Hindi News »Punjab »Amritsar» Vicky Gounder Did Not Know How To Drive

गाड़ी तक चलाना नहीं जानता था ये गैंगस्टर, यूज करता था जर्मनी सहित कई विेदेशी सिम

9 से ज्यादा हत्याएं, नाभा जेलब्रेक, लूटपाट, डकैती और फिरौती की करीब 34 से ज्यादा केस थे

Bhaskar News | Last Modified - Jan 28, 2018, 04:32 AM IST

  • गाड़ी तक चलाना नहीं जानता था ये गैंगस्टर, यूज करता था जर्मनी सहित कई विेदेशी सिम
    +6और स्लाइड देखें
    विक्की गौंडर।

    जालंधर/बठिंडा. नाभा जेल से फरार होने के बाद चर्चा में आने वाले कुख्यात गैंगस्टर विक्की गौंडर का राजपुरा पुलिस ने राजस्थान के हिंदूमल कोट के गांव पक्का टिब्बी की टहनी में एनकाउंटर कर दिया। इसमें उसका साथी प्रेमा लाहौरिया और सुखप्रीत बुड्ढा भी मारे गए। बता दें कि गौंडर कार तक चलाना नहीं जानता था। मगर रोमी के संपर्क में आने के बाद यह हाईटेक हो गया था। साइप्रस भागना चाहता था गौंडर...

    - रोमी विक्की को विदेश से साइप्रस, जर्मनी, गल्फ कंटरी के इंटरनेशनल सिम कार्ड भेजता था, जिससे गौंडर पंजाब और इंडिया में अपना गैंग ऑपरेट करता था।

    - उसके इंटरनेशनल आपराधियों से रिश्ते इतने मजबूत हो गए थे कि वह नाभा जेल ब्रेक के बाद साइप्रस भागना चाहता था।

    - इसके लिए वह फर्जी पासपोर्ट बनवाने के लिए मोगा गया था। लेकिन हॉस्पिटल में मेडिकल करवाने गया तो डॉक्टर ने पहचान लिया, जिससे वह वहां से भाग निकला था।

    - इसके बाद गौंडर ने नवंबर में फर्जी पासपोर्ट के जरिए सिंगापुर भी निकलना था।

    दोस्तों के बीच गैंग की सरदारी बनी दुश्मनी

    - गैंग की सरदारी के लिए अच्छे दोस्त एक-दूसरे के दुश्मन बन गए। गौंडर पुलिस एनकाउंटर में मारा गया तो सुक्खा काहलवां को गौंडर गैंग ने ही मार दिया।

    - इस दुश्मनी में अब तक 7 जानें जा चुकी हैं। इनके दोस्त होने की कहानी 2006 से जालंधर के स्पोर्ट्स कॉलेज से शुरू हुई थी।

    - विक्की गौंडर हैमर थ्रो का नेशनल प्लेयर तो प्रेम सिंह उर्फ प्रेमा हर्डल रेस का प्लेयर हुआ करता था।

    - इसी कॉलेज में गैंगस्टर दलजीत सिंह उर्फ भाना ने भी स्टडी की। यहां पर अकसर सुक्खा काहलवां का आना जाना था।

    - सुक्खा के पिता एनआरआई थे, तो उसके पास पैसे की कमी नहीं थी। कहीं भी पंगा होता तो सबसे पहले सुक्खा पहुंचता था। सुक्खा की दिलेरी को लेकर दोस्त उसे बॉस मानते थे।

    2010 में गौंडर ने की पहली हत्या
    - जालंधर के जीटीबी नगर में 16 सितंबर 2010 की रात विक्की गौंडर ने नवजोत सिंह सरजू की गाड़ी छीनते हुए उसकी हत्या कर दी। यह गौंडर की पहली हत्या थी।

    - पुलिस के लिए सुक्खा और गौंडर सिरर्दद बन गए। सुक्खा को मारने के बाद गौंडर पगड़ीधारी से क्लीन शेव हो गया।

    - 2011 में दिल्ली के पास एक लाश मिली। डीएल पर विक्की लिखा था। यहां उसने अपने मरने की साजिश रची थी।

    आगे की स्लाइड्स में देखें संबंधित फोटोज...

  • गाड़ी तक चलाना नहीं जानता था ये गैंगस्टर, यूज करता था जर्मनी सहित कई विेदेशी सिम
    +6और स्लाइड देखें
    गैंगस्टर विकी गौंडर
  • गाड़ी तक चलाना नहीं जानता था ये गैंगस्टर, यूज करता था जर्मनी सहित कई विेदेशी सिम
    +6और स्लाइड देखें
    CM का पंजाब पुलिस को ट्वीट।
  • गाड़ी तक चलाना नहीं जानता था ये गैंगस्टर, यूज करता था जर्मनी सहित कई विेदेशी सिम
    +6और स्लाइड देखें
    गैंगस्टर विकी गौंडर की एनकाउंटर के बाद की फोटो।
  • गाड़ी तक चलाना नहीं जानता था ये गैंगस्टर, यूज करता था जर्मनी सहित कई विेदेशी सिम
    +6और स्लाइड देखें
    विक्की की फाइल फोटो।
  • गाड़ी तक चलाना नहीं जानता था ये गैंगस्टर, यूज करता था जर्मनी सहित कई विेदेशी सिम
    +6और स्लाइड देखें
    विक्की स्पोर्ट्स में नेशनल प्लेयर था।
  • गाड़ी तक चलाना नहीं जानता था ये गैंगस्टर, यूज करता था जर्मनी सहित कई विेदेशी सिम
    +6और स्लाइड देखें
    2010 में गौंडर ने की पहली हत्या
आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए Amritsar News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: Vicky Gounder Did Not Know How To Drive
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

More From Amritsar

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×