करतारपुर कॉरिडोर / प्रधानमंत्री मोदी के सभास्थल और टेंट सिटी में भरा पानी, उद्घाटन से पहले बढ़ी दिक्कत



डेरा बाबा नानक में करतारपुर कॉरिडोर के उद्घाटन स्थल पर भरा पानी। डेरा बाबा नानक में करतारपुर कॉरिडोर के उद्घाटन स्थल पर भरा पानी।
Kartarpur Corridor Inauguration Program Of Corridor, Raining Water Logging Problem
Kartarpur Corridor Inauguration Program Of Corridor, Raining Water Logging Problem
Kartarpur Corridor Inauguration Program Of Corridor, Raining Water Logging Problem
Kartarpur Corridor Inauguration Program Of Corridor, Raining Water Logging Problem
Kartarpur Corridor Inauguration Program Of Corridor, Raining Water Logging Problem
X
डेरा बाबा नानक में करतारपुर कॉरिडोर के उद्घाटन स्थल पर भरा पानी।डेरा बाबा नानक में करतारपुर कॉरिडोर के उद्घाटन स्थल पर भरा पानी।
Kartarpur Corridor Inauguration Program Of Corridor, Raining Water Logging Problem
Kartarpur Corridor Inauguration Program Of Corridor, Raining Water Logging Problem
Kartarpur Corridor Inauguration Program Of Corridor, Raining Water Logging Problem
Kartarpur Corridor Inauguration Program Of Corridor, Raining Water Logging Problem
Kartarpur Corridor Inauguration Program Of Corridor, Raining Water Logging Problem

  • शनिवार को प्रधानमंत्री मोदी का कॉरिडोर का उद्घाटन और जनसभा का कार्यक्रम है
  • बारिश के चलते करतापुर के पैसेंजर टर्मिनल में पानी भरा, प्रशासन ने बंद किया

Dainik Bhaskar

Nov 08, 2019, 04:16 PM IST

डेरा बाबा नानक (गुरदासपुर). यहां गुरुवार रात हुई बारिश के बाद करतापुर कॉरिडोर उद्घाटन के कार्यक्रम स्थल में पानी भर गया। शनिवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को यहां से कॉरिडोर का उद्घाटन करना है। कार्यक्रम स्थल के साथ ही संगत के ठहरने के लिए पंजाब सरकार की ओर से तैयार करवाई गई टेंट सिटी, यात्री टर्मिनल, कंट्रोल रूम में भी पूरी तरह पानी भर गया। ऐसे में यहां अब जनसभा होने पर संशय खड़ा हो गया है।

डेरा बाबा नानक में बने पैसेंजर टर्मिनल को सुरक्षा कारणों के चलते बंद कर दिया गया। इसका उद्घाटन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को करना है। साथ ही, टर्मिनल से 7 किलोमीटर पहले शिकार माछिया ग्राउंड में भी पानी भर गया है। यहां मोदी को जनसभा को संबोधित करना है। यहां टेंट उखड़ गए हैं। सुरक्षा कारणों से सुरक्षाबलों ने यहां फोटो खींचने पर पाबंदी लगा दी है।

गुरुवार को बारिश के साथ ही आंधी भी आई। इससे उद्घाटन स्थल के आसपास जिन लोगों ने खेतों में अपनी गाड़ियों को खड़ा किया था, वो भी गाड़ियां नहीं निकाल पा रहे हैं। टेंट सिटी में पानी भरने के चलते यहां ठहरे हुए यात्री वैकल्पिक स्थानों की तलाश करते नजर आए। प्रशासन ने उन्हें आसपास के स्कूलों में ठहराया है।

सिर्फ यही नहीं, गांवों के सरपंचों की मदद भी ली जा रही है। गांवों के घरों में संगत के ठहरने का इंतजाम किया गया है। हालांकि, गुरुवार को श्रद्धालुओं की संख्या कम थी। लेकिन शुक्रवार और शनिवार को यहां आने वाली श्रद्धालुओं की संख्या ज्यादा होगी। ऐसे में जिला प्रशासन के पसीने छूट रहे हैं।

 

उधर, पंजाब और केंद्र सरकार द्वारा अपनी-अपनी अलग स्टेज लगाने, पहले जत्थे में आम लोगों को न ले जाने की नाराजगी भी यहां पहुंची संगत में साफ नजर आ रही है। बलजिंदर सिंह का कहना है कि बाबा नानक तो भाई लालो (गरीब, ईमानदार) के साथ ही रहे हैं, लेकिन सरकारें मलिक भागो (अमीरों और भ्रष्ट) को ले जा रही हैं। बाबा नानक का प्रकाशोत्सव मना रहे हैं और अपनी अपनी डफली बजाने के लिए दो-दो स्टेज लगा रहे हैं। आज इस तेज बरसात ने सारी स्टेज बर्बाद करके बता दिया कि बाबा नानक के नाम पर राजनीति चमकाना सही नहीं है।

 

 

DBApp

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना