Hindi News »Punjab »Amritsar» Screw To Be Caught In Akali-BJP Over Sharing Of 20 Seats

निगम चुनाव- बढ़ी 20 सीटों के बंटवारे को लेकर अकाली-भाजपा में फंसेगा पेंच

वार्डबंदी: नक्शे और नोटिफिकेशन ईआरओज के पास, लेकिन लोग अभी भी निगम दफ्तर मेंं लगा रहे चक्कर

BhaskarNews | Last Modified - Nov 15, 2017, 04:51 AM IST

  • निगम  चुनाव- बढ़ी 20 सीटों के बंटवारे को लेकर अकाली-भाजपा में फंसेगा पेंच
    अमृतसर.नगर निगम की नई वार्डबंदी के तहत बढ़ी सीटों को लेकर शिरोमणि अकाली दल बादल और भाजपा इस बार पहले की तुलना में अपने-अपने लिए ज्यादा सीटों की दावेदारी जताएंगी। हालांकि इस बाबत अभी इनकी आपसी बैठक नहीं हुई है, लेकिन इस बार दोनों ही पार्टियां एक-दूसरे से ज्यादा सीटों की उम्मीद लगाए बैठी हैं और इसी को लेकर गठबंधन में पेंच फंसेगा।

    1995 में हुई वार्डबंदी के के तहत नगर निगम की 65 वार्डें थीं, लेकिन इस बार होने जा रहे चुनावों के लिए 20 वार्डों को बढ़ा कर इनकी तादाद 85 कर दी गई है। कांग्रेस और आम आदमी पार्टी के लिए तो सीटों के आवंटन जैसा मुद्दा नहीं है, लेकिन अकाली-भाजपा गठबंधन में इस पर कशमकश हो सकती है। बताते चलें कि साल 2012 में हुए निगम चुनावों में भाजपा ने 38 और अकाली दल ने 27 सीटों पर चुनाव लड़ा था। बताते चलें कि अभी दोनों ही पार्टियों के के हाईकमान की इस बारे बैठक नहीं हुई है, लेकिन इनके पदाधिकारियों और कार्यकर्ताओं की तरफ से नए हलकों की आबादियों तथा संभावित उम्मीदवारों को चिन्हित करने का काम शुरू कर दिया गया है। अकाली दल के जिला प्रधान गुरप्रताप सिंह टिक्का तथा भाजपा के जिला प्रधान राजेश हनी कहते हैं कि फिलहाल वह लोग इस बार कांग्रेस के सत्ता के बाद की नाकामियों तथा जनता से किए झूठे वादों को लेकर उसे घेरेंगे और यही उनका चुनावी मुद्दा भी होगा। खैर, बढ़ी 20 सीटों के आवंटन बारे में दोनों ही पार्टियों में यह चर्चा है कि इस बार भाजपा खुद को मजबूत मानते हुए 50 से 51 सीटें मांगेगी और अकाली दल के हिस्से 34 से 35 सीटें ही आनी हैं। वहीं दूसरी तरफ अकाली दल 50-50 सीटों पर दावेदारी जताने के लिए तैयार है।
    वार्डबंदी: नक्शे और नोटिफिकेशन ईआरओज के पास, लेकिन लोग अभी भी निगम दफ्तर मेंं लगा रहे चक्कर
    नई वार्ड बंदी के नोटिफिकेशन और नक्शे संबंधित ईआरओज के पास पहुंच चुके हैं, लेकिन लोग अभी भी नगर निगम में चक्कर लगा रहे हैं। वहीं वोटर सूचियों को लेकर एतराज संबंधित अधिकारियों के पास 20 नवंबर तक दर्ज करवाए जा सकते हैं। मंगलवार को भी कई लोग नगर निगम एमटीपी विभाग में पुराने ड्राफ्ट नोटिफिकेशन को देखते रहे। कांग्रेस नेता गुरमेज सिंह, रजिंदर सिंह गिल, हरदीप सिंह, अंग्रेज सिंह, रणधीर सिंह राणा के मुताबिक वह एमटीपी विभाग वार्डबंदी का नोटिफिकेशन देखने आए थे ताकि उन्हें अपनी-अपनी वार्डों के इलाकों का पता चल सके। वहीं यहा आकर उन्हें पता चला कि नक्शे और नोटिफिकेशन ईआरओज के पास है। वहीं एमटीपी विभाग के अधिकारियों ने भी बताया कि दफ्तर में कई लोग वार्डबंदी का नोटिफिकेशन और नक्शे देखने आ रहे हैं और उन्हें संबंधित ईआरओज के पास जाने को कहा जा रहा है, बाकी दफ्तर में जो इंफार्मेशन है वह दे दी जा रही है।
    ईआरओज के पास है डाटा: एडीसी
    एडीसी डेवलपमेंट कम एडिशनल डिस्ट्रिक्ट इलेक्शन आफिसर रविंदर सिंह के मुताबिक वार्डबंदी फाइनल हो गई है निगम का काम नक्शा तैयार करके देना था, अब सारी इंफार्मेशन और सूचियां संबंधित ईआरओज के पास हैं। वोटर सूचियों को लेकर 20 नवंबर तक एतराज दर्ज करवाए जा सकते हैं।
    हमारी पार्टी 50 सीटों पर लड़ सकती है : टिक्का
    सीटें बढ़ने के कारण शिरोमणि अकाली दल इस बार के नगर निगम चुनाव में 50 सीटों पर चुनाव लड़ सकती है। बाकी हाईकमान का जैसा आदेश होगा उसका पालन होगा। - गुरप्रताप सिंह टिक्का, प्रधान, अमृतसर शहरी शिअद
    पार्टी मजबूत हुई, ज्यादा सीटों की उम्मीद : हनी
    भाजपा पहले से ज्यादा मजबूत हुई है और उसी हिसाब से सीटों को लेकर उम्मीदें भी बढ़ी हैं। फिलहाल दोनों पार्टियों के आला कमानों की सहमति से आवंटित सीटों पर चुनाव लड़ा जाएगा।- राजेश हनी, प्रधान, अमृतसर शहरी भाजपा
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Amritsar

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×