--Advertisement--

आठ साल से ससुरालियों से अलग रह रही महिला ने लगाया फंदा, फिर हो गई मौत

कमरे में जाकर देखा तो उसका शव पंखे से लटका था।

Danik Bhaskar | Jan 08, 2018, 06:03 AM IST
संदीप कौर संदीप कौर

जालंधर . मकसूदां इलाके से सटे इलाके श्री गुरु रविदास नगर में रहती संदीप कौर ने फंदा लगाकर जान दे दी। सुसाइड का तब पता चला जब संदीप के पिता बलजीत सिंह देर रात 2.30 बजे उठे और उसके कमरे में जाकर देखा तो उसका शव पंखे से लटका था। पिता के मुताबिक बेटी आठ साल से मायके परिवार में रह रही थी। मामले को लेकर थाना-1 की पुलिस ने 174 की कार्रवाई के तहत शव सिविल अस्पताल में रखवा दिया है।


पिता बलजीत सिंह ने बताया कि 12 साल पहले दसूहा के अमरीक सिंह के साथ संदीप कौर का विवाह हुआ था। मगर किसी बात को लेकर संदीप और दामाद में अनबन हो गई। पिछले आठ साल से वह नाती और नातिन को लेकर उनके पास आ गई। यहां वह किराये पर रहते हैं। बेटी संदीप अलग कमरे में सोती थी। उसी कमरे में नातिन भी सोती थी। शनिवार रात करीब 2.30 बजे वे उठे और बेटी संदीप के कमरे में जाकर देखा तो संदीप ने पंखे से फंदा लगाया हुआ था। उन्होंने देर रात तक बॉडी को घर पर रखा। सुबह पुलिस को सूचना मिली। एसएचओ रश्मिंदर सिंह ने बताया कि बलजीत सिंह के बयान पर 174 की कार्रवाई के तहत शव का पोस्टमार्टम करवा वारिसों के हवाले कर दिया जाएगा।