पंजाब / फोर्थ क्लास कर्मचारी ने एक्सईएन पर लगाया अश्लील हरकतों का आरोप, थाने में हुआ हंगामा



गुरदासपुर के थाना सिटी में हंगामे के चलते एक यूनियन नेता को पकड़ कर थाने के अंदर ले जाते पुलिस अधिकारी। गुरदासपुर के थाना सिटी में हंगामे के चलते एक यूनियन नेता को पकड़ कर थाने के अंदर ले जाते पुलिस अधिकारी।
Dispute and Rucks at Police station of Gurdaspur after blames of Misdeed
Dispute and Rucks at Police station of Gurdaspur after blames of Misdeed
X
गुरदासपुर के थाना सिटी में हंगामे के चलते एक यूनियन नेता को पकड़ कर थाने के अंदर ले जाते पुलिस अधिकारी।गुरदासपुर के थाना सिटी में हंगामे के चलते एक यूनियन नेता को पकड़ कर थाने के अंदर ले जाते पुलिस अधिकारी।
Dispute and Rucks at Police station of Gurdaspur after blames of Misdeed
Dispute and Rucks at Police station of Gurdaspur after blames of Misdeed

  • गुरदासपुर के थाना सिटी का मामला, हंगामा कर रहे लोगाें को जबरदस्ती घसीटकर थाने में बिठाया पुलिस ने
  • एक्सईएन की मानें तो सही ढंग से नहीं करती काम, तबादला करवाने पर ऐसा कर रही है फोर्थ क्लास कर्मचारी
  • एक्सईएन के हक में थाने पहुंचे पूरे स्टाफ ने कहा-कुछ यूनियन नेताओं के कहने पर खेला महिला ने खेल

Dainik Bhaskar

Jun 14, 2019, 07:43 PM IST

गुरदासपुर. गुरदासपुर थाने में शुक्रवार को खूब हंगामा हुआ। बताया जाता है कि यहां नहरी विभाग की एक फोर्थ क्लास कर्मचारी ने एक्सईएन पर अश्लील हरकतें करने का आरोप लगाया है। दूसरी ओर एक्सईएन की मानें तो संबंधित महिला कर्मचारी सही ढंग से काम नहीं करती थी और जब उसका ट्रांसफर करवाया गया तो कुछ यूनियन नेताओं के भड़काने पर इस तरह के गलत आरोप लगा रही है। इसी बात को लेकर आज थाने में उस वक्त हंगामा हो गया, जब महिला के आरोप के बाद पूरा स्टाफ एक्सईएन के पक्ष में जा पहुंचा।

 

मिली जानकारी के अनुसार नहरी विभाग माधोपुर डिविजन की फोर्थ क्लास महिला कर्मचारी ने पुलिस को शिकायत दी थी कि उसके अधिकारी एक्सईएन ने उससे अश्लील हरकतें की हैं। इसी शिकायत के चलते शुक्रवार दोपहर दोनों गुटों को थाने बुलाया गया था। थाना सिटी में एकत्र हुए ऑफिस स्टाफ व महिला के हक में आए कुछ यूनियन नेताओं में अच्छी-खासी बहस बाजी शुरू हो गई। पुलिस अधिकारियों के समझाने के बावजूद ये नेता नहीं हटे, जिस कारण पुलिस को सख्ती बरतते हुए जबरदस्ती घसीटकर उन्हें थाने में बिठाना पड़ा।

 

हालांकि एक्सईएन प्रबोध चन्द्र की मानें तो उनके ऑफिस की एक महिला कर्मचारी सही ढंग से काम नहीं करती। अक्सर कुर्सी पर बैठकर सोती रहती है। बार-बार समझाने के बाद भी उसने अपने व्यवहार में सुधार नहीं किया, जिसके चलते 6 जून को उच्चाधिकारियों को पत्र लिखकर उसका व एक अन्य महिला कर्मचारी का तबादला करने की सिफारिश की। गुरुवार को दोनों महिला कर्मचारियों के तबादला आदेश पहुंचे और यहां से दोनों को डिस्पैच विभाग से अपने आदेश ले लेने नई जगह पर जाकर चार्ज संभाल लेने के लिए कहा। इस पर एक महिला ने तो अपने आदेश ले लिए, लेकिन दूसरी डंडा लेकर ऑफिस के बाहर खड़ी हो गाली-गलौच करने लग गई। कुछ देर बाद बाकी स्टाफ उसे एक तरफ ले गया।

 

इसके बाद वह चुपके से पुलिस में शिकायत दे शुक्रवार को फिर से ऑफिस आ गई। इस बात का पता तब चला, जब दोपहर 12 बजे एक्सईएन को थाना सिटी से फोन आया। उधर दोपहर 1 बजे थाना सिटी पहुंचे एक्सईएन के साथ पूरा स्टाफ भी आ गया। स्टाफ ने भी एक्सईएन पर आरोप लगाने वाली महिला को गलत बताया है।

 

दूसरी ओर इस बारे में थाना सिटी प्रभारी कुलवंत सिंह ने कहा कि गुरुवार को नहरी विभाग माधोपुर डिविजन की दर्जा चार महिला कर्मचारी ने उन्हें शिकायत दी थी कि एक्सईएन ने उससे अश्लील हरकतें की हैं। इसी शिकायत के चलते दोनों गुटों को बुलाया गया था। फिलहाल दोनों गुटों के बयान दर्ज कर कार्रवाई की जा रही है।

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना