Hindi News »Punjab News »Amritsar News» Uncle Denied To Recognize Of Daughter In Law

गैंगस्टर भतीजे की पत्नी को किया था पहचानने से इनकार, शादी में देते दिखे शगुन

Bhaskar News | Last Modified - Dec 19, 2017, 02:45 AM IST

गैंगस्टर के मामा ने कहा था- पत्नी होने का दावा करने वाली महिला को नहीं जानते, जायदाद हड़पना चाहती है।
  • गैंगस्टर भतीजे की पत्नी को किया था पहचानने से इनकार, शादी में देते दिखे शगुन
    +5और स्लाइड देखें
    फोटो में प्रभदीप और अमनदीप को शगुन डालती सास राजिंदर कौर व चाचा जगदेव।

    बठिंडा. 15 दिसंबर को बठिंडा एनकाउंटर में मारे गए गैंगस्टर प्रभदीप की पत्नी होने का दावा करने वाली चंडीगढ़ की अमनदीप कौर ने सबूत के तौर पर मैरिज सटिर्फिकेट और शादी की फोटोज दिखा दी हैं। बता दें इनमें एक फोटो में अमनदीप ने शादी में शामिल प्रभदीप के चाचा जगदेव सिंह और सास राजिंदर कौर के शगुन डालते हुए भी फोटो हैं। कहा- इस फैमिली की बहू हूं, अधिकार लेकर रहूंगी...

    - गैंगस्टर प्रभदीप के चाचा जगदेव िसंह ने पुलिस को दिए बयान में कहा था कि वह इस लड़की को जानते तक नहीं।
    - अब उन्होंने इस मामले में कुछ बोलने से इनकार कर दिया है। अमनदीप ने कहा, वह इस परिवार की बहू है और अपना हक लेकर रहेगी।
    - अमनदीप ने आरोप लगाया, उसके पहुंचने से पहले ही प्रभदीप का संस्कार कर दिया गया।
    - उसने जब फोन पर मामा कुलराज और अन्य रिश्तेदारों से बात की तो उन्होंने उसे काफी बुरा-भला कहा और उसे घर में दाखिल तक नहीं होने दिया गया। प्रभदीप की प्रॉपर्टी का कोई लालच नहीं है।
    - उसके ससुराल वाले उसे पहचानने से इंकार कर रहे हैं जबकि वह उनकी बहू है। उसकी सास से भी मिलने नहीं दिया जा रहा है।

    अमनदीप बोली, अबोहर के गुरुद्वारा में हुई थी प्रभदीप से शादी, सास व जगदेव आए थे
    - अमनदीप ने बताया कि उसकी प्रभदीप से शादी अबोहर के गुरुद्वारा श्री नानकसर टोभा में 16 नवंबर 2015 को हुई थी।
    - शादी में उसके मामा कुलराज नहीं थे जबकि चाचा जगदेव और सास राजिंदर कौर आए थे।
    - एक फोटो में दोनों साथ खड़े होकर उसे और प्रभदीप को शगुन दे रहे हैं।
    - अमनदीप का आरोप है कि उसे प्रभदीप के संस्कार में भी पहुंचने नहीं दिया। हॉस्पिटल में भी उसका चेहरा देखने नहीं दिया और उसके मामा कुलराज और चाचा जगदेव सिंह ने पुलिस को साफ कह दिया था कि वह इस लड़की को जानते तक नहीं।

    लाश देखने पहुंची तो पुलिस ने मांगे थे शादी के सबूत
    - अमनदीप ने बताया, प्रभदीप की मौत के बाद अगले दिन लाश देखने वह अस्पताल पहुंची थी।
    - मर्चुरी के गेट पर SP D स्वर्ण सिंह खन्ना समेत पुलिस मुलाजिमों से उसकी 20 मिनट बहस भी हुई थी।
    - उसने गेट फांदने की भी कोशिश की लेकिन उसे नहीं जाने दिया और मायूस हो लौटना पड़ा।
    - पुलिस ने उससे शादी का सबूत मांगा था जो वह उस समय दे नहीं पाई थी।

    आगे की स्लाइड्स में देखें संबंधित फोटोज...

  • गैंगस्टर भतीजे की पत्नी को किया था पहचानने से इनकार, शादी में देते दिखे शगुन
    +5और स्लाइड देखें
    प्रभदीप और अमनदीप की शादी।
  • गैंगस्टर भतीजे की पत्नी को किया था पहचानने से इनकार, शादी में देते दिखे शगुन
    +5और स्लाइड देखें
    चाचा जगदेव।
  • गैंगस्टर भतीजे की पत्नी को किया था पहचानने से इनकार, शादी में देते दिखे शगुन
    +5और स्लाइड देखें
    सास राजिंदर कौर
  • गैंगस्टर भतीजे की पत्नी को किया था पहचानने से इनकार, शादी में देते दिखे शगुन
    +5और स्लाइड देखें
    हॉस्पिटल में गैंगस्टर।
  • गैंगस्टर भतीजे की पत्नी को किया था पहचानने से इनकार, शादी में देते दिखे शगुन
    +5और स्लाइड देखें
    अमनदीप कौर
आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए Amritsar News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: Uncle Denied To Recognize Of Daughter In Law
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

Stories You May be Interested in

      More From Amritsar

        Trending

        Live Hindi News

        0
        ×