Hindi News »Punjab »Amritsar» Teacher Dead In Front Of His Student

एक जोर का झटका और चीखों ने रोंगटे खड़े कर दिए...बताते रोने लगी 10th की स्टूडेंट

गोराया के पास बस-ट्रक हादसा : हादसे के बाद गांव पहुंचे स्टूडेंट फैमिली के गले लगकर कर रोए, सहम गए थे सभी।

Puneet garg | Last Modified - Jan 17, 2018, 11:30 AM IST

    • सड़क हादसे में अध्यापक की मौत के बाद गम से बाहर नहीं निकल पा रही थी छात्रा अमनदीप कौर।

      संगरूर. सुबह के समय धुंध बहुत अधिक थी। बस में सभी स्टूडेंट अपनी बातों में मगन थे। बच्चे शोर मचा रहे थे तो टीचर गुरचरण सिंह सभी को शोर नहीं मचाने की बात कर बस में आगे जाकर बैठ गए। इतने में जोरदार झटका लगा। सभी स्टूडेंट अगली सीटों से टकरा गए। सभी बच्चे चीखने-चिल्लाने लगे। जिससे 7 स्टूडेंट्स को चोट भी आई। कुछ मिनटों में ही पीछे से दो ट्रक आकर आपस में भिड़ गए। ट्रक ब्रेक न लगाता तो सड़क पर बैठे स्टूडेंट्स बुरी तरह से रौंद दिए जाते। एक बार फिर बच्चों की चीखों ने हमारे रोंगटे खड़े कर दिए। लोग हमारी मदद करने की जगह वीडियो बनाने में बिजी थे। गुरचरण सर बस में बुरी तरह फंस कर दम तोड़ चुके थे। इतना कहते ही 10th की स्टूडेंट रेणु फूट-फूट कर रोने लगी।

      ऐसे हुआ था हादसा

      मंगलवार सुबह 6:30 बजे साइंस सिटी देखने निकले 47 स्टूडेंट्स और 3 टीचर्स से भरी पीआरटीसी की बस करीब 8.30 बजे लुधियाना-जालंधर नेशनल हाईवे पर गोराया के पास खड़े ट्रक से टकरा गई। धुंध के कारण चावल लदे ट्रक को ड्राइवर ने रास्ता पूछने के लिए रोका था। बस में तुंगा गांव स्थित सरकारी सीनियर सेकेंडरी स्कूल के 9th व 10th के बच्चे थे। हादसे में ड्राइंग टीचर गुरचरण सिंह (55) की मौत हो गई। 47 स्टूडेंट में 7 बच्चे जख्मी हो गए। टक्कर इतनी जबरदस्त थी कि बस का बायां हिस्सा 10 फीट अंदर तक घुस गया।

      हादसे की सूचना मिलने के बाद कोई काम पर नहीं गया
      घटना में नीलम रानी, हुसनप्रीत सिंह, हरप्रीत सिंह, कर्मजीत सिंह, दिलप्रीत सिंह, शीतल समेत टीचर हरभजन कौर घायल हुए हैं। अपनी बेटी को लेने पहुंचे केवल सिंह का कहना है कि जब से हादसे की सूचना मिली है। काम पर नहीं गए। बेटी को देखने के लिए 3 घंटे से स्कूल में बैठे हैं। बेटी को गले मिलकर सुकून मिला।

      बच्चों और फूलों से बहुत प्यार करते थे टीचर गुरचरण सिंह


      हादसे में मृतक गुरचरण सिंह की उम्र करीब 55 वर्ष की थी। वह संगरूर की ऑफिसर काॅलोनी के रहने वाले थे। तुंगां में वर्ष 2010 से ड्राइंग मास्टर के पद पर तैनात थे। गांव निवासी गुरमेल सिंह, हरभजन सिंह का कहना है कि गुरचरण सिंह की मौत से परिवार के साथ-साथ स्कूल को बहुत घाटा पड़ा है। गुरचरण सिंह हरियाली और फूलों को बहुत प्यार करते थे। जिस कारण स्कूल में कई फूलों के पौधे भी लगे हैं। जब कोई बच्चा स्कूल नहीं आता था तो वह बच्चे को लेने उनके घर पहुंच जाते थे। वह छात्रों के हरमन प्यारे थे।

      आगे की स्लाइड्स में देखें फोटोज...

    • एक जोर का झटका और चीखों ने रोंगटे खड़े कर दिए...बताते रोने लगी 10th की स्टूडेंट
      +10और स्लाइड देखें
      बस में फंसे टीचर गुरचरण सिंह।
    • एक जोर का झटका और चीखों ने रोंगटे खड़े कर दिए...बताते रोने लगी 10th की स्टूडेंट
      +10और स्लाइड देखें
      एक्सीडेंट के बाद लोगों का भी रो-रोकर बुरा हाल था।
    • एक जोर का झटका और चीखों ने रोंगटे खड़े कर दिए...बताते रोने लगी 10th की स्टूडेंट
      +10और स्लाइड देखें
      बेटी को संभालते मां बाप।
    • एक जोर का झटका और चीखों ने रोंगटे खड़े कर दिए...बताते रोने लगी 10th की स्टूडेंट
      +10और स्लाइड देखें
      बस में 47 स्टूडेंट्स और 3 टीचर्स सवार थे।
    • एक जोर का झटका और चीखों ने रोंगटे खड़े कर दिए...बताते रोने लगी 10th की स्टूडेंट
      +10और स्लाइड देखें
      एक्सीडेंट के बाद लोग बच्चों की सलामती की दुआएं मांगते रहे।
    • एक जोर का झटका और चीखों ने रोंगटे खड़े कर दिए...बताते रोने लगी 10th की स्टूडेंट
      +10और स्लाइड देखें
      एक्सीडेंट के बाद घायल युवक।
    • एक जोर का झटका और चीखों ने रोंगटे खड़े कर दिए...बताते रोने लगी 10th की स्टूडेंट
      +10और स्लाइड देखें
      बच्चों को गले लगाकर रोते हुए रिलेटिव।
    • एक जोर का झटका और चीखों ने रोंगटे खड़े कर दिए...बताते रोने लगी 10th की स्टूडेंट
      +10और स्लाइड देखें
      बस और ट्रक की भिडंत।
    • एक जोर का झटका और चीखों ने रोंगटे खड़े कर दिए...बताते रोने लगी 10th की स्टूडेंट
      +10और स्लाइड देखें
      एक्सीडेंट के बाद सदमे में स्टूडेंट।
    • एक जोर का झटका और चीखों ने रोंगटे खड़े कर दिए...बताते रोने लगी 10th की स्टूडेंट
      +10और स्लाइड देखें
      लड़की अपने फ्रेंड्स के साथ।
    आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
    दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए Amritsar News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
    Web Title: Teacher Dead In Front Of His Student
    (News in Hindi from Dainik Bhaskar)

    More From Amritsar

      Trending

      Live Hindi News

      0

      कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
      Allow पर क्लिक करें।

      ×