रानी का बाग में वेरका मिल्क बूथ मालिक ने चेतावनी के बाद बिना परमिशन लगाए शटर और ग्रिल खुद उतारीं

Amritsar News - नगर निगम एस्टेट विभाग की टीम ने रविवार को छुट्टी वाले दिन भी रानी का बाग में जाकर वेरका मिल्क बूथ की तरफ से अवैध तौर...

Nov 11, 2019, 07:25 AM IST
नगर निगम एस्टेट विभाग की टीम ने रविवार को छुट्टी वाले दिन भी रानी का बाग में जाकर वेरका मिल्क बूथ की तरफ से अवैध तौर पर लगाया जा रहा शटर व ग्रिल उतरवाईं। नगर निगम कमिश्नर को इस संबंध में शिकायत मिली थी कि बूथ वाले की तरफ से फुटपाथ पर ही अवैध ढंग से शटर और ग्रिलें लगाई जा रही हैं, जिसके बाद एस्टेट अफसर सुशांत भाटिया को वहां टीम भेजकर कार्रवाई करने को कहा गया।

विभाग की टीम सुबह 11 बजे रानी का बाग पहुंची और बूथ वालों को कहा कि वह या तो खुद ही शटर व ग्रिलें हटवा लें नहीं तो डिच की मदद से कार्रवाई की जाएगी। इसके बाद बूथ वाले ने कहा कि वह खुद ही शटर और ग्रिल उतरवा लेगा। जिसपर उसने अपनी लेबर बुलाकर सब कुछ उतरवा लिया। रानी का बाग से इलाके वालों की शिकायत मिलने पर एस्टेट विभाग की तरफ से वहां लगने वाली रेहड़ियां हटवाई गई हैं। वहीं एक रेहड़ी वाले की तरफ से अभी भी वहां पर जूस व अन्य खाने-पीने के सामान की तीन रेहड़ियां लगाई हुई हैं। एस्टेट विभाग ने उसे चेतावनी दी कि अगर उसने खुद ही रेहड़ियां नहीं हटाई तो विभाग कार्रवाई करेगा और वह अपने नुकसान का खुद जिम्मेदार होगा। निगम ने रेहड़ी वालों और खोखे वालों के स्पष्ट किया कि स्मार्ट सिटी के तहत प्रोजेक्टों को सिरे चढ़ाने के लिए खोखे हटाए जा रहे हैं। तहबाजारी बंद होने के बाद खोखों की पर्ची नहीं काटी जा रही।

रानी का बाग में वेरका मिल्क बूथ पर एस्टेट विभाग की टीम के पहुंचने पर शट्टर लगाने का काम और ग्रिल हटाते हुए मजदूर।

X

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना