पंजाब / राजनीति छीन सकती है पठानकोट से एनएसजी सेंटर, सनी देओल ने गृह मंत्री को लिखा पत्र

गुरदासपुर के सांसद सनी देओल। गुरदासपुर के सांसद सनी देओल।
X
गुरदासपुर के सांसद सनी देओल।गुरदासपुर के सांसद सनी देओल।

  • अमृतसर और पठानकोट जिला प्रशासन से मांगी गई थी एनएसजी के रिजनल सेंटर के लिए 25 एकड़ जमीन
  • जमीन उपलब्ध कराने और नहीं कराने को लेकर नगर निगम व जिला प्रशासन आमने-सामने
  • मेयर ने सांसद सनी देओल को कराया जिला प्रशासन की राजनीति से अवगत

दैनिक भास्कर

Oct 11, 2019, 06:37 PM IST

पठानकोट. देश की सरकार की तरफ से नेशनल सिक्योरिटी गार्ड का रिजनल सेंटर बनाए जाने के फैसले को लेकर गुरदासपुर के सांसद सनी देओल ने गृह मंत्रालय को चिट्‌ठी लिखी है। इस चिट्‌ठी में सनी ने गृह मंत्रालय से मांग की है कि एनएसजी का यह सेंटर हर हाल में पठानकोट में ही बनना चाहिए।

 

असल में इस मांग के पीछे की वजह की बात करें तो मंत्रालय की तरफ से पठानकोट और अमृतसर जिला प्रशासन को पत्र लिख प्लान किए जा रहे एनएसजी सेंटर के लिए 25 एकड़ जमीन की जरूरत के बारे में बताया। इसके बाद पठानकोट जिला प्रशासन और नगर निगम आमने-सामने हो गए हैं। ऐसे में अगर जमीन नहीं मिली तो यह सेंटर अमृतसर भी शिफ्ट किया जा सकता है। अब यह मामला गुरदासपुर के सांसद सनी देयोल के पास पहुंच गया है। मिली जानकारी के अनुसार मेयर अनिल वासुदेवा ने जमीन मुहैया न करवाने के मामले में जिला प्रशासन की ओर से राजनीति करने की शिकायत सनी देओल से की है।

 

इस शिकायत के बाद सनी ने गृह मंत्रालय को पत्र लिखा है। पत्र में उन्होंने बताया कि पाकिस्तान की सीमा के साथ लगने वाला पठानकोट अतिसंवेदनशील क्षेत्र है। एनएसजी का सेंटर पठानकोट से किसी दूसरी जगह शिफ्ट नहीं किया जाना चाहिए।

 

दूसरी ओर इस बारे मेमेयर अनिल वासुदेवा का कहना है कि सांसद सनी देओल दिल्ली में ही हैं। वह गृहमंत्री अमित शाह से मिलकर खुद इस मामले को उठाएंगे। उन्होंने कहा कि इतने बड़े प्रोजेक्ट पर राजनीति की जा रही है, लेकिन इस सेंटर को पठानकोट से कहीं दूसरी जगह शिफ्ट नहीं होने दिया जाएगा।

 

 

DBApp

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना