• Hindi News
  • Punjab
  • Amritsar
  • गैंगस्टर गगन पंडित अरेस्ट, 4 साल पहले जेल में हुआ गौंडर गैंग से संपर्क
--Advertisement--

गैंगस्टर गगन पंडित अरेस्ट, 4 साल पहले जेल में हुआ गौंडर गैंग से संपर्क

भास्कर न्यूज | अमृतसर/तरनतारन अमृतसर-तरनतारन में 18 से अधिक मामलों में वांटेड गैंगस्टर गगन पंडित को मजीठा पुलिस...

Dainik Bhaskar

Feb 01, 2018, 03:05 AM IST
गैंगस्टर गगन पंडित अरेस्ट, 4 साल पहले जेल में हुआ गौंडर गैंग से संपर्क
भास्कर न्यूज | अमृतसर/तरनतारन

अमृतसर-तरनतारन में 18 से अधिक मामलों में वांटेड गैंगस्टर गगन पंडित को मजीठा पुलिस ने मंगलवार शाम को गुरुनानक देव यूनिवर्सिटी (जीएनडीयू) के पास से अरेस्ट कर लिया। मजीठा के एक पुलिस अफसर ने उसे वहां घूमते देखकर फोर्स बुलाई जिसने गगन को पकड़ा। उससे एक कंट्री मेड पिस्टल बरामद किया गया। हालांकि पुलिस इसकी पुष्टि नहीं कर रही। हथियारों का शौकीन गगन पंडित कुछ दिन पहले तरनतारन से गिरफ्तार किए गए विक्की गौंडर के साथी अमृतपाल सिंह उर्फ बाठ और लवप्रीत उर्फ लव का करीबी है। उस पर हत्या, हत्या प्रयास, एनडीपीएस और लूटपाट के 18 से अधिक केस हैं।

शौक हथियारां दा

तरनतारन से गिरफ्तार बाठ का करीबी, फेसबुक पर लिखा था-बाठ को सियासी दबाव में फंसाया

28 जनवरी को तरनतारन से विक्की गौंडर के साथी अमृतपाल सिंह उर्फ बाठ की गिरफ्तारी के कुछ देर बाद गगन पंडित ने अपने फेसबुक अकाउंट पर इसे गलत बताते हुए लिखा था कि बाठ जल्दी ही सरपंच का चुनाव लड़ने वाला था। वह निर्दोष है और राजनीतिक दबाव के तहत उसका नाम गैंगस्टरों से जोड़ा जा रहा है। उसने आशंका जताई थी कि आने वाले दिनों में उसका और उसके साथियों का एनकाउंटर किया जा सकता है। पोस्ट के अंत में गगन पंडित ने मांग की थी कि बाठ के मामले की जांच आईजी कुंवर विजय प्रताप से कराई जाए।

गगन का गौंडर गैंग से संपर्क तब हुआ जब एनडीपीएस एक्ट में गिरफ्तार कर उसे जेल में भेजा गया। बाहर निकलने पर उसका लिंक बाठ से हो गया। उसने बाठ के कॉलेज प्रधान बनने में मदद की थी। बाठ के करीबियों का नाम गौंडर गैंग को पनाह देने में लिया जा रहा है। शक है कि बाठ का करीबी होने के कारण गगन ने भी गौंडर या उसके करीबियों को पनाह दी हो। एसएसपी परमपाल सिंह ने कहा कि गगन से पूछताछ चल रही है। जल्दी ही गौंडर गैंग के अन्य साथियों जैसे सारज मिंटू, शुभम और गोपी घनशामपुरिया को भी पकड़ लिया जाएगा।

डॉक्टर की गिरफ्तारी, फिरौती में भी जुड़ सकता है नाम...पिछले साल मई में एक डॉक्टर की किडनैपिंग और फिरौती लेकर उसे छोड़ने में भी गगन पंडित पर शक है। 11 दिसंबर 2017 को खापड़खेड़ी गांव में शादी के दौरान दो गैंगस्टरों हरविंदर कोदी और मनप्रीत मंगा को मारने में भी गगन का नाम आया। वह मंगा को मारने पहुंचे कोदी के साथ हथियार लेकर गया था।

दोस्त ने लिखा चीफ जस्टिस को पत्र

पिता पुलिस से रिटायर, भाई पर भी केस, मां और तीसरा भाई तोड़ चुका है रिश्ता...गगन पंडित के पिता स्वर्गीय रामप्रकाश पंजाब पुलिस से रिटायर हुए थे। वह कई साल झब्बाल थाने में मुंशी रहे। झब्बाल थाने के प्रभारी मनोज कुमार ने बताया कि गगन पंडित के भाई अमरजीत उर्फ रवि पर भी दर्जनभर केस दर्ज हैं। इनमें लूटपाट, किडनैपिंग, एनडीपीएस एक्ट और आर्म्स एक्ट के मामले शामिल हैं। स्वर्गीय रामप्रकाश ने दूसरी शादी की थी अौर अमरजीत के अलावा गगन पंडित का एक सौतेला भाई और भी है। सौतेली मां और सौतेला भाई गगन और अमरजीत से नाता तोड़कर चंडीगढ़ में रहते हैं।

मंगलवार शाम को मजीठा पुलिस की ओर से गगन पंडित को गिरफ्तार किए जाने के बाद उसके दविंदर सिंह नामक दोस्त ने पंजाब एंड हरियाणा हाईकोर्ट के चीफ जस्टिस और पंजाब के डीजीपी को पत्र लिखकर गगन पंडित को अवैध कस्टडी में रखे जाने की बात कही।

X
गैंगस्टर गगन पंडित अरेस्ट, 4 साल पहले जेल में हुआ गौंडर गैंग से संपर्क
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..