पंजाब / रेड करने पहुंची पुलिस टीम पर हमला, पूर्व सरपंच ने एसआई को पीटा



अमृतसर के चौगांवां में पुलिस अफसर के मुंह पर मारी गई लात की तस्वीर। अमृतसर के चौगांवां में पुलिस अफसर के मुंह पर मारी गई लात की तस्वीर।
people including ex sarpanch beaten the police team while they reached to raid
people including ex sarpanch beaten the police team while they reached to raid
people including ex sarpanch beaten the police team while they reached to raid
X
अमृतसर के चौगांवां में पुलिस अफसर के मुंह पर मारी गई लात की तस्वीर।अमृतसर के चौगांवां में पुलिस अफसर के मुंह पर मारी गई लात की तस्वीर।
people including ex sarpanch beaten the police team while they reached to raid
people including ex sarpanch beaten the police team while they reached to raid
people including ex sarpanch beaten the police team while they reached to raid

  • अमृतसर जिले के चौगांवां में सुबह करीब 7 बजे रेड करने पहुंची थी तरनतारन जिले से पुलिस टीम
  • घायल एसआई का कहना-10 सितम्बर को 152 ग्राम हेरोइन के साथ गिरफ्तार दो युवकों की निशानदेही पर आई थी पुलिस
  • सर्विस रिवॉल्वर छीन लातों-घूंसों से मारने का आरोप, पूर्व सरपंच बोला-दूसरे सरपंच के कहने पर तंग कर रहा पुलिस वाला

Dainik Bhaskar

Sep 13, 2019, 06:36 PM IST

अमृतसर. अमृतसर जिले के चौगांवां में सुबह अचानक पंजाब के जिला तरनतारन की पुलिस ने आकर रेड कर दी। इसके बाद गांव के लोगों ने पुलिस टीम को बंधक बना लिया और खूब पीटा। खासकर सब इंस्पेक्टर बलदेव सिंह को तो जमीन पर पटककर पूर्व सरपंच ने लातों से मारा। शिरोमणि अकाली दल के समर्थक पूर्व सरपंच का आरोप है कि निजी रंजिश के चलते गांव नरवेल के इशारों पर चलकर उसका रिश्तेदार सब इंस्पेक्टर बलदेव सिंह बिना मतलब परेशान कर रहा है। हेरोइन के झूठे केस में फंसाने की धमकी दे 2 लाख रुपए मांग रहा है।

 

सब इंस्पेक्टर बलदेव सिंह का कहना है कि 10 तारीख को तरनतारन जिले में उनके थाने में यहां गांव चौगांवां के संदीप सिंह सन्नी और हरविंदर सिंह रिंका नामक एक युवक को 152 ग्राम हेरोइन के साथ गिरफ्तार कर केस दर्ज किया गया। उन्हें आज कोर्ट में पेश करना था, वहीं उनकी निशानदेही पर आज सुबह यहां चौगांवां में अमनदीप सिंह के घर पुलिस टीम रेड करने पहुंची थी। सुबह 7 बजे के करीब जब टीम यहां पहुंची तो पूर्व सरपंच जितेंद्र सिंह और अमनदीप सिंह ने लगभग 50 लोगों के साथ मिलकर टीम पर हमला बोल दिया। जबरदस्ती खींचकर मारपीट शुरू करते हुए लगभग 50 मिनट तक घर के अंदर बंधक बनाए रखा और लात-घूंसों से मारा। सर्विस रिवॉल्वर भी छीन लिया। इतना ही नहीं, उसे लोड भी कर लिया। भुल्लरां से सरपंच ने छुड़वाया। इसी बीच सूचना पाकर लोकल टीम भी मौके पर पहुंच गई।

 

दूसरी ओर पूर्व सरपंच जितेंद्र और नशे में आरोपी बताए जा रहे अमनदीप का आरोप है कि वो शिरोमणि अकाली दल बादल पार्टी से ताल्लुक रखते हैं, जबकि मौजूदा सरपंच नरवेल सिंह कांग्रेस पार्टी का है। उसी के इशारे पर सब इंस्पेक्टर बलदेव सिंह उन्हें तंग कर रहा है। हेरोइन के झूठे केस में फंसाने की धमकी देते हुए 2 लाख रुपए की मांग भी की थी। इसी साजिश के चलते बलदेव सिंह अपनी पुलिस पार्टी के साथ उनके घर पहुंच गया। साथ ही गांव वालों का कहना है कि सब इंस्पेक्टर बलदेव सिंह खुद भी हीरोइन का नशा करता है और आज भी है सुबह नशा किए हुए था।

 

उधर सूचना पाकर अमृतसर के नजदीकी थाने से मौके पर पहुंचे प्रभारी हरपाल सिंह का कहना है कि पुलिस पर हमले की सूचना के बाद वह टीम के साथ यहां आए थे। उन्होंने ही बंधक बनाई गई टीम को छुड़वाया। दोनों पक्षों की बात सुनी जाएगी और उसके बाद ही कार्रवाई की जाएगी।

 

 

DBApp

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना