशिप में मानसा के सुरिंदर िसंह ने दूसरी बार देश का नाम चमकाया।

Dainik Bhaskar

Dec 14, 2017, 06:38 AM IST
Son won gold medal in Japan

मानसा. जापान में हुई 10वीं यूथ एशियन एयरगन चैंपियनशिप में भारतीय टीम का प्रतिनिधित्व करने वाले मानसा जिले के गांव फफड़े भाईके के सुरिंदर सिंह ने एयर पिस्टल इवेंट में टीम के लिए गोल्ड मेडल हासिल किया है। टीम में यूपी का सौरव चौधरी और फतेहगढ़ साहिब का निशानेबाज अर्जुन सिंह चीमा भी शामिल था। सुरिंदर सिंह ने दूसरी बार यूथ एशियन चैंपियनशिप में देश का नाम चमकाया है।


पिछले साल इरान में हुई एशियन चैंपियनशिप में भी शानदार निशानेबाजी करते हुए चौथा स्थान हासिल किया था। इसके अलावा वह स्कूल स्तर पर हुए मुकाबले में दर्जनों मेडल सहित 50 मीटर में भी राष्ट्रीय स्तर पर गोल्ड मेडल जीत चुका है। अब सुरिंदर का अगला टारगेट में ओलंपिक में सिलेक्ट होकर देश के लिए मेडल जीतना है।

बठिंडा, जालंधर से ली ट्रेनिंग
शहर के डीएवी स्कूल में 12वीं में पढ़ने वाले सुरिंदर सिंह को स्कूल में शूटिंग रेंज न होने के चलते कई कठिनाइयों का भी सामना करना पड़ा। सुरिंदर ने गांव के ही छोटे से ट्रेनिंग सेंटर से शूटिंग की ट्रेनिंग लेनी शुरू की थी लेकिन वहां उच्च स्तरीय ट्रेनिंग की सुविधा नहीं हाेने से बठिंडा और जालंधर जाकर ट्रेनिंग ली। सुरिंदर सिंह के पिता कोच कुलदीप सिंह पीटीआई ने बताया, एक समय ऐसा भी आया जब उन्हें अपने बेटे की रेगुलर ट्रेनिंग के लिए पांच लाख कर्ज लेकर पिस्टल और कारतूस खरीदने पड़े थे। पिस्टल जर्मनी से मंगवाया था। उन्होंने बताया, 50 मीटर एयर पिस्टल के मुकाबले के लिए लाइसेंस बनवाने के लिए जब सुविधा सेंटर में आवेदन किया तो वहां भी काफी परेशानियां झेलनी पड़ीं।

मुकाबलों के लिए किराए पर पिस्टल लेना पड़ा
कुलदीप िसंह ने बताया, जर्मनी से मंगवाए गए पिस्टल के समय पर न आने के चलते उन्हें राष्ट्रीय स्तर के मुकाबलों के लिए पिस्टल किराए पर लेना पड़ा। जिसका प्रति मैच चार हजार किराया देना पड़ा। किराए के पिस्टल के बावजूद सुरिंदर तीसरे रैंक पर था, लेकिन आखिरी मैच जिसमें जूनियर विश्व कप के लिए चयन होना था, उसमें वह चौथे स्थान पर चला गया। उन्हें इस बात का रंज है कि यदि उनके बेटे के पास पिस्टल होती तो वह शायद इस प्रतियोगिता में नहीं चुकता।

ओलंपिक तैयारी के लिए सरकार करे सुरिंदर की मदद : हरदीप सिद्धू
शिक्षा विकास मंच मानसा के प्रधान हरदीप सिद्धू ने सुरिंदर सिंह की एशियन चैंपियनशिप में बड़ी प्राप्ति पर गर्व महसूस करते हुए कहा कि पंजाब सरकार को ओलंपिक खेल के लिए सुरिंदर सिंह को सभी सुविधाएं मुहैया करवानी चाहिए।

X
Son won gold medal in Japan
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..