Hindi News »Punjab »Amritsar» श्री मारवाड़ी मंदिर से गोल्डन प्लाजा तक 400 मीटर इलाके में सिद्धू ने की सफाई

श्री मारवाड़ी मंदिर से गोल्डन प्लाजा तक 400 मीटर इलाके में सिद्धू ने की सफाई

अमृतसर स्वच्छता अभियान के तहत बुधवार को लोकल बाॅडीज मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू, मेयर कर्मजीत सिंह रिंटू, निगम...

Bhaskar News Network | Last Modified - Feb 01, 2018, 03:05 AM IST

अमृतसर स्वच्छता अभियान के तहत बुधवार को लोकल बाॅडीज मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू, मेयर कर्मजीत सिंह रिंटू, निगम कमिश्नर सोनाली गिरि ने श्री दरबार साहिब के आसपास, गिलवाली गेट और गुज्जरपूरा इलाके में झाड़ू लगाया। उन्होंने लोगों से अपील की कि वह इस अभियान के साथ जुड़कर शहर को साफ-सुथरा रखने में मदद करें। इस दौरान सिद्धू ने श्री मारवाड़ी मंदिर से लेकर गोल्डन प्लाजा तक करीब 400 मीटर इलाके में खुद झाड़ू लगाया। वहीं, वार्ड के भाजपा पार्षद जरनैल सिंह ढोट को बुलाया नहीं गया। वह पूरी टीम के साथ दुर्ग्याणा मंदिर भी पहुंचे लेकिन वहां पर मुलाजिम पहले से ही सफाई कर चुके थे जिस कारण बिना झाडू पकड़े मुलाजिमों को दस्ताने और मास्क बांट कर लौट आए।

सिद्धू सुबह 7.05 बजे चौक फव्वारा में पहुंचे और अभियान की शुरूआत से पहले सफाई कर्मचारियों को मास्क, दस्ताने दिए। उन्होंने मीडिया वालों से कहा कि यह समय फोटो खिंचवाने का नहीं सफाई करने का है। इंसान को काम करने चाहिए होर्डिंग्स पर फोटो लगवाने की जगह लोगों के दिल में जगह बनाना मकसद होना चाहिए। उन्होंने खुद कूड़े को टोकरियां में भर कर अपने सिर पर ढोकर ट्राली में डाला। वहीं जब निगम कमिश्नर ने भी कूड़े के ढेर को हाथ से उठाना शुरू किया सिद्दू ने कहा कि वह काम करती हुई उनकी बेटी राबिया जैसी लग रही है।दुर्ग्याणा में सिद्धू से सफाई मुलाजिमों ने उनसे साबुन-तेल तथा सेलरी को रेगुलर बहाल करने की मांग की तो सिद्धू ने कहा कि इसे पूरा किया जाएगा।

सुबह 07:05 बजे : आ लअो मेरा क्लीन स्वीप शॉट

श्री मारवाड़ी मंदिर से जब सिद्धू जलेबी वाले चौक की तरफ झाड़े मारते जा रहे थे तो बीच में उन्होंने झाड़े मारते हुए बोला, आ लओ मेरा क्वीन स्वीप तो सभी लोग हंस पड़े।

साडे ते इन्ना पाप न चढ़ाओ

सुबह 10:16 बजे : दुर्ग्याणा मंदिर

दरबार साहिब और गुज्जरपुरा में सफाई अभियान का आगाज करने के बाद सिद्धू पूरे लाव-लश्कर के साथ दुर्ग्याणा पहुंचे। लेकिन वहां पर पहले से ही सफाई मुलाजिमों ने सफाई कर डाली थी। इस दौरान सिद्धू ने खुद माना कि उनके आने से पहले ही सफाई हो चुकी है।

दोपहर 01:12 बजे : गांव मोहावा

गत साल सितंबर महीने में अटारी के तहत आते सरहदी गांव की डिफेंस ड्रेन में गिरी स्कूली बस के बच्चों को बचाने वाले छात्र करणबीर सिंह को उसके घर पहुंच कर स्थानीय निकाय मंत्री ने अपनी तरफ से एक लाख रुपए दिए।

गिलवाली गेट चोक में पहुंचे सिद्धू नें चौक में जमा नाली से गार निकलने लगे तो कर्मचारी बोला-साड़े ते इन्ना पाप न चढ़ाओ।

आ परकाश आ... मैंनू जफ्फी पा ले यार

जलेबी वाले चोक पर पहुंचते ही मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू नें सफाई सेवक से कहा ( मितरां तेरा नाम की आं ) तो सेवक ने कहा परकाश तो सिद्धू ने कहा आ परकाश आ यार मैंनू जफ्फी पा ले यार। इतना कहते ही

खा के एहना मोटा हो गया, इह लै फड़ टोकरी

गिलवाली गेट स्थित गुज्जरपुरा में सिद्धू के साथ पहुंचे पार्षद बेटे मिट्ठू मदान को सिद्धू बोले-खा खा के एहना मोटा हो गया तूं इह लै फड़ कूड़े दी टोकरी ट्राली विच सुट।

सुबह 08:05 बजे : कच्चे चूल्हे की चाय पी मां याद आई

सिद्दू इलाके में रहने छिंदर कौर के घर गए, जहां उन्होंने चूल्हे पर बनी चाय पी। चाय की चुस्कियां लेते-लेते सिद्धू ने कहा कि उन्हें अपनी मां की याद आ गई है। बचपन में वह उन्हें चूल्हे के पास बिठाकर तरह-तरह के पकवान खिलाती थी और रोटी कम खाने पर थप्पड़ भी मारती थी। चूल्हे पर बन रही चाय को देखकर सिद्दू बोले बीबी आज मिनू मेरी मां दी याद आ गई ओह वी ऐदा की मैनू चूल्हे दे अग्गे बिठा के रोटी खवांदी सी।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Amritsar

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×