Hindi News »Punjab »Amritsar» Sonu Sood Reached Moga And Talking About Platoon Movie

सोनू सूद बने 'आर्मी अफसर', इस कारण CM के कहने पर भी पॉलिटिक्स में नहीं आए

बॉलीवुड स्टार सोनू सूद सीधे मोगा अपने घर पहुंचे। सोमवार को मीडिया से उन्होंने अवार्ड मिलने की खुशी बांटी।

Bhaskar News | Last Modified - Dec 19, 2017, 02:35 AM IST

  • सोनू सूद बने 'आर्मी अफसर', इस कारण CM के कहने पर भी पॉलिटिक्स में नहीं आए
    +6और स्लाइड देखें
    मोगा में अपनी बहन मालविका सच्चर के साथ सोनू सूद।

    मोगा.1971 की हिंद-पाक युद्ध में हुई जीत को लेकर पंजाब सरकार की तरफ से बाॅर्डर पर मनाए गए विजय दिवस पर पंजाब रत्न अवॉर्ड मिलने के बाद बॉलीवुड स्टार सोनू सूद सीधे मोगा अपने घर पहुंचे। सोमवार को मीडिया से उन्होंने अवार्ड मिलने की खुशी बांटी। उन्होंने कहा- बॉलीवुड स्टार धर्मेंद्र के बाद उन्हें पंजाब रत्न अवाॅर्ड मिला हैं। आगे कहा कि जेपी दत्ता ने ‘पलटून’ मूवी में उनके आर्मी अफसर बनने का सपना पूरा किया कर दिया है।

    CM अमरिंदर ने चुनाव लड़ने को कहा था पर काम बिजी था
    राजनीति में आने के सवाल पर कहा, विधानसभा चुनाव में भी वह कैप्टन से मिले थे, उन्होंने मोगा की सेवा करने को कहा था। परंतु उस समय मेरा शेड्यूल टाइट था। उन्होंने कहा, भविष्य में वह राजनीति में तो आ सकते हैं पर चुनाव लड़ने के बाद यहां आ ना पाऊं और लोग मेरे गुमशुदगी के पोस्टर लगाते फिरें। अभी पक्का कुछ नहीं कहा जा सकता।

    पिता के सपने को किया पूरा
    हिंदी, तेलगू, तमिल व मलयालम समेत 85 मूवीों में काम कर चुके बाॅलीवुड स्टार ने बताया, उनके पिता शक्ति सागर सूद का सपना था कि वह आर्मी में बड़ा अधिकारी बनकर देश की सेवा करें लेकिन किस्मत को कुछ और मंजूर था। पहले इंजीनियर बन गया, फिर बॉलीवुड में स्टार बना। सोनू सूद ने बताया, पलटून मूवी हिंद-चीन की 1962 की जंग पर आधारित मूवी है, जिसमें एक पलटून ने दुश्मन के छक्के छुड़ा दिए थे। इसमें मैं आर्मी अधिकारी बना हूं। भावुक होते सोनू सूद ने कहा, जेपी दत्ता ने उनके पिता का सपना उस समय साकार किया है, जब वह इस दुनिया में नहीं हैं। पिछले साल सोनू सूद के पिता की मोगा में हार्ट अटैक से मौत हो गई थी।

    लद्दाख में चल रही है शूटिंग
    खुद को संभालते सोनू कहते हैं, पलटून मूवी की शूटिंग लद्दाख में चल रही है। इस समय वहां का टेंपरेचर माइनस 20 डिग्री है। दत्ता साहिब ने फैसला किया था कि जहां 24 घंटे हमारी आर्मी ड्यूटी पर रहती है, वहीं पर शूटिंग होगी। उन्होंने बताया कि आर्मी की शूटिंग नकली एम्यूनेशन से नहीं हो सकती इसलिए हमारी टीम ने इजाजत लेने के बाद आर्मी से हथियार चलाने सीखे और फिर शूटिंग में भाग लिया।

    अवॉर्ड मिलने की सूचना भी शूटिंग के दौरान मिली
    सोनू ने बताया कि उन्हें पंजाब रत्न देने की सूचना भी शूटिंग दौरान ही मिली थी और वह सीधे लद्दाख से विजय दिवस समागम में पहुंचे थे। उन्होंने बताया, वहां हिंद-पाक 1971 की जंग में भाग लेने वाले आर्मी जवानों व उनके परिवार वालों से मिलने का अवसर मिला। यह पल मेरे जीवन का अहम पल रहा।

    अच्छी स्क्रिप्ट पर पंजाबी मूवी जरूर बनाऊंगा
    होम प्रॉडक्शन में पंजाबी मूवी बनाने संबंधी पूछने पर सोनू सूद ने कहा, अब पंजाबी सिनेमा की मार्केट इंटरनेशनल स्तर की हो गई है। उन्हें खुशी होगी पंजाबी मूवी करने पर और अच्छी स्क्रिप्ट मिलने के बाद वह पंजाबी मूवी जरूर बनाएंगे।

  • सोनू सूद बने 'आर्मी अफसर', इस कारण CM के कहने पर भी पॉलिटिक्स में नहीं आए
    +6और स्लाइड देखें
    सेल्फी लेते हुए सोनू सूद।
  • सोनू सूद बने 'आर्मी अफसर', इस कारण CM के कहने पर भी पॉलिटिक्स में नहीं आए
    +6और स्लाइड देखें
    अवार्ड लेते हुए सोनू सूद।
  • सोनू सूद बने 'आर्मी अफसर', इस कारण CM के कहने पर भी पॉलिटिक्स में नहीं आए
    +6और स्लाइड देखें
    अवार्ड के साथ सोनू सूद।
  • सोनू सूद बने 'आर्मी अफसर', इस कारण CM के कहने पर भी पॉलिटिक्स में नहीं आए
    +6और स्लाइड देखें
    सोनू सूद मोगा स्थित अपने घर भी पहुंचे थे।
  • सोनू सूद बने 'आर्मी अफसर', इस कारण CM के कहने पर भी पॉलिटिक्स में नहीं आए
    +6और स्लाइड देखें
    CM अमरिंदर सिंह के साथ सोनू सूद।
  • सोनू सूद बने 'आर्मी अफसर', इस कारण CM के कहने पर भी पॉलिटिक्स में नहीं आए
    +6और स्लाइड देखें
    सोनू सूद।
आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Amritsar

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×