अमृतसर

--Advertisement--

गैंगस्टर की 60 गोलियां मारकर की थी हत्या, फिर लाश के पास किया था भांगड़ा

9 से ज्यादा हत्याएं, नाभा जेलब्रेक, लूटपाट, डकैती और फिरौती की करीब 34 से ज्यादा केस थे

Danik Bhaskar

Jan 28, 2018, 02:19 AM IST
विक्की गौंडर। विक्की गौंडर।

बठिंडा. नाभा जेल से फरार होने के बाद चर्चा में आने वाले कुख्यात गैंगस्टर विक्की गौंडर का राजपुरा पुलिस ने राजस्थान के हिंदूमल कोट के गांव पक्का टिब्बी की टहनी में एनकाउंटर कर दिया। इसमें उसका साथी प्रेमा लाहौरिया और सुखप्रीत बुड्ढा भी मारे गए। गौंडर और लाहौरिया की मौके पर ही मौत हो गई, जबिक बुड्‌ढा ने हॉस्पिटल ले जाते समय दम तोड़ दिया। बता दें कि गौंडर की सबसे बड़ी वारदात गुरप्रीत सेखों, रम्मी मछाना, प्रेमा लाहौरिया, नीटा दयौल के साथ मिलकर फगवाड़ा पुलिस हिरासत में गैंगस्टर सुक्खा काहलवां की 60 गोलियां मारकर हत्या की थी फिर इससे बाद वहीं मौके पर भंगड़ा भी किया था। ऐसे बना था गैंगस्टर...

- हिंदूमलकोट में पुलिस एनकाउंटर में साथी प्रेमा लाहौरिया और एक अन्य के साथ मारा गया गैंगस्टर विक्की गौंडर कभी पंजाब के कुख्यात गैंगस्टर जयपाल भुल्लर का राइट हैंड हुआ करता था।
- गिरोह के सरगना शेरा खुब्बन के 6 सितंबर 2012 को बठिंडा में हुए एनकाउंटर के बाद विक्की गौंडर जयपाल भुल्लर, तीर्थ ढिल्लवां, चंदू और असलम के साथ गिरोह चलाने लगा था।
- बाद में ये पंजाब, राजस्थान में कई वारदातें कीं। मगर 2014 में गौंडर ने प्रेमा लाहौरिया से मिलकर गुरप्रीत सेखों की मदद से अपना अलग गैंग बना लिया था।
- इसके बाद जनवरी 2015 से लेकर जनवरी 2018 तक लगातार तीन साल पंजाब में गौंडर गैंग का आतंक रहा और इन्होंने हत्या, डकैती, लूट और फिरौती जैसी कई वारदातें की।
- अब गौंडर इंटरनेशनल अपराधियों के टच में आ गया था। पुलिस को इसके गैंग को खत्म करना बड़ी चुनौती बन गई थी।
- गौंडर पर 9 से ज्यादा हत्याएं, नाभा जेलब्रेक, लूटपाट, डकैती और फिरौती की करीब 34 से ज्यादा आपराधिक केस दर्ज थे, जिनमें प्रेमा लाहौरिया भी उसके साथ था।

डिस्कस थ्रो का था नेशनल प्लेयर

- गैंगस्टर विक्की गोंडर डिस्कस थ्रो में नेशनल प्लेयर रह चुका है। इस गेम में विक्की ने नेशनल लेवल पर तीन गोल्ड और दो सिल्वर मेडल्स जीते थे।
- अपने स्कूलिंग टाइम में विक्की के कोच उस पर गर्व करते थे । मिड्स स्कूल में पढ़ते हुए उसने स्टेट लेवल खेला। उसके बाद पढ़ाई और ट्रेनिंग के लिए विक्की ने स्पीड एंड फंड एकेडमी ज्वाइन कर ली थी।
- 28 साल का हरजिंदर सिंह भुल्लर उर्फ विक्की गोंडर पंजाब का हाईवे डकैत था। वह पंजाब के मुक्तसर जिले के सरावां बोदला गांव और प्रकाश सिंह बादल के विधानसभा क्षेत्र में रहता था।
- विक्की जनवरी 2015 में फगवाड़ा के गैंगस्टर के सुक्खा काहलवां के मर्डर के बाद सुर्खियों में आया था। 2016 में वह नाभा जेल से फरार हो गया था और अब तक पुलिस की पहुंच से बाहर था।

आगे की स्लाइड्स में पढ़ें, विक्की गौंडर ने कैसे दिया था वारदातों को अंजाम...

Click to listen..