Hindi News »Punjab »Amritsar» Woman Death In Road Accident

लकड़ी बीनकर परिवार का पेट पालती थी, हुआ कुछ ऐसा कि हादसे में हुई मौत

संत फतेह सिंह कान्वेंट स्कूल की थी वैन सवा तीन बजे स्टाफ को छोड़ने जा रही थी तभी हुआ हादसा

Bhaskar News | Last Modified - Feb 15, 2018, 07:38 AM IST

  • लकड़ी बीनकर परिवार का पेट पालती थी, हुआ कुछ ऐसा कि हादसे में हुई मौत
    +2और स्लाइड देखें
    बठिंडा-मानसा रोड पर स्कूल वैन द्वारा महिला को कुचलने के मामले में मृतक महिला के परिजनों एवं धरनकारियों को समझाते एसएचओ मनोज कुमार

    मौड़ मंडी.बठिंडा-मानसा रोड पर स्थित संत फतेह सिंह कान्वेंट स्कूल के पास बुधवार को दोपहर करीब सवा तीन बजे स्कूल वैन के नीचे आने से एक महिला की मौत हो गई। मरने वाली महिला अपने साथी अन्य महिलाओं के साथ स्कूल के आगे पेड़ के नीचे बैठी हुई थी। जबकि संत फतेह कॉन्वेंट स्कूल की वैन स्कूल स्टाफ को लेकर मानसा के लिए रवाना हुई स्कूल से 50 फिट आगे जाने के बाद ही पेड़ के नीचे विश्राम कर रही महिला को कुचल दिया, जिससे महिला की मौके पर ही मौत हो गई। वहीं हादसे के बाद वैन चालक गाड़ी को लेकर फरार हो गया। परिजनों ने हादसे की सूचना पुलिस को दी। पुलिस टीम घटना स्थल पर देरी से करीब चार बजे पहुंची तो भड़के हुए परिजनों ने स्टेट हाईवे पर धरना लगाकर रोड जाम कर दिया।ये था मामला...

    जानकारी के अनुसार संत फतेह कॉन्वेंट स्कूल की स्टाफ वैन दोपहर बाद स्टाफ को बैठाकर ड्राइवर जब मानसा जाने के लिए वैन को रोड पर चढ़ाने लगा तो गाड़ी स्कूल के आगे विश्राम कर रही महिला के ऊपर चढ़ गई। प्रत्यक्षदर्शी महिलाओं के मुताबिक वैन ड्राइवर की गलती से ही महिला जगिंदरी की जान गई है। मृतक जगिंदरी (40) पत्नी राजा राम अंबेडकर नगर मौड़ की रहने वाली थी। वहीं प्रदर्शनकारियों के समक्ष पहुंचे एसएचओ मनोज कुमार ने परिजनों को कार्रवाई का भरोसा देते हुए कहा कि वैन ड्राइवर सुखजिंदर सिंह जिला मानसा के गांव बप्पीआणा का रहने वाला है आरोपी को पकड़ने के लिए पुलिस की टीम को भेजा गया है, वहीं समाचार लिखे जाने तक परिजन आरोपी ड्राइवर को पकड़ने की मांग करते हुए धरने पर डटे रहे।

    पहले भी हो चुके हैं हादसे
    गौरतलब है कि तीन दिन पहले ही बरनाला के गांव ढाबी गुज्जरों में एक प्राइवेट स्कूल की बस ने 4 साल के नर्सरी में पढ़ते बच्चे को कुचल दिया, जिस कारण उसकी मौके पर ही मौत हो गई। इस मामले में भी बस चालक अपनी बस को लेकर मौके से फरार हो गया। यह स्कूल पंजाब आंगनबाड़ी की प्रधान ऊषा रानी का था जिसके चलते पुलिस वाले कार्रवाई करने से कतराते रहे। जब गांव वासियों ने बस पर खून के छीटे दिखाए तब पुलिस एक्सीडेंट का मामला दर्ज कर बस को चौकी लेकर आई। मृतक बच्चे के पारिवारिक सदस्यों ने बताया कि उनका बच्चा स्कूल से घर आ रहा था और बस ने उसे गली में उतार दिया।

    महिलाओं ने बताया

    पटेल नगर में एक स्कूली बच्चे को एक वाहन ने कुचला उसकी स्पीड 135 किलोमीटर प्रति घंटा थी। वाहन स्कूली वैन थी या फिर कार इसे लेकर पुलिस अभी तक जांच पूरी नहीं कर सकी है। अंबुजा सीमेंट फैक्टरी के मार्केटिंग मैनेजर का 13 वर्षीय बेटे को पीछे से टक्कर मारी तो उसी समय एक स्कूल की वैन भी वहां से गुजर रही थी व हादसा होने के बाद वैन चालक मौके पर रुके बिना ही चला गया था जबकि पुलिस ने उसे जांच में क्लीन चीट दे दी। इस हादसे में हवा में उछलने के बाद बच्चे का सिर जोर से सड़क पर लगा।



  • लकड़ी बीनकर परिवार का पेट पालती थी, हुआ कुछ ऐसा कि हादसे में हुई मौत
    +2और स्लाइड देखें
    हादसे के बाद परिवार के लोग नेशनल हाईवे पर धरना देकर प्रदर्शन करते हुए।
  • लकड़ी बीनकर परिवार का पेट पालती थी, हुआ कुछ ऐसा कि हादसे में हुई मौत
    +2और स्लाइड देखें
    रोती हुई फैमिली।
आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Amritsar

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×