पंजाब / विवाहिता की मौत, मां का आरोप-लगाया गर्भ में लड़की होने पर जहर दे दिया ससुरालियों ने



सिमरनजीत कौर की फाइल फोटो। सिमरनजीत कौर की फाइल फोटो।
a women died after about three months of treatment, blame to give poison
X
सिमरनजीत कौर की फाइल फोटो।सिमरनजीत कौर की फाइल फोटो।
a women died after about three months of treatment, blame to give poison

  • 18 जनवरी 2018 को राजिंदर सिंह उर्फ रिंकू से हुई थी सिरकियां की सिमरनजीत कौर की शादी
  • 12 दिन अमृतसर के बेबे नानकी अस्पताल में दाखिल रहने के बाद डॉक्टर्स ने जवाब दे दिया तो निजी अस्पताल में ले गई मां

Dainik Bhaskar

Jul 12, 2019, 02:34 PM IST

गुरदासपुर. गुरदासपुर में एक विवाहिता को उसके ससुराल वालों ने जहर देकर मार डाला। हत्या की वजह उसके परिजनों के द्वारा उसके गर्भ में पल कन्याभ्रूण को बताया जा रहा है। उसकी मां का आरोप है कि गर्भ में लड़की होने की वजह से नाराज ससुराल वालों ने उसे खाने में जहरीली चीज दे दी, जिसके बाद अस्पताल में उसका गर्भपात कराना पड़ा और किडनी में भी इन्फेक्शन हो गया था। पिछले करीब साढ़े महीने से उसका इलाज चल रहा था, जिसके बाद हाल ही में 9 जुलाई को उसकी मौत हो गई। फिलहाल पुलिस ने पति और सास-ससुर के खिलाफ मामला दर्ज कर जांच-पड़ताल शुरू कर दी है।

 

मृतका सिमरनजीत कौर (23) पुत्री गुरदेव सिंह निवासी सिरकियां की मां सरबजीत कौर ने बताया कि उनकी बेटी की शादी 18 जनवरी 2018 को राजिंदर सिंह उर्फ रिंकू निवासी कॉलेज रोड, नजदीक लकड़ी टाल गुरदासपुर के साथ हुई थी। मृतका की मां ने बताया कि उसकी बेटी छह माह की गर्भवती थी तो ससुराल वालों ने उसका टेस्ट करा दिया। जब उन्हें पता चला कि उसके गर्भ में लड़की पल रही है तो उसके खाने में कोई जहरीली चीज मिला दी गई। इससे उसके पेट में दर्द होना शुरू हो गया। जब हालत खराब हुई तो उसका पति उसे लेकर सिविल अस्पताल गुरदासपुर पहुंचा। वहां से हालत गंभीर होने के कारण उसे अमृतसर रेफर कर दिया गया। वहां बेबे नानकी अस्पताल में 12 दिन तक दाखिल रहने के बाद जब डॉक्टर्स ने जवाब दे दिया तो उसकी मां उसे निजी अस्पताल में ले गई। वहां पर हालत नाजुक होने के कारण पहले उसका गर्भपात किया और फिर उसका डायलसिस किया गया।

 

मृतका की मां का आरोप है कि बेटी की सास की ओर से खाने में मिलाकर जो जहरीली चीज दी गई थी, उसका असर उनकी बेटी की किडनियों पर हुआ था। एक सप्ताह वहां दाखिल रहने के बाद तीन महीने से मायके में ही रह रही थी और उसका इलाज चल रहा था। उनकी बेटी ने 19 जून को ससुराल वालों के खिलाफ वुमेन सैल में शिकायत दर्ज कराई थी, जिसकी सुनवाई चल रही थी। इस बीच 9 जुलाई को रात करीब साढ़े आठ बजे उनकी बेटी की मौत हो गई।

 

थाना पुरानाशाला पुलिस ने आरोपी पति राजिंदर सिंह, सास हरजीत कौर और ससुर दलजीत सिंह के खिलाफ विभिन्न धाराओं के तहत केस दर्ज कर लिया है। फिलहाल किसी आरोपी की गिरफ्तारी नहीं हो पाई है। पुलिस आरोपियों की तलाश में छापेमारी कर रही है।

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना