जगह-जगह प्रर्दशन / किसान ट्रैक पर, कर्मचारी सड़क पर

गन्ने के बकाये के लिए किसानों ने रेलवे ट्रैक तो वेतन और पेंशन के लिए सरकारी कर्मचारी ने सड़क का परिवहन रोका

पटियाला में कर्मचारियों ने सड़क पर परिवहन रोका। पटियाला में कर्मचारियों ने सड़क पर परिवहन रोका।
अमृतसर में किसानों ने ट्रक जाम कर किया प्रर्दशन अमृतसर में किसानों ने ट्रक जाम कर किया प्रर्दशन
X
पटियाला में कर्मचारियों ने सड़क पर परिवहन रोका।पटियाला में कर्मचारियों ने सड़क पर परिवहन रोका।
अमृतसर में किसानों ने ट्रक जाम कर किया प्रर्दशनअमृतसर में किसानों ने ट्रक जाम कर किया प्रर्दशन

  • सरकार के आर्थिक संकट का दिखा असर, सूबे में किसान-मुलाजिमों का प्रदर्शन
  • किसानों का करीब 900 करोड़ बकाया, पावरकॉम मुलाजिमों का 400 करोड़ का वेतन

Dainik Bhaskar

Dec 04, 2019, 02:46 AM IST

अमृतसर/ जालंधर/ पटियाला/ लुधियाना/ फिरोजपुर. पंजाब सरकार के आर्थिक संकट का असर सूबे के लोगों पर दिखना शुरु हो गया है। जहां गन्ने का करीब 900 करोड़ रुपए का बकाया नहीं मिलने से खफा किसानों ने अमृतसर में रेल ट्रैक जाम किया वहीं पॉवरकॉम समेत कई विभागों के कर्मचारियों ने नवंबर का वेतन व पेंशन (400 करोड़) नहीं मिलने व 4227 करोड़ बकाया मुद्दे पर कार्यालयों के गेट जाम किए।

अमृतसर में किसानों द्वारा अल सुबह धरना लगाने से करीब 28 ट्रेनें प्रभावित हुईं। 11 पैसेंजर ट्रेनें रद्द हुईं। शाम को आईजी एसपीएस पन्नु व डीसी अमृतसर शिव दुलार सिंह ढिल्लों व सीएम से मिलाने के भरोसे के बाद किसानों ने ट्रैक खाली किया। दूसरी ओर पॉवरकॉम-कर्मचारियों के बीच मीटिंग बेनतीजा रही। प्रदर्शन व हड़ताल का खामियाजा आम जनता ने भुगता।


ये हैं मांगें

किसान: 900 करोड़ बकाया देना, गन्ने की सही तुलाई करना, पराली संभालने 6000 रुपए प्रति एकड़ देना, बाढ़ मुआवजे आदि की मांग की है। 
मुलाजिम: नवंबर का वेतन देना, पेंशन देना, पावरकॉम को 4225 करोड़ बकाया जारी करना, इंजीनियर्स एसो. के 2150 करोड़ सब्सिडी देना।

ब्यास, जालंधर में ट्रेनें रोकी, 11 रद्द, कई लेट, रुट भी बदले

स्वर्ण शताब्दी व गौरखपुर जनसाधारण एक्सप्रेस को ब्यास जबकि शान-ए-पंजाब को जालंधर से रद्द किया गया। गंगा सतलुज एक्सप्रेस लोहियां खास से रद्द हुई। दिल्ली-पठानकोट वाया जालंधर कैंट व मुकेरिया, जम्मू तवी एक्सप्रेस वाया लुधियाना, मोगा, फिरोजपुर, बठिंडा, जम्मू टाटा जालंधर कैंट, लुधियाना व साहनेवाल से रवाना की गईं। 


वित्त मंत्री को बदलने के लगाए नारे 

पीएसपीसीएल मुलाजिमाें ने जालंधर, लुधियाना, कपूरथला, फिरोजपुर, मुक्तसर, मानसा, बटाला, होशियारपुर, गुरदासपुर समेत सभी जिलों मेंें हड़ताल की। पटियाला हेड ऑफिस के तीनों गेट बंद  कर वित्तमंत्री को बदलने के नारे लगाए।

सरकार का अर्थ तंत्र

  • 35 हजार करोड़ बकाया है सरकार पर
  • 60  करोड़ सिर्फ कर्मचारियों का डीए, एरियर का ही है
  • 05  हजार करोड़ के विभिन्न विभागों के बिल भी पेंडिंग पड़े हैं
  • 41  सौ करोड़ जीएसटी का सरकार को नहीं मिला है
  • 2.13  लाख करोड़ का कर्ज है, जिसका ब्याज ही पौने 5 करोड़ दे रही है
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना