अमृतसर / पाकिस्तान में बसंत पंचमी उत्सव पर से प्रतिबंध हटा, 12 साल बाद मनाया जाएगा



लाहौर में हिंदू-मुस्लिम लोगों ने पतंगबाजी की। लाहौर में हिंदू-मुस्लिम लोगों ने पतंगबाजी की।
X
लाहौर में हिंदू-मुस्लिम लोगों ने पतंगबाजी की।लाहौर में हिंदू-मुस्लिम लोगों ने पतंगबाजी की।

  • मुंबई हमलों के मास्टरमाइंड हाफिज सईद के दबाव में लगी थी पाबंदी
  • भारतीय पंजाबियों को वीजा मुहैया करवाने की अपील की

Dainik Bhaskar

Jan 12, 2019, 05:12 AM IST

अमृतसर. पाकिस्तान में इमरान सरकार ने प्रतिबंधित बसंत पंचमी उत्सव को लेकर बड़ा फैसला लिया है। सरकार ने बसंत पंचमी उत्सव फिर से शुरू करने की इजाजत दी है। इसको लेकर हिंदू-मुसलमानों में खुशी है। साथ ही भारतीय लोगों ने सरकार से मांग उठाई है कि इस परंपरागत समागम में हिस्सा लेने के लिए पाकिस्तान एंबेसी ज्यादा से ज्यादा भारतीय पंजाबियों को वीजा मुहैया किया जाए।

आतंकी संगठन जमात-उद-दावा के दबाव में पाबंदी लगी थी

  1. बता दें कि पाक की तत्कालीन सरकार ने कट्टरपंथी संगठनों खास करके मुंबई हमलों के मास्‍टरमाइंड हाफिज सईद के संगठन जमात-उद-दावा के दबाव में आकर बसंत पंचमी उत्सव पर वर्ष 2007 में पाबंदी लगी थी। तर्क यह था कि त्योहार गैर-इस्लामिक है। हालांकि इसे दोनों ही समुदाय मिलकर मनाते हैं। त्योहार को नेशनल काइट-डे के तौर में भी जाना जाता है। पंजाब प्रांत के सूचना एवं संस्कृति मंत्री फैयाजुल हसन कोहन ने इस प्रतिबंध को हटाने का ऐलान किया है।

COMMENT