कॉरिडोर पर मोदी संग एक मंच पर आए कैप्टन, लेकिन एसजीपीसी-सरकार के साझे प्रोग्राम की संभावना कम

Amritsar News - सुल्तानपुर लोधी | श्री गुरु नानक देव जी का 550वां प्रकाश पर्व 12 नवंबर को है। इस दिन को शानदार ढंग से मनाने लिए सरकार ने...

Nov 11, 2019, 07:20 AM IST
सुल्तानपुर लोधी | श्री गुरु नानक देव जी का 550वां प्रकाश पर्व 12 नवंबर को है। इस दिन को शानदार ढंग से मनाने लिए सरकार ने अचूक तैयारियां कर रखी हैं। सुल्तानपुर लोधी के गुरुद्वारा श्री बेर साहिब को लाइटों से सजाया गया है। यहां हर दिन लाखों की संगत शीश नवाने पहुंच रही है।

भास्कर न्यूज | सुल्तानपुर लोधी

श्री गुरु नानक देव जी का 550वां प्रकाशपर्व 12 नवंबर को है। सुल्तानपुर लोधी में सरकार और एसजीपीसी की ओर से अलग-अलग कार्यक्रम चल रहे हैं। 9 नवंबर को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सुल्तानपुर लोधी के गुरुद्वारा श्री बेर साहिब में माथा टेकने पहुंचे थे तो सीएम कैप्टन अमरिंदर सिंह भी साथ थे। इसके बाद डेरा बाबा नानक में कैप्टन और मोदी एक साथ एक मंच पर आए और साथ में लंगर भी चखा। इससे संगत में ये मैसेज गया कि सुल्तानपुर लोधी में चल रहे सरकार और एसजीपीसी के अलग-अलग कार्यक्रम 12 नवंबर को बाबा नानक के प्रकाशपर्व पर एक हो जाएंगे। लेकिन अब मुख्य कार्यक्रम के लिए केवल दो दिन ही बचे हैं। अब भी सरकार और एसजीपीसी के पहले से तय शेड्यूल के हिसाब से कार्यक्रम चल रहे हैं। न तो सरकार ने और न ही एसजीपीसी ने एक मंच पर आने के संकेत दिए। इससे संगत में असमंजस की स्थिति है।

550वें प्रकाशोत्सव पर विश्व भर की 400 नामवर पंजाबी शख्शियतें सम्मानित

कपूरथला | श्री गुरु नानक देव जी के 550वें प्रकाश पर्व मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने पंजाब तकनीकी यूनिवर्सिटी में दुनिया भर की 400 नामवर पंजाबी शख्शियतों को सम्मानित किया गया। यह सम्मान पंजाबी शख्शियतों को उनके अलग-अलग क्षेत्रों में योगदान के लिए दिया गया। कैप्टन ने पंजाबियों को जड़ों से जुड़ने और अगली पीढ़ी की प्रगति को रोजगार के अवसर पैदा करने के लिए सरकार का साथ देने को प्रेरित किया। कहा-हमें नौजवानों को रोजगार के अवसर मुहैया करवाने के लिए मिलकर कार्य करने चाहिए। उन्होंने धरती के नीचे पानी के गिर रहे स्तर पर चिंता जाहिर करते चेतावनी दी कि अगले 25 सालों में पंजाब मारुथल बन जाएगा। आने वाली पीढ़ी के लिए कुदरती स्त्रोतों को संभाल कर नानक देव जी को सच्ची श्रद्धाजंलि दे सकते हैं। उधर, एसजीपीसी ने भी गुरुद्वारा श्री बेर साहिब के पास गुरु नानक स्टेडियम के मुख्य पंडाल में कवि दरबार में अलग-अलग जगह से आए 30 नामी कवियों को 11-11 हजार रुपए और सम्मान चिन्ह देकर सम्मानित किया गया।



, अमृतसर

8 एकड़ में लंगर, 36 तरह के पकवान, 10 हजार सेवादार बांट रहे

गुरु नानक देव जी ने 20 रुपए से राशन खरीदकर भूखे साधुओं को 36 तरह का भोजन खिलाकर गुरु के लंगर की शुरुआत की थी। यहां लंगर 8 एकड़ में चल रहा है। 10 हजार सेवादार लंगर बांट रहे हैं।

सोमवार, 11 नवंबर, 2019

सरकार के कार्यक्रम : 11 नवंबर को सुबह 11 बजे से शाम 6 बजे तक गुरु नानक दरबार में कवि दरबार, ढाडी दरबार, कविश्री का आयोजन होगा। शाम 7 बजे से रात 9.15 बजे तक रबाब पंडाल में मल्टी मीडिया लाइट एंड साउंड शो होगा।

एसजीपीसी के कार्यक्रम : 11 नवंबर को कई राज्यों के सीएम व अन्य नेता पहुंच रहे हैं। दोपहर 2.30 बजे से 5.30 बजे तक कविश्री दरबार होगा। 11 नवंबर को दिन में व 12 नवंबर को शाम को विश्व सिख सख्सियतों का सम्मान किया जाएगा।

इधर, पटना साहिब भी 550वें प्रकाश पर्व के स्वागत को तैयार

पटना | गुरुनानक देव जी के 550वें प्रकाशोत्सव के अवसर पर बिहार की राजधानी पटना के तख्त श्री हरमंदिर साहिब को लड़ियों से कुछ इस तरह से सजाया गया है कि नजारा देखते ही बन रहा है। यहां प्रभातफेरी भी निकाली जा रही हैं और कई तरह के धार्मिक आयोजन भी हो रहे हैं। फोटो- दया िसंह

X

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना