पंजाब / बोर करवाने को खोदे 22 फीट के कुएं में गिरा ढाई साल का बच्चा, आई गंभीर चोटें



पठानकोट में घायल प्रदीप और उसके पिता बिट्टू व माता विमला जानकारी देते हुए। पठानकोट में घायल प्रदीप और उसके पिता बिट्टू व माता विमला जानकारी देते हुए।
a baby got injured because of falling down in deep dug for Borewell
X
पठानकोट में घायल प्रदीप और उसके पिता बिट्टू व माता विमला जानकारी देते हुए।पठानकोट में घायल प्रदीप और उसके पिता बिट्टू व माता विमला जानकारी देते हुए।
a baby got injured because of falling down in deep dug for Borewell

  • पठानकोट के गांव कीड़ी गंडियाल में बड़े भाई के साथ सामान लेने गया था प्रदीप
  • लौटते वक्त बल्लियो व फटि्टयों से ढके कुएं में गिरा, एक घंटे बाद बाहर निकाला गया तो जांघ में मिला फ्रैक्चर

Dainik Bhaskar

Jun 14, 2019, 08:15 PM IST

पठानकोट. संगरूर में खुले बोरवेल में गिरने से बच्चा फतेहवीर की मौत के बाद भी सबक नहीं लिया है। अब पठानकोट कीड़ी गंडियाल में ढाई साल का बच्चा बोर करवाने के लिए खोदे 22 फीट गहरे कुएं में गिर गया। पता तब चला, जब उसके बड़े भाई ने घर पहुंचकर परिवार वालों को बताया।  बोर करवाने वाले ने रस्सी के सहारे नीचे उतरकर एक घंटे बाद बच्चे को बाहर निकाला। बच्चे की जांघ की दो जगह से हडि्डयां टूट गई। वहीं शरीर व सिर पर अंदरूनी चोटें आई हैं।


यह घटना गुरुवार रात की है। कीड़ी गंडियाल के मैरा निवासी पिता बिट्टू ने बताया कि वह देर शाम काम से घर लौटा तो उसने अपने छोटे बेटे प्रदीप व 7 वर्षीय बड़े बेटे गोरू को 10 रुपए दिए। दोनों बेटे 10 रुपए लेकर बाहर खाने-पीने का सामान लेने चले गए। कीड़ी गंडियाल के मैरा निवासी माऊ नामक व्यक्ति ने बोर करवाने के लिए 4 बाय 4 का 22 फीट गहरा कुआं खोदा हुआ था और उसे बल्लियों से ढका था। वापस लौटते वक्त उनके बच्चों को पता नहीं चला और उसका छोटा बेटा प्रदीप बल्लियों पर पैर रखते हुए धड़ाम से गिर गया। बड़े बेटे गोरू भागकर घर बताया तो वह और उसकी पत्नी विमला भागते हुए घटनास्थल पर पहुंचे। वहां गांव वासी भी इकट्‌ठे हो गए।

 

माऊ, जसबीर, सुभाष व वह खुद रस्सी लेकर आए। माऊ ने रस्सी के सहारे कुएं में उतरकर करीब एक घंटे बाद प्रदीप को जख्मी हालत में बाहर निकाला। हादसे में प्रदीप की जांघ की दो जगहो से हड्डी टूट गई है और सिर व शरीर पर चोटे आई है। उन्होंने पहले भोआ में एक डाक्टर के पास लेकर गए और वहां से मलिकपुर स्थित प्राइवेट अस्पताल में भर्ती करवाया। प्रदीप की जांघ को पलस्तर किया गया है। डिप्टी कमिश्नर रामवीर ने बताया कि मामला जम्मू-कश्मीर के कीड़ी गंडियाल का है। यहां के अस्पताल में भर्ती कराया गया था, जिसे डिस्चार्ज कर दिया गया है।

COMMENT