--Advertisement--

सही रेट न मिलने से स्टोर मालिक ने सड़क किनारे फेंके आलू, महंगा पड़ा संभालना

आलू की ज्यादा पैदावार और कम हाेती सेल से किसानों को नुकसान हो रहा है।

Danik Bhaskar | Jan 17, 2018, 04:55 AM IST

जालंधर. आलू की ज्यादा पैदावार और कम हाेती सेल से किसानों को नुकसान हो रहा है। आलू स्टोर करना भी घाटे का सौदा है। किसान स्टोर में रखे आलू का खर्च नहीं उठा पा रहे। स्टोर मालिक सड़कों पर आलू फेंक रहे हैं। काला संघिया रोड, नकाेदर रोड, जंडूसिंघा समेत कई इलाकों में स्टोर मालिक रात के अंधेरे में आलू सड़कों पर फेंक रहे हैं।

महंगा पड़ रहा आलू संभालना
स्टोर मालिकों को आलू संभालना महंगा पड़ रहा है। कोल्ड स्टोरेज मालिक दिनेश जैन ने कहा कि होलसेल में आलू का रेट 200 रुपये प्रति क्विंटल तक आ गया है। इस आलू को स्टोर में रखने की कीमत 150 रुपये क्विंटल के लगभग है। उन्हें आलू को स्टोर करना महंगा पड़ रहा है।

मंदी का कारण
आलू की पैदावार में तेजी है। मार्केट में डिमांड कम है। यूपी-बिहार बड़ी मार्केट था लेकिन अब वहां पैदावार बढ़ने लगी है। असम में ही आलू भेजे जा रहे हैं। मार्केट में पैसा नहीं, व्यापारी आलू नहीं खरीद रहे हैं। पहले स्टाेर करने के लिए ही खरीद लेते थे।