Hindi News »Punjab »Amritsar» शिक्षा सचिव ने गणित की अंतिम परीक्षा में अमृतसर दी दबिश, ओपन स्कूल रहे टार्गेट

शिक्षा सचिव ने गणित की अंतिम परीक्षा में अमृतसर दी दबिश, ओपन स्कूल रहे टार्गेट

पंजाब स्कूल शिक्षा बोर्ड की तरफ से 12 इकनॉमिक्स की ली गई दोबारा परीक्षा में शिक्षा सचिव किशन कुमार व उनकी टीमों ने...

Bhaskar News Network | Last Modified - Apr 01, 2018, 03:05 AM IST

शिक्षा सचिव ने गणित की अंतिम परीक्षा में अमृतसर दी दबिश, ओपन स्कूल रहे टार्गेट
पंजाब स्कूल शिक्षा बोर्ड की तरफ से 12 इकनॉमिक्स की ली गई दोबारा परीक्षा में शिक्षा सचिव किशन कुमार व उनकी टीमों ने शनिवार अमृतसर जिले के स्कूलों का दौरा किया। अमृतसर पहुंची टीम की तरफ से चैक किए गए अधिकतर स्कूल ऐसे थे, जहां ओपन स्कूलों के परीक्षा केंद्र बने हुए थे। शहरों में दस्तक देने के अलावा उनका मुख्य फोकस ग्रामीण स्कूल और बार्डर एरिया के स्कूल थे।

जानकारी के अनुसार किशन कुमार अपनी टीम के साथ 1.30 बजे ग्रेस पब्लिक स्कूल जंडियाला गुरु में पहुंच कर इलाके के एक प्रिंसिपल की ड्यूटी लगाई कि पेपर खत्म होने तक वह यहीं पर रहें। यहां से अपनी कार्रवाई शुरु करने के बाद उन्होंने अपना रुख जिले के अन्य स्कूलों में किया। इसके बाद वह सीएलएस पब्लिक स्कूल पुतलीघर भी गए। वहीं सरकारी स्कूल चमियारी, चौगावां, विछोहा स्कूलों में दबिश देने के अलावा अजनाला के स्कूलों में भी दबिश दी। इन स्कूलों के ओपन सेंटरों में परीक्षा दे रहे विद्यार्थियों का डाटा वह साथ ले गए हैं। इसके पीछे का कारण स्पष्ट है कि तरनतारन में जो स्कैम उभरकर सामने आया, वैसे ही हालात अमृतसर के भी हैं। तरनतारन के अलावा अमृतसर भी उन विद्यार्थियों के लिए सुनहरी जिला है, जहां नकल के दम पर पास हुआ जा सकता है। बार्डर एरिया होने के कारण स्कूलों तक पहुंचना आसान नहीं होता और फ्लाइंग टीमों से बचकर परीक्षार्थी आसानी से नकल मारकर पास हो सकते हैं।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Amritsar

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×