• Home
  • Punjab
  • Amritsar
  • परिदों के पानी वाले बर्तन में भी पनप रहे डेंगू के मच्छर
--Advertisement--

परिदों के पानी वाले बर्तन में भी पनप रहे डेंगू के मच्छर

अगर आप सेवा भावना से प्रेरित होकर परिंदों को दाना-पानी देते हैं तो उस बर्तन पर भी खास नजर रखें जिसमें उनको पानी रखा...

Danik Bhaskar | May 03, 2018, 02:00 AM IST
अगर आप सेवा भावना से प्रेरित होकर परिंदों को दाना-पानी देते हैं तो उस बर्तन पर भी खास नजर रखें जिसमें उनको पानी रखा जाता है। क्योंकि पानी के ज्यादा दिन तक बदले न जाने के कारण उसमें भी डेंगू का मच्छर पनप कर बीमारी का कारण बन सकता है। जिला सेहत विभाग की टीम ने डेंगू, मलेरिया और पीलिया की रोकथाम के लिए चलाई गई मुहिम के तहत इस को लेकर लोगों को आगाह कर रही है। हालांकि अभी इस साल ऐसा कोई मामला नहीं मिला है लेकिन पिछली साल के मामलों को देखते हुए इस तरफ खास नजर रखी जा रही है।

सिविल सर्जन डॉ. हरदीप सिंह घई के दिशानिर्देश तथा जिला मलेरिया अफसर डॉ. मनमोहन की अगुवाई वाली टीम ने पहली मार्च से जिले भर में मुहिम चला रही है। इसके तहत गांव व शहर सभी इलाकों के लिए 3-3 लोगों की 15 टीमें काम कर रही हैं। यह जगह-जगह जाकर पीने के पानी, साफ-सफाई की चैकिंग तो कर ही रही हैं बल्कि जहां पर पानी खड़ा रहता है उस बारे भी लोगों को सचेत कर रही हैं। इस दौरान अगर कहीं पानी में दिक्कत आती है तो लोगों को क्लोरीन की गोलियां बांटने के अलावा स्प्रे तथा फागिंग भी की जा रही है। डॉ़. मनमोहन का कहना है कि चूंकि मौसम गर्मी और नमी वाला है ऐसे में मच्छर के पनपने की आशंका ज्यादा रहती है इसलिए खास ख्याल रखा जा रहा है।

चेतावनी

सेहत विभाग की टीम ने डेंगू की रोकथाम के लिए चलाई मुहिम के तहत परिदों की सेवा करने वालों को किया आगाह

डेंगू की रोकथाम के लिए परिंदों को पानी पिलाने वाले बर्तन को चेक करता सेहत विभाग का मुलाजिम।

साफ पानी पर खास नजर

डॉ. मदन मोहन ने बताया कि डेंगू का मच्छर साफ पानी में पनपता है। इसलिए लोगों को जागरूक किया जा रहा है कि पीने के पानी को ढक कर रखें। वाहनों के खुले पड़े टायरों इधर-उधर पड़े पुराने बर्तनों में पानी न जमा होने दें। उन्होंने बताया कि शहरों में लोग जगह-जगह परिदों को दाना-पानी की व्यवस्था करते हैं। इसी तरह से घरों की छतों पर भी उनको पीने के लिए मिट्टी के बर्तन लगाए जाते हैं। देखने में आया है कि उसमें हमेशा पानी भरा रहता है। उनका कहना है कि इस पानी में डेंगू की मच्छर के पनपने की संभावना ज्यादा रहती है। इसलिए कम से कम हफ्ते में इस बर्तन को खाली करके कपड़े से सुखा लें फिर पानी रखें। गत साल कुछ ऐसे मामले सामने आए थे। खैर, टीम इस पहलू पर खास नजर रख रही है।