--Advertisement--

लोकल पुलिस ने बयान तक दर्ज नहीं किए

Amritsar News - रणजीत एवेन्यू बी-ब्लॉक में शुक्रवार रात इंद्रप्रीत सिंह चड्ढा के बेटे प्रभप्रीत उर्फ अंगद और उसके ड्राइवर जसबीर...

Dainik Bhaskar

Apr 01, 2018, 04:05 AM IST
लोकल पुलिस ने बयान तक दर्ज नहीं किए
रणजीत एवेन्यू बी-ब्लॉक में शुक्रवार रात इंद्रप्रीत सिंह चड्ढा के बेटे प्रभप्रीत उर्फ अंगद और उसके ड्राइवर जसबीर सिंह पर हुए हमले के मामले में पीड़ितों ने डीजीपी को चिट्ठी लिखकर शिकायत की है। प्रभप्रीत का आरोप है कि स्थानीय पुलिस इस मामले को दबाना चाहती है इसलिए कोई कार्रवाई नहीं कर रही क्योंकि उनके पिता के सुसाइड केस में जितने आरोपी गिरफ्तार किए हैं, वे सभी पहुंच वाले हैं। प्रभप्रीत ने लिखा है कि ड्राइवर जसबीर सिंह उनके केस में मुख्य गवाह है क्योंकि होटल में जसबीर के सामने ही आरोपियों ने उनके पिता से मिसबिहेव किया था जिसके बाद उन्होंने खुदकुशी कर ली थी। अब जसबीर को डराने के लिए आरोपी गुंडों की मदद से हमला करवा रहे हैं।

इंद्रप्रीत चड्ढा के दूसरे बेटे और प्रभप्रीत के भाई अनमोल ने कहा कि आरोपी उन्हें डराने-धमकाने की कोशिश कर रहे हैं और पुलिस शिकायत तक दर्ज नहीं कर रही। शनिवार को वह तीन बार थाने गए मगर उनके बयान तक दर्ज नहीं किए गए। जिस जगह हमला हुआ, वहां लगे सीसीटीवी में पूरी वारदात कैद हुई है। पुलिस ने सीसीटीवी फुटेज की डीवीआर कब्जे में लेने के बावजूद उनकी शिकायत को अनदेखा कर रही है। ऐसे में उन्हें मजबूरन डीजीपी को शिकायत भेजनी पड़ी।

बता दें कि चीफ खालसा दीवान के पूर्व प्रधान चरणजीत सिंह चड्ढा के बेटे इंद्रप्रीत सिंह चड्ढा के बेटे प्रभप्रीत सिंह उर्फ अंगद और उसके ड्राइवर जसबीर सिंह पर कुछ लोगों ने शुक्रवार शाम को हमला कर मारपीट शुरू कर दी थी। हालांकि इस मारपीट में अंगद का बचाव हो गया, मगर उसके ड्राइवर जसबीर को चोटें लगी थीं। उनका कहना था कि यह हमला इसलिए किया गया कि ड्राइवर जसबीर मामले में गवाह है, उसे डराने के लिए ऐसा किया गया।

X
लोकल पुलिस ने बयान तक दर्ज नहीं किए
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..