--Advertisement--

15 महीने पहले अमृतसर में लापता हुए पति को ढूंढने कराची से पहुंची ललिता

4 जनवरी 2017 को कराची से 43 हिंदुओं के जत्थे के साथ ललिता 55 वर्षीय पति के साथ आई थीं।

Dainik Bhaskar

Mar 13, 2018, 07:50 AM IST
ललिता बेटे कांति तथा देवर मिट्ठन के साथ आई है। ललिता बेटे कांति तथा देवर मिट्ठन के साथ आई है।

अमृतसर. करीब 15 महीने पहले अमृतसर में गुम हुए पाकिस्तानी हिंदू देवसी बाबू की पत्नी ललिता अपने बेटे कांति लाल तथा देवर मिट्ठन के साथ उसे खोजने के लिए दोबारा पहुंची हैं। उनका कहना है कि पुलिस शिकायत के बाद भी पता नहीं चला।

15 दिन के वीजे पर आई ललिता ने कहा, पति को लिए बिना नहीं जाएगी, भले ही जान क्यों न देनी पड़े। अगर जाऊंगी तो बच्चों को क्या जवाब दूंगी। ललिता ने बताया, घर पर बच्चों की हालत खराब हो गई है। आते वक्त बच्चों ने कसम दिलाई है कि मां पापा को लिए बगैर मत आना।


4 जनवरी 2017 को कराची से 43 हिंदुओं के जत्थे के साथ ललिता 55 वर्षीय पति के साथ आई थीं। दिल्ली जाने वाले थे कि देवसी गायब हो गए। दिल्ली से वापसी के बाद थाना सुल्तानविंड में रिपोर्ट दर्ज करवाई लेकिन पता नहीं चल सका। जत्था 15 जनवरी को वापस पाकिस्तान चला गया था। पाकिस्तान-इंडिया पीपल्स फोरम ने विदेश मंत्री सुषमा स्वराज से भी मदद की मांग की थी लेकिन कोई सफलता नहीं मिली।

देवसी बाबू। (फाइल फोटो) देवसी बाबू। (फाइल फोटो)
X
ललिता बेटे कांति तथा देवर मिट्ठन के साथ आई है।ललिता बेटे कांति तथा देवर मिट्ठन के साथ आई है।
देवसी बाबू। (फाइल फोटो)देवसी बाबू। (फाइल फोटो)
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..