कार्रवाई / शिवसेना नेता हनी महाजन और पड़ोसी दुकानदार पर हमले के आरोपियाें के स्कैच जारी

गुरदासपुर पुलिस की तरफ से जारी किए शिवसेना नेता पर हमले के आरोपियों के स्कैच। गुरदासपुर पुलिस की तरफ से जारी किए शिवसेना नेता पर हमले के आरोपियों के स्कैच।
कस्बा धारीवाल के अशोक कुमार की फाइल फोटो, जिनकी फायरिंग में मौत हो गई थी। कस्बा धारीवाल के अशोक कुमार की फाइल फोटो, जिनकी फायरिंग में मौत हो गई थी।
हमले में घायल शिवसेना हिंदुस्तान के नेता हनी महाजन। फाइल फोटो हमले में घायल शिवसेना हिंदुस्तान के नेता हनी महाजन। फाइल फोटो
घटना के विरोध में प्रदर्शन करते परिचित और शिवसेना कार्यकर्ता। घटना के विरोध में प्रदर्शन करते परिचित और शिवसेना कार्यकर्ता।
X
गुरदासपुर पुलिस की तरफ से जारी किए शिवसेना नेता पर हमले के आरोपियों के स्कैच।गुरदासपुर पुलिस की तरफ से जारी किए शिवसेना नेता पर हमले के आरोपियों के स्कैच।
कस्बा धारीवाल के अशोक कुमार की फाइल फोटो, जिनकी फायरिंग में मौत हो गई थी।कस्बा धारीवाल के अशोक कुमार की फाइल फोटो, जिनकी फायरिंग में मौत हो गई थी।
हमले में घायल शिवसेना हिंदुस्तान के नेता हनी महाजन। फाइल फोटोहमले में घायल शिवसेना हिंदुस्तान के नेता हनी महाजन। फाइल फोटो
घटना के विरोध में प्रदर्शन करते परिचित और शिवसेना कार्यकर्ता।घटना के विरोध में प्रदर्शन करते परिचित और शिवसेना कार्यकर्ता।

  • 10 फरवरी को देर शाम करीब साढ़े 6 बजे गुरदासपुर जिले के कस्बा धारीवाल में दुकान के बाहर खड़े हनी पर चलाई थी अज्ञात ने गोलियां
  • पुलिस का कहना-गोलीकांड के बाद बडाला बांगर में हादसे का शिकार हो ली थी लोगाें की मदद, उन्हीं की जानकारी पर बने स्कैच

दैनिक भास्कर

Feb 13, 2020, 09:01 PM IST

गुरदासपुर. गुरदासपुर जिले के धारीवाल में तीन दिन पहले एक शिवसेना नेता और पड़ोसी दुकानदार पर हमले के मामले में पुलिस ने गुरुवार को आरोपियों के स्कैच जारी किए हैं। पुलिस के मुताबिक बीते दिनों शिवसेना हिंदुस्तान के युवा पंजाब प्रधान हनी महाजन पर कार सवार बदमाशों ने गोलियां चलाई थी। इस दौरान महाजन के निकट खड़े एक दुकानदार अशोक कुमार की मौत हो गई थी, वहीं महाजन खुद भी घायल हो गए थे। हमलावरों की पहचान की कोशिशें जारी हैं, इन्हीं के चलते आज ये दोनों स्कैच जारी किए गए हैं।

घटना सोमवार 10 फरवरी देर शाम करीब साढ़े 6 बजे गुरदासपुर जिले के कस्बा धारीवाल की है, जब शिवसेना हिंदुस्तान उत्तरी भारत के यूथ विंग के प्रधान हनी महाजन पुत्र राकेश महाजन डडवां रोड पर स्थित अपनी दुकान के बाहर खड़े थे। पड़ोसी दुकानदार अशोक कुमार पुत्र जगदीश कुमार भी पास अपनी किरयाने की दुकान पर था। अचानक एक स्विफ्ट कार आकर रुकी। इसमें से उतरे दो अज्ञात लोग गाड़ी का शीशा साफ करने लगे और इससे पहले कि कोई समझ पाता, दोनों अज्ञात ने हनी महाजन पर अंधाधुंध फायरिंग करनी शुरू कर दी।

हनी की टांगों पर तीन गोलियां लगी, जबकि अशोक कुमार के सिर व छाती पर भी गोलियां लगी। हमलावर अंधेरे का फायदा उठाकर अपनी गाड़ी सहित मौके से फरार हो गए, वहीं आसपास के लोगों ने हनी और अशोक को सिविल अस्पताल में भर्ती करवाया। वहां डॉक्टरों ने अशोक कुमार को मृत घोषित कर दिया और हनी महाजन को अमृतसर रेफर कर दिया था।

इस मामले की जांच कर रही पुलिस का कहना है कि आरोपी गोलीकांड के बाद मौके से भागने के बाद पहले नानो हारनिया गांव गए और वहां से बडाला बांगर की तरफ गए। बडाला बांगर के पास आरोपियों की कार संतुलन खोकर खेतों में चली गई थी। कार खेत से बाहर निकालने के लिए वहां पर आरोपियों को कुछ स्थानीय लोगों की मदद लेनी पड़ी थी। उस समय, जाहिर है, ग्रामीणों को नहीं पता था कि यह लोग क्या कांड कर आए हैं। इन्हीं लोगों से पूछताछ के आधार पर आरोपियों के स्कैच तैयार करवाए गए हैं। पुलिस ने कहा कि आरोपियों के बारे में किसी के पास जानकारी हो तो वह गुरदासपुर जिला पुलिस अधीक्षक से संपर्क कर सूचना दे सकता है। सूचना देने वाले का नाम गुप्त रखा जाएगा।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना