पंजाब / जलियांवाला बाग के शहीदी कुएं को मिला नया रूप, गहराई तक जाएगी नजर

Jallianwala well is being given a facelift
X
Jallianwala well is being given a facelift

  • संभाल नरसंहार के शताब्दी वर्ष के तहत चल रहे सौंदर्यीकरण प्रोजेक्ट की पहली कड़ी में कुएं का 85 फीसदी काम पूरा
  •  

दैनिक भास्कर

Sep 09, 2019, 10:32 AM IST

अमृतसर. 13 अप्रैल 1919 के दिन हुए जलियांवाला बाग कांड की शताब्दी को समर्पित चल रहे सौंदर्यीकरण प्रोजेक्ट की पहली कड़ी में शहीदी कुएं का काम 85 फीसदी तक पूरा कर लिया गया है। इसके साथ ही बाग के अन्य हिस्सों में काम जारी है।

 

केंद्रीय सांस्कृतिक मंत्रालय की पहल पर चल रहे इस काम को इस साल के 13 अप्रैल से शुरू किया गया था। आर्कियोलोजिकल सर्वे ऑफ इंडिया (एएसआई) की देखरेख में चल रहा यह प्रोजेक्ट 20 करोड़ की लागत का है।
एयरकंडीशंड विजिटर गैलरी, थ्री-डी थियेटर बनेगा, दीवारों-समाधि पर लगे गोलियों के निशानों का होगा संरक्षण।

 

नया रूप
प्रोजेक्ट के लाइट एंड साउंड प्रोग्राम, वातानुकूलित विजिटर गैलरी, दीवारों व समाधि पर लगे गोलियों के निशान का संरक्षण, थ्री-डी थियेटर, प्रवेश गैलरी समेत अन्य काम भव्य रूप से हो रहा है। खैर, शहीदी कुएं का काम आखिरी दौर में है।

 

बताते चलें कि काम शुरू होने के वक्त जब कुएं का ऊपरी हिस्सा गिराया गया था उस वक्त लोगों ने बड़ा विवाद पैदा किया था। फिलहाल अब कुआं ब्ल्यू प्रिंट के मुताबिक तैयार हो चुका है।

 

200 साल पुराना कुआं

कुएं की उम्र 200 साल के करीब मानी जाती है। 60 के दशक में इसे संरक्षित किया गया। फिलहाल नए तैयार हुए कुएं की गहराई 44 फीट चौड़ाई 18 फीट और ऊंचाई 12 फीट है। इसे ऐसा बनाया गया है कि उसके बाहर से ही भीतर का सारा दृश्य देखा जा सकता है।

 

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना