Hindi News »Punjab »Amritsar» अणखी-धनराज ग्रुप के विरोध के कारण पास नहीं हो सका सीकेडी का बजट

अणखी-धनराज ग्रुप के विरोध के कारण पास नहीं हो सका सीकेडी का बजट

चीफ खालसा दीवान (सीकेडी) के तीन पदों के लिए उपचुनाव में चड्ढा ग्रुप के हाथों मात खाने वाले भाग सिंह अणखी ग्रुप और...

Bhaskar News Network | Last Modified - Apr 01, 2018, 02:00 AM IST

चीफ खालसा दीवान (सीकेडी) के तीन पदों के लिए उपचुनाव में चड्ढा ग्रुप के हाथों मात खाने वाले भाग सिंह अणखी ग्रुप और धनराज सिंह ग्रुप के सदस्यों के विरोध के चलते शनिवार को सीकेडी का बजट पास नहीं हो सका। सीकेडी के गुरुद्वारा साहिब में 117 सदस्यों की मौजूदगी में जैसे ही बजट पास कराने की कार्रवाई शुरू हुई, अणखी और धनराज ग्रुप के सदस्यों ने यह कहते हुए ऐतराज उठा दिया कि उन्हें नियमानुसार 15 दिन पहले बजट की कॉपी नहीं दी गई। उनके विरोध के बाद ऑनरेरी सेक्रेटरी नरिंदर सिंह खुराना ने इजलास स्थगित कर दिया। साथ ही तीन महीने के लिए दीवान के खर्च चलाने से जुड़ा प्रस्ताव पास कर दिया। बजट पास कराने के लिए 4 से 8 हफ्ते में दोबारा इजलास बुलाया जाएगा।

दोपहर 12.30 बजे अरदास के बाद इजलास की कार्रवाई शुरू होते ही अणखी ग्रुप से उपप्रधान पद के उम्मीदवार रह चुके, दीवान के मौजूदा रेजीडेंट प्रेजीडेंट निर्मल सिंह ने कहा कि सदस्यों को शुक्रवार को बजट की कॉपी दी गई जबकि नियमानुसार कॉपी इजलास से 15 दिन पहले दी जानी चाहिए। इसके अलावा वीरवार को सीकेडी की फाइनांस कमेटी की मीटिंग में भी बजट पास नहीं करवाया गया। इस पर सीकेडी के प्रधान डाॅ. संतोख सिंह ने सफाई दी कि उपचुनाव के चलते बजट प्रिंटिंग में देरी हो जाने के चलते सभी सदस्यों को कॉपी समय पर नहीं दी जा सकी। 4 से 8 हफ्ते में सभी मेंबरों को कॉपी पहुंचा दी जाएगी। इसके बाद ऑनरेरी सेक्रेटरी नरिंदर सिंह खुराना ने इजलास स्थगित करते हुए कहा कि सभी सदस्यों को कॉपी मिलने के बाद इसे दोबारा बुलाने का फैसला लिया जाएगा।

70 सदस्यों की मेंबरशिप रद्द होनी चाहिए : निर्मल

इजलास स्थगित होने के बाद बाहर निकले निर्मल सिंह ने कहा कि चुनाव में पतित मेंबरों ने वोट डाले जो संविधान का उल्लंघन है। इसके अलावा लगभग 70 मेंबर ऐसे थे जिन्होंने लगातार 12 मीटिंग में भाग नहीं लिया। संविधान के मुताबिक इनकी मेंबरशिप खत्म हो जानी चाहिए थी मगर इन्होंने भी वोट डाले। कुछ सदस्यों ने मीटिंग बुलाने की मांग रखी है। अगर 15 दिन में सचिव ने मीटिंग नहीं बुलाई तो वह आगे का फैसला लेंगे।

बच्चों को फ्री किताबें देंगे, री-एडमिशन फीस नहीं लेंगे : संतोख सिंह

सीकेडी प्रधान डाॅ. संतोख सिंह ने बताया कि अगले सेशन से दीवान के स्कूलों में सभी विद्यार्थियों को किताबें फ्री दी जाएंगी। इसके लिए बच्चों से बतौर सिक्योरिटी 1000 रुपए लिए जाएंगे। सेशन पूरा होने के बाद बच्चा जब अगली कक्षा में प्रमोट होगा तो वह किताबें लौटाकर ये रकम वापस ले सकेगा। दीवान के स्कूलों में बच्चों से हर साल एडमिशन फीस नहीं ली जाएगी। अगर किसी से यह फीस ली गई होगी तो उसे लौटाया जाएगा।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Amritsar

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×