पर्यावरण संरक्षण / आईआरएस रोहित ने 150 वर्टिकल गार्डन किए तैयार, लिम्का बुक में दर्ज हुआ नाम



एक वर्टिकल गार्डन मेें आईआरएस अधिकारी रोहित मेहरा। एक वर्टिकल गार्डन मेें आईआरएस अधिकारी रोहित मेहरा।
X
एक वर्टिकल गार्डन मेें आईआरएस अधिकारी रोहित मेहरा।एक वर्टिकल गार्डन मेें आईआरएस अधिकारी रोहित मेहरा।

  • रोहित अब तक 4 लाख 46 हजार पौधे लगा चुके हैं
  • 31 दिसंबर 2020 तक एक करोड़ पौधे लगाने का टारगेट रखा

Dainik Bhaskar

Mar 25, 2019, 07:37 AM IST

अमृतसर. पर्यावरण को हरा-भरा रखने के आईआरएस अधिकारी रोहित मेहरा पूरे देश भर में अब तक 150 वर्टिकल गार्डन तैयार कर चुके हैं। अब उनका नाम लिम्का बुक ऑफ रिकार्ड में दर्ज हुआ है। उन्होंने लुधियाना के इनकम टैक्स डिपार्टमैंट की बिल्डिंग में 10,183 स्केयर फीट में वर्टिकल गार्डन तैयार किया था, जो शहर का पहला सबसे बड़ा वर्टिकल गार्डन है।

 

इसके बाद उन्होंने दरबार साहिब में भी वर्टिकल गार्डन लगाया है। उनका कहना है कि जिस तरह इस समय पेड़ काटे जा रहे हैं, उससे एयर क्वालिटी इंडेक्स (एक्यूआई) काफी बढ़ता जा रहा है, जो ठीक नहीं है। इसे कंट्रोल करने के लिए वर्टिकल गार्डन सबसे बढ़िया तरीका है। इसे बड़ी ही आसानी से लगाया जा सकता है।  

 

लुधियाना में इनकम टैक्स डिपार्टमेंट के एडिश्नल ज्वाइंट कमिश्नर आईआरएस रोहित मेहरा ने पूरे देशभर में 150 के करीब वर्टिकल गार्डन लगाए हैं, जिसमें 4 लाख 46 हजार बोतलो का इस्तेमाल उन्होंने किया है। इतने ही पौधे इन बोतलों में लगा चुके हैं। उनका कहना है कि उनका लक्ष्य 31 दिसंबर 2020 तक एक करोड़ पौधे लगाने का है। इस लक्ष्य वह जरुर हासिल करेंगे।

 

यहां लगा चुके हैं गार्डन 
रोहित मेहरा ने अभी तक लुधियाना में 70, अमृतसर में 22, जालंधर में 3, नई दिल्ली में 8, बठिंडा में 3, तख्त श्री दमदमा साहिब, फिरोजपुर में 2, रुड़की में 2, मुंबई में 1, सूरत में 1 के अलावा स्कूलों आदि में भी वर्टिकल गार्डन लगा चुके हैं। इनके अलावा सरकारी दफ्तर, सैशन कोर्ट, ज्यूडिशियल कोर्ट लुधियाना, मिल्ट्री कैंप, होटल, पट्टी सब जेल, लुधियाना सब जेल व सरकारी ईमारतों पर वर्टिकल गार्डन लगाए हैं।

 

डॉ. मेहरा ने बताया कि उन्होंने जब लुधियाना में इनकम टैक्स दफ्तर में वर्टिकल गार्डन बनाया उस समय वहां का एयर क्वालिटी इंडेक्स 274 था। पंजाब एग्रीकल्चर्ल यूनिवर्सिटी के साइंटिस्ट उनके दफ्तर आए और उन्होंने सवा घंटे की मेहनत के बाद 5 सैंपल लिए, जिसमें पता चला कि उनके दफ्तर के आस-पास का एक्यूआई 78 था।

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना