Hindi News »Punjab »Amritsar» ढाई घंटे में 15 चोर जेसीबी से निकाल ले गए बीएसएनएल की 15 लाख की केबल

ढाई घंटे में 15 चोर जेसीबी से निकाल ले गए बीएसएनएल की 15 लाख की केबल

बीएसएनएल का मेनहोल, जहां से चोर तार निकाल कर फरार हो गए। रात को शादी से लौट रहे मुलाजिमों ने पूछताछ की तो खिसक गए,...

Bhaskar News Network | Last Modified - May 01, 2018, 03:05 AM IST

  • ढाई घंटे में 15 चोर जेसीबी से निकाल ले गए बीएसएनएल की 15 लाख की केबल
    +1और स्लाइड देखें
    बीएसएनएल का मेनहोल, जहां से चोर तार निकाल कर फरार हो गए।

    रात को शादी से लौट रहे मुलाजिमों ने पूछताछ की तो खिसक गए, जेसीबी और ड्राइवर पकड़ा

    कंपनी के 1500 लैंडलाइन फोन और 1300 ब्राॅडबैंड कनेक्शन हो गए बंद

    भास्कर न्यूज | अमृतसर

    मजीठा रोड पर रविवार रात 15 चोरों ने बीएसएनएल के मेनहोल में से 800 मीटर केबल चोरी कर ली। रात 12 बजे से ढाई बजे के बीच चुराई गई इस केबल की कीमत 15 लाख रुपए के आसपास है। इसका पता तब चला जब शादी से लौट रहे बीएसएनएल के 3 मुलाजिमों ने कुछ लोगों को जेसीबी की मदद से केबल निकालते देखकर उनसे सवाल-जवाब शुरू किए। पूछताछ करने पर चोर तो खिसक गए, मगर जेसीबी और उसके ड्राइवर को बीएसएनएल मुलाजिमों ने पकड़ लिया। सूचना मिलने के बाद पुलिस ने जेसीबी ड्राइवर और 15 अज्ञात चोरों पर केस दर्ज कर लिया।

    बीएसएनएल मुलाजिम अश्वनी कुमार, हरदीप सिंह और हेमंत रविवार रात शादी से लौट रहे थे। रात 2.20 बजे जब तीनों बाइपास से आते हुए 88 फीट रोड के नजदीक पहुंचे तो देखा कि 15 लोग एक जेसीबी की मदद से मेनहोल से केबल निकाल रहे थे।

    शक होने पर जब पूछा तो उन लोगों ने खुद को एक निजी टेलीफोन कंपनी का मुलाजिम बताया और कहा कि वह अपनी कंपनी का काम कर रहे हैं। इस पर बीएसएनएल मुलाजिमों ने कहा कि जिस मेनहोल से केबल निकाली जा रही है, वह सरकारी है। बीएसएनएल मुलाजिमों ने अफसरों को इसकी जानकारी देते हुए जब उन लोगों से अपनी कंपनी का लेटर और आईकार्ड दिखाने को कहा गया तो वह खिसक गए। हालांकि बीएसएनएल मुलाजिमों ने जेसीबी ड्राइवर बरखा सिंह को पकड़कर पुलिस हेल्पलाइन पर फोन कर दिया। मौके पर पहुंची सदर थाना पुलिस के साथ जब बीएसएनएल मुलाजिमों ने रूट चेक किया तो 800 मीटर केबल गायब मिली। तांबे की इस केबल की कीमत 15 लाख रुपए के आसपास थी।

    जेसीबी ड्राइवर तरनतारन का रहने वाला

    सदर थाने के एएसआई मलकीत सिंह ने बताया कि जेसीबी चालक बरखा सिंह तरनतारन का रहने वाला है और हरमिंदर सिंह भुल्लर नामक शख्स के पास नौकरी करता है। अब तक की पूछताछ के अनुसार, कुछ लोग बरखा सिंह के पास आए थे और केबल निकालने के बदले अच्छे पैसे का लालच दिया था। पुलिस ने जेसीबी चालक को भी बुलाया है।

    मुलाजिमों ने मौके पर जेसीबी और उसके ड्राइवर को पकड़ लिया।

    हो सकता था एक करोड़ का नुकसान :बीएसएनएल के एसडीओ केएस पन्नू ने बताया कि काॅपर की बनी होने के कारण अंडरग्राउंड केबल महंगी होती हंै। अगर कर्मचारी हिम्मत न दिखाते तो चोर एक करोड़ रुपए के आसपास की केबल चुरा ले जाते। केबल चोरी होने से इलाके में चलने वाले बीएसएनएल के करीब 1500 लैंडलाइन फोन और 1300 ब्राॅडबैंड कनेक्शन बंद हो गए।

  • ढाई घंटे में 15 चोर जेसीबी से निकाल ले गए बीएसएनएल की 15 लाख की केबल
    +1और स्लाइड देखें
आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Amritsar

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×