पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Local
  • Punjab
  • Amritsar
  • Amritsar News In The Name Of Beautification The Private Builder Has Cut The Roots Of A Dozen Trees In Shakttar Bagh Several Uproots

सौंदर्यीकरण के नाम पर प्राइवेट बिल्डर ने सकत्तरी बाग के एक दर्जन पेड़ों की जड़ें काटीं, कई उखाड़े

एक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
एशियन डेवलपमेंट बैंक (एडीबी) की मदद और पंजाब हेरिटेज एवं टूरिज्म प्रमोशन बोर्ड की तरफ से अमृतसर शहर में सुल्तानविंड से गेट खजाना तक हाेने वाले सड़क के सौंदर्यीकरण के नाम पर सकत्तरी बाग के दर्जनभर पेड़ों की जड़ें काट दी गई हैं। जड़ें कटने से ज्यादातर पेड़ सूख गए जिन्हें उखाड़ दिया गया। कुछ पेड़ अाधे सूख चुके हैं। हैरानी वाली बात ये है कि सरेआम हरियाली काे पहुंचाए जा रहे इस नुकसान की जिम्मेदारी लेने के लिए कोई भी सरकारी महकमा तैयार नहीं हैं औैर एक-दूसरे पर ठीकरा फाेड़ रहे हैं। सीपीडब्ल्यूडी की अाेर से प्रोजेक्ट का काम प्राइवेट बिल्डर दीपक बिल्डर काे दिया गया है। इस प्रोजेक्‍ट के दायरे में सकत्तरी बाग की सड़क भी अाती है। यहां सड़क के साथ-साथ बनी बाग की पुरानी दीवार काे गिराकर नई दीवार बनाई जानी है। इस दीवार के साथ बाग के अंदर बहुत सारे पेड़ हैं। इनमें से कुछ पेड़ ताे 10 से 25 साल पुराने हैं। दीपक बिल्डर के कर्मचारियों ने जब बाग की पुरानी दीवार गिराई ताे उसके साथ लगे पेड़ाें की जड़ें भी काट दीं। इसके कारण यहां लगे दर्जनभर पेड़ सूख चुके हैं। जबकि प्रोजेक्‍ट की डीपीआर में इन पेड़ाें काे दूसरी जगह शिफ्ट किया जाना था। इस प्रोजेक्ट की मॉनिटरिंग की जिम्मेदारी पंजाब हेरिटेज एवं टूरिज्म प्रमोशन बोर्ड की है। बाेर्ड के प्रोजेक्ट मैनेजर एआर मिश्रा से बात की गई ताे उनका कहना था कि वह रेगुलर रूप से मॉनिटरिंग करते हैं। उनकी अाेर से काम करने वालों को स्पष्ट हिदायत है कि किसी भी पेड़ को नुकसान नहीं पहुंचना चाहिए। फिर भी अगर किसी पेड़ काे नुकसान पहुंचाया गया है ताे उसका नोटिस लिया जाएगा। वैसे यह एरिया नगर निगम के तहत अाता है औैर सकत्तरी बाग की देखरेख का जिम्मा नगर निगम के ही फॉरेस्ट विंग के पास है मगर उसके कर्मचारियों ने भी बाग के पेड़ाें काे पहुंचाए जा रहे नुकसान काे अनदेखा कर दिया।

सकत्तरी बाग में काम के दौरान उखाड़े गए पेड़ (दाएं) पेड़ों को काटकर उस जगह पर काम करते मजूदर।

क्या हाेना है सौंदर्यीकरण में : गुरुद्वारा शहीदां साहिब को जाने वाले वाली मुख्य सड़क को चाैड़ी, सुंदर बनाने के लिए कुल 32.54 करोड़ रुपए खर्च किए जाने हैं। इसके तहत सुल्तानविंड गेट से खजाना गेट तक 3.20 किलोमीटर लंबी सड़क के किनारे किए गए अवैध कब्जे हटाए जाने हैं। यहां पार्किंग, साइकिल ट्रैक औैर पार्क बनाने की प्लानिंग है।

0

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- समय पूर्णतः आपके पक्ष में है। वर्तमान में की गई मेहनत का पूरा फल मिलेगा। साथ ही आप अपने अंदर अद्भुत आत्मविश्वास और आत्म बल महसूस करेंगे। शांति की चाह में किसी धार्मिक स्थल में भी समय व्यतीत ह...

और पढ़ें